परिजनों ने बेटे को मृत समझकर गंगा में बहाया, 11 साल बाद अचानक आया सामने

Patrika news network Posted: 2017-04-18 17:41:09 IST Updated: 2017-04-18 17:41:09 IST
परिजनों ने बेटे को मृत समझकर गंगा में बहाया, 11 साल बाद अचानक आया सामने
  • 11 साल बाद अचानक दीपक एक सपेरे के साथ खुर्जा क्षेत्र के मोहल्ला माता घाट स्थित पिन्नीनगर में सांप का खेल दिखाने पहुंच गया। इस दौरान उसके भाई राजू और ताऊ खेमा ने उसे पहचान लिया।

नई दिल्ली।

11 साल पहले दीपक को सांप ने काट लिया था। सांप के काटने से दीपक की मौत हो गई थी, परिजनों ने दीपक को मृत समझकर अवंतिका देवी घाट पर गंगा में बहा दिया।लेकिन अब वह अपने घर लौट आया है। 


अचानक दीपक एक सपेरे के साथ दिखा...

मामला बुलंदशहर के खुर्जा कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला माता घाट स्थित पिन्नीनगर का है। 11 साल बाद अचानक दीपक एक सपेरे के साथ खुर्जा क्षेत्र के मोहल्ला माता घाट स्थित पिन्नीनगर में सांप का खेल दिखाने पहुंच गया। इस दौरान उसके भाई राजू और ताऊ खेमा ने उसे पहचान लिया। 


दीपक की याददाश्त चली गई थी...

सपेरे श्यामनाथ ने बताया वह अवंतिका देवी घाट के किनारे ही मिला था, जिस पर श्यामनाथ ने उसका ईलाज किया और वह जीवित हो गया, लेकिन उसकी याददाश्त चली गई थी। अब दीपक को अपनी पुरानी जिदंगी के विषय में कुछ भी याद नहीं है।


सपेरे श्यामनाथ ने दीपक को उसके परिजनों के सुपुर्द कर दिया...

सपेरे श्यामनाथ ने भी दीपक को उसके परिजनों के सुपुर्द कर दिया है। सपेरे श्यामनाथ ने बताया कि उन्होंने कोई गांठ बांधकर रखी हुई है। उनका दावा है कि जिसे खोलने के बाद दीपक को अपनी पुरानी जिंदगी के विषय में सबकुछ याद आ जाएगा।

rajasthanpatrika.com

Bollywood