Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

राजस्थान के इन दो शहरों की आबोहवा सेहत के लिए हानिकारक है, जानिए कौन-से शहर हैं ये ..

Patrika news network Posted: 2017-07-15 12:36:08 IST Updated: 2017-07-15 14:48:18 IST
राजस्थान के इन दो शहरों की आबोहवा सेहत के लिए हानिकारक  है, जानिए कौन-से शहर हैं ये ..
  • प्रदेश के सात बडे़ शहरों में आठ सीएएक्यूएमएस बता रहे प्रदूषण की स्थिति.

उदयपुर.

राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण मंडल की ओर से जयपुर सहित प्रदेश के 7 बडे़ शहरों में वायु प्रदूषण की मॉनिटरिंग के लिए 8 सीएएक्यूएमएस लगाए गए हैं। बुधवार को इनकी रिपोर्ट ली गई। अलवर में सबसे अधिक वायू प्रदूषण मिला, जबकि कोटा दूसरे नंबर पर रहा। विभाग का एप प्रदूषण के साथ लोगों यह सलाह भी दे रहा है कि वायु प्रदूषण से हृदय और फेफड़ों से जुड़ी बीमारियां हो सकती हैं। बच्चे और वृद्ध बाहर ज्यादा काम न करें। सबसे शुद्ध हवा का 82 एक्यूआई पाली का रहा। इंडेक्स में अजमेर की हवा गुणवत्ता की दृष्टि से दूसरे नंबर पर रही। उदयपुर और जयपुर भी संतोषजनक इंडेक्स में रहे। अलवर की हवा का एक्यूआई 223 रहा वहीं कोटा कोटा का 149 जो कि स्वास्थ्य के लिए सही नहीं है। बता दें कि 7 शहरों में आठ सीएएक्यूएमएस लगाने पर करीब 13 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं।



रोड नेटवर्क और बढ़ती गाडिय़ों से बढ़ रहा प्रदूषण

विशेषज्ञों का कहना है कि रोड नेटवर्क विकास तेजी से हो रहा है। सड़क और हाईवे बनाने के लिए बड़ी संख्या में पेड़ काटने पड़ते हैं। वायु प्रदूषण नियम के तहत सड़क निर्माण के लिए जिस प्रजाति के जितने पेड़ काटे जाएं, निर्माण एजेंसी को उसी प्रजाति के 3 गुना पौधे लगाने होते हैं। इस नियम की पालना कहीं नहीं की जाती है। हाईवे पर डिवाइडरों के बीच में कनेर के फूलों की झाडिय़ां लगा कर जिम्मेदारी पूरी कर ली जाती है। जिम्मेदारों की उदासीनता लोगों के स्वास्थ्य के लिए महंगी होती जा रही है। वाहनों की संख्या बढऩा भी प्रदूषण का प्रमुख कारण है।



READ MORE: अब पुलिस वाहनों पर लगेंगी बहुरंगी बत्तियां व स्टीकर, बिना स्टीकर बत्ती लगाने वाले वाहन होंगे अवैध, जानिए कौनसे वाहन होंगे इसमें शामिल



उदयपुर में हवा की गुणवत्ता की स्थिति संतोषजनक है। जहां तक हमारा अधिकार क्षेत्र है, हम सभी नियमों की पालना कराते हैं। सभी लोगों को पौधे लगाने का संकल्प करना चाहिए। पौधों की संख्या बढऩे से ही वायु मंडल में ऑक्सीजन का स्तर बढ़ेगा।

बी.आर. पंवार, क्षेत्रीय अधिकारी, प्रदूषण नियंत्रण मंडल, उदयपुर




हमारे सात प्रमुख शहरों में ऐसे हैं हाल

जयपुर हवा एक्यूआई की स्थिति

अलवर हानिकारक 223

कोटा हानिकारक 149

जोधपुर हानिकारक 143

उदयपुर संतोषनजक 113

अजमेर अच्छी 94

जयपुर अच्छी 83

पाली अच्छी 82

rajasthanpatrika.com