video: अब उदयपुर में देखिए Seven wonders of the world , इन्हें देख कर चौंक जाएंगे

Patrika news network Posted: 2017-03-15 20:12:38 IST Updated: 2017-03-15 20:18:52 IST
  • सेवन वंडर्स ऑफ द वल्र्ड के लिए आपको पूरी दुनिया घूमने की जरूरत नहीं है। इन्हें कोई भी उदयपुर में गणगौर घाट स्थित बागौर की हवेली के थर्माकोल में देख सकता है

राकेश शर्मा 'राजदीप'/ उदयपुर.

सेवन वंडर्स ऑफ  द वल्र्ड के लिए आपको पूरी दुनिया घूमने की जरूरत नहीं है। इन्हें कोई भी उदयपुर में गणगौर घाट स्थित बागौर की हवेली के थर्माकोल में देख सकता है। यहां रखे विशालकाय एफिल टावर, स्टेच्यू ऑफ  लिबर्टी, चाइना वॉल, हैंगिंग गार्डन, पीसा की मीनार,  मिश्र के पिरामिड, ताजमहल के अलावा विजय स्तंभ,  विंटेज कार, ग्रामोफोन, नक्कााशीदार जालियां, झरोखे व किवाड़, वाद्य यंत्र तथा पशु-पक्षियों की चित्ताकर्षक प्रतिकृतियां पर्यटकों को सम्मोहित करतीं हैं। 


मजे की बात इतनी है कि पहली नजर में देखने पर ये तमाम कृतियां मार्बल से बनी प्रतीत होती हैं। इन प्रतिकृतियों को मूर्त रूप दिया दौलतराम लुहार ने जो पूरी जिंदगी बतौर इलेक्ट्रिक इंजीनियर हिंदुस्तान जिंक में कार्यरत रहे। युवावस्था में स्कूल-कॉलेज के विद्यार्थियों के लिए थर्माकोल मॉडल बनाया करते थे। उन्हीं दिनों दौलतराम ने यह तय कर लिया था कि एक न एक दिन थर्माकोल से ही वे सेवन वंडर्स ऑफ  द वल्ड्र्स की भी विशाल प्रतिकृतियां बनाएंगे। बस फिर क्या था। अपने इजाद किए विशेष औजारों के अलावा ब्लेड, आरी और हीटिंग रॉड की सहायता से उन्होंने कुतुबमीनार हल्दीघाटी की रणस्थली, जीव-जंतु, ऑटोमोबाइल्स, बग्घी, महाराणा प्रताप, शिवाजी, मीरां बाई, सहेलियों की बाड़ी और सुखाडिय़ा सर्किल जैसे सैकड़ों मॉडल गढ़ लिए। इनमें से कई कृतियां हिरणमगरी स्थित उनके निवास पर भी संग्रहित हैं। राकेश शर्मा 'राजदीपÓ

rajasthanpatrika.com

Bollywood