Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

फर्जी तस्वीरें शेयर कर PAK चैनल का दावा- चीन के हमले में मारे गए 158 भारतीय सेना, जानें वायरल खबर का सच

Patrika news network Posted: 2017-07-17 23:16:20 IST Updated: 2017-07-17 23:16:20 IST
फर्जी तस्वीरें शेयर कर PAK चैनल का दावा- चीन के हमले में मारे गए 158 भारतीय सेना, जानें वायरल खबर का सच
  • पाकिस्तान की दुनया टीवी चैनल में ऐसी तस्वीरें दिखाई गई हैं। जिसमें दावा किया जा रहा है कि सिक्किम में चीन की सेना ने सीमा पर रॉकेट के जरिए भारी गोलाबारी की है।

नई दिल्ली।

सिक्किम बॉर्डर पर डोकलाम को लेकर पिछले कई दिनों से भारत और चीन की सेना के बीच गतिरोध बना हुआ है। जहां दोनों देश अपने रुख को लेकर किसी भी तरह की बात स्वीकार करने के लिए राजी नहीं है। तो वहीं इस मौके का फायदा उठाकर पाकिस्तान के एक न्यूज चैनल इस झूठी खबर के जरिए भारत के खिलाफ प्रोपगैंडा फैला रहा है। 



पाकिस्तान की दुनया टीवी चैनल में ऐसी तस्वीरें दिखाई गई हैं। जिसमें दावा किया जा रहा है कि सिक्किम में चीन की सेना ने सीमा पर रॉकेट के जरिए भारी गोलाबारी की है। जिसमें भारतीय चौकियों को तबाह कर दिया गया है। साथ ही ये तस्वीरें सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही हैं।



पाक स्थित एक टीवी चैनल का दावा है कि सिक्किम बॉर्डर पर चीनी सैनिकों की ओर से जारी रॉकेट हमले में भारतीय चेक पोस्ट को बर्बाद कर दिया है, तो वहीं इस हमले में बारत के 158 सैनिक मारे गए हैं। जबकि सोमवार को हुए इस हमले में कई भारतीय सैनिक गंभीर रुप से घायल हो गए हैं। तो वहीं टीवी न्यूज चैनल यहीं नहीं रुका, उसने फर्जी हमले की तस्वीरें भी वेबसाइट पर प्रकाशित कर दी। जिसके बाद तत्काल संज्ञान लेते हुए भारतीय सेना ने इसे फर्जी करार दिया है। 



पाकिस्तान चैनल में आगे लिखा है कि विवाद की शुरुआत भारतीय सैनिकों की ओर से हुई, जिसके बाद कार्यवाई करते हुए चीनी सेना ने भारत के 158 सैनिकों को मार गिराए और इसमें लगभग 2 दर्जन सेना घायल हो गई। बताया गया कि चीन ने भारतीय सेना पर रॉकेट दागे। टीवी चैनल ने दावा किया है कि इस हमले से जुड़ा दो मिनट का विडियो क्लिप चाइन सेंट्रल टेलिविजन पर चलाया गया है। 



उसका कहना कि वीडियो में चीनी सैनिक भारतीय पोस्ट पर रॉकेट लॉन्चर के जरिए हमले कर रहे हैं, तो वहीं मोर्टारों और बंदूकों के जरिए दुश्मन को अपना निशाना बनाया। तो वहीं यह झूठी खबर सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। भारतीय सेना के खंडन के बाद कुछ मीडिया रिपोर्टस ने भी इसे झूठा करार दिया है। 

rajasthanpatrika.com

Bollywood