Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

देखेंvideo: आश्वासन पर कुर्क होने से बच गई अधिशासी अभियंता की कुर्सी

Patrika news network Posted: 2017-07-15 07:35:15 IST Updated: 2017-07-15 07:35:15 IST
  • करंट की चपेट में आने से बालिका की हुई मौत के मामले में न्यायालय केे आदेश पर विद्युत वितरण निगम के अधिशासी अभियंता की कुर्सी कुर्क करने गए अमीन व अधिवक्ता अभियंता के आश्वासन पर वापस आ गए।

टोंक

टोंक. पीपलू के लोहरवाड़ा में तीन साल पहले करंट की चपेट में आने से बालिका की हुई मौत के मामले में न्यायालय के आदेश पर शुक्रवार को कुर्सी कुर्क करने गए न्यायालय के अमीन व अधिवक्ता विद्युत वितरण निगम के अधिशासी अभियंता के आश्वासन पर वापस आ गए। जिला एवं सत्र न्यायालय ने करंट से हुई मौत मामले में विद्युत वितरण निगम के टोंक अधिशासी अभियंता को आदेश दिए थे कि वह पीडि़त मोहनलाल को दो लाख 50 हजार रुपए क्षतिपूर्ति बतौर दे। ये आदेश 7 नवम्बर 2016 को दिया गया था, लेकिन पीडि़त को ये राशि नहीं दी गई। 

इस पर न्यायालय ने अधिशासी अभियंता की कुर्सी कुर्क करने के आदेश दिए। अधिवक्ता विशाल श्रीवास्तव समेत न्यायालय के अमीन व कर्मचारी निगम कार्यालय पहुंचे और अभियंता की कुर्सी कुर्क करने लगे। इस पर अधिशासी अभियंता मथरालाल ने कहा कि उन्होंने हालही में कार्य सम्भाला है तथा मामले की जानकारी नहीं है। न्यायालय के आदेश की पालना के लिए कुछ समय दिया जाए।


 अभियंता के दिए गए लिखित आश्वासन के बाद कर्मचारी, अधिवक्ता तथा पीडि़त माने और बिना कुर्सी कुर्क किए चले आए। गौरतलब हैकि लोहरवाड़ा निवासी मोहनलाल की पुत्री किशना की 5 फरवरी 2014 को करंट की चपेट में आने से मौत हो गई थी।

rajasthanpatrika.com

Bollywood