Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

झूठा मामला दर्ज कराने पर एक साल की सजा

Patrika news network Posted: 2017-07-14 06:22:39 IST Updated: 2017-07-14 06:22:39 IST
झूठा मामला दर्ज कराने पर एक साल की सजा
  • थाने में झूठा मुकदमा दर्ज कराने के एक मामले न्यायालय ने अभियुक्त को एक वर्ष का कारावास देकर आर्थिक जुर्माना भी किया है।

टोंक

टोडारायसिंह. थाने में झूठा मुकदमा दर्ज कराने के एक मामले न्यायालय ने अभियुक्त को एक वर्ष का कारावास देकर आर्थिक जुर्माना भी किया है। साथ ही सम्बन्धित अनुसंधान अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की अभिशंसा की है। सहायक अभियोजक दिग्विजय सिंह ने बताया कि परिवादी कालपुरिया जिला बूंदी निवासी अजीत सिंह ने 17 अक्टूबर 1999 को वहीं के सुरजीत सिंह आदि के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था।


इसमें बताया कि आरोपितों ने उसे मुल्जिम बनाने व आपराधिक दण्ड दिलाने की नीयत से दुर्घटना के मामले में उसके नाम का उपयोग कर उसे ट्रैक्टर का चालक होना बता दिया। इस पर मुन्सिफ मजिस्ट्रेट मनोज कुमार ने साक्ष्यों, बयानों व उभय पक्षों की बहस सुनने के बाद कालपुरिया निवासी सुरजीत सिंह को दोषी मानकर एक वर्ष का कारावास व एक हजार का अर्थदण्ड किया है।  

rajasthanpatrika.com

Bollywood