Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

अगर आपका सामान भी ट्रेन में छूट जाता है तो घबराइए नहीं, उदयपुर की यह खबर लगा देगी आपकी सभी शंकाओं पर विराम

Patrika news network Posted: 2017-07-16 17:00:30 IST Updated: 2017-07-16 17:00:30 IST
अगर आपका सामान भी ट्रेन में छूट जाता है तो घबराइए नहीं, उदयपुर की यह खबर लगा देगी आपकी सभी शंकाओं पर विराम
  • अमूमन लोगों का यही मानना है कि एक बार ट्रेन में सामान खो जाए तो फिर नहीं मिलता। लेकिन ये खबर पढ़ने पर आप भी ये मानने लगेंगे कि यदि प्रयत्न किए जाए तो खोया हुआ सामान ढूंढ़ना कोई मुश्किल काम नहीं है।

उदयपुर.

अक्सर ऐसा होता है कि ट्रेन से सफर के दौरान लोग अपना सामान ट्रेन में ही भूल जाते है। कई बार तो काफी किमती सामान ट्रेन में रह जाता है और व्यक्ति खोया हुआ सामान वापस मिलने की आस भी छोड़ देता है। अमूमन लोगों का यही मानना है कि एक बार ट्रेन में सामान खो जाए तो फिर नहीं मिलता। लेकिन ये खबर पढ़ने पर आप भी ये मानने लगेंगे कि यदि प्रयत्न किए जाए तो खोया हुआ सामान ढूंढ़ना कोई मुश्किल काम नहीं है।



READ MORE: Ajab Gajab: अच्छी बारिश के लिए उदयपुर में लगेगा ये अनोखा भोग, पूरा गांव जीमेगा एक साथ 


 

दरअसल उदयपुर सेक्टर 4 विद्यानगर निवासी बी.के.गुप्ता बैंच ऑफ मजिस्ट्रेट 10 जुलाई को उदयपुर से खजुराहो जाने वाली ट्रेन से जयपुर के लिए रवाना हुए थे। यात्रा के दौरान उनकी पुत्री भी उनके साथ थी। जयपुर जंक्शन पर दूसरे दिन सवेरे उतरते समय उनकी स्टील आयरन वाली ऑर्थो छड़ी कोच बी-1 की बर्थ के नीचे ही भूलवश छूट गई। गुप्ता 12 जुलाई को पुन:उदयपुर पहुंचे और उदयपुर सिटी रेलवे स्टेशन अधीक्षक को घटना की जानकारी देकर रिपोर्ट पेश की। रेलवे अधीक्षक एस.सी.वर्मा ने ट्रेन का रूट चार्ट एवं समय सारणी बनाते हुए ट्रेन कब-कब कहां-कहां पहुंची,वहां के स्टेशन मास्टर से जानकारी लेते हुए अंतिम स्टेशन खजुराहो से जानकारी ली। 



READ MORE : उदयपुर: आने वाले चुनाव के लिए अभी से शुरू तैयारियां, राहुल गांधी के सामने इस दिन करेंगे शक्ति प्रदर्शन



वहां से भी सामान की जानकारी नहीं मिलने पर अधीक्षक ने उसी ट्रेन के पुन: उदयपुर लौटने की तारीख का पता कर वार्ड निरीक्षक को कोच नम्बर बताकर सामान का पता करने को कहा। 13 जुलाई को खजुराहो से उदयपुर  लौटी ट्रेन में तलाशी के दौरान कर्मचारी कालूराम को स्टील आयरन की ऑर्थो छड़ी उसी सीट के नीचे रखी हुई मिली। रेलवे अधीक्षक ने गुप्ता को तुरंत सूचना दी व पूरे स्टाफ के सामने उन्हें उनकी छड़ी लौटाई। 

rajasthanpatrika.com

Bollywood