तीन दिनों तक थाना चलाता रहा फर्जी थानेदार, जायजा लेने के नाम पर पुलिस जीप से घूमा, गिरफ्तार

Patrika news network Posted: 2016-12-02 10:40:00 IST Updated: 2016-12-02 10:40:00 IST
तीन दिनों तक थाना चलाता रहा फर्जी थानेदार, जायजा लेने के नाम पर पुलिस जीप से घूमा, गिरफ्तार
  • ग्वालियर के आतंरी थाना में वैभव सिंह सेंगन नामक एक शख्स पहुंचा। उसने खुद को थानेदार बताया आैर उसने पुलिसकर्मियों को खूब निर्देश भी दिए।

ग्वालियर।

सुरक्षा व्यवस्था में सेंध की खबरें आपने खूब सुनी होगी, लेकिन क्या एक शख्स पूरे पुलिस महकमे को गच्चा देकर तीन दिनों तक दरोगा बना बैठा रह सकता है। आप कहेंगे कि भला एेसा कैसे हो सकता है, लेकिन ये सच है। एक शख्स फर्जी थानेदार बनकर तीन दिनों तक थाना चलाता रहा।


मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, ग्वालियर के आतंरी थाना में वैभव सिंह सेंगन नामक एक शख्स पहुंचा। उसने खुद को थानेदार बताया आैर उसने पुलिसकर्मियों को खूब निर्देश भी दिए। यहां तक की थाने की जीप से वह क्षेत्र का जायजा लेने के नाम पर खूब घूमता रहा। 


थाने में फर्जी थानेदार होने की खबर पर पुलिस अधिकारी उसे पकड़ने के लिए भी पहुंचे, लेकिन भनक लगते ही वह भाग निकला। आरोपी अपने साथ थाने की गाड़ी भी ले गया। इससे पुलिस अधिकारी सकते में आ गए। हालांकि उन्होंने तब राहत की सांस ली जब ये गाड़ी स्टेशन पर खड़ी मिल गर्इ। 


एसपी हरिनारायण मिश्रा ने बताया कि आरोपी के थाने पहुंचने की सूचना वरिष्ठ अधिकारियों को मिली तो हकीकत सामने आर्इ। अधिकारियों को पता था कि इस नाम के व्यक्ति को थाने में नहीं भेजा गया है। पोल खुलने के डर से वह ट्रेन से झांसी भाग निकला। जिसे बाद में झांसी से गिरफ्तार कर लिया गया। 


बताया जा रहा है आरोपी वैभव उत्तर प्रदेश का रहने वाला है आैर वह पहले भी धोखाधड़ी के मामलो में शामिल  रह चुका है। घटना के बाद थाने पर इंस्पेक्टर डीबीएस तोमर की पोस्टिंग की गर्इ है। 


rajasthanpatrika.com

Bollywood