पूर्व मुख्य न्यायाधीश अल्तमस कबीर का कोलकाता में निधन

Patrika news network Posted: 2017-02-19 19:22:03 IST Updated: 2017-02-19 19:22:03 IST
पूर्व मुख्य न्यायाधीश अल्तमस कबीर का कोलकाता में निधन
  • देश के पूर्व मुख्य न्यायाधीश अल्तमस कबीर का रविवार सुबह कोलकाता में निधन हो गया। वह 68 वर्ष के थे। न्यायाधीश कबीर लंबे समय से बीमार थे।

नई दिल्ली/कोलकाता।

देश के पूर्व मुख्य न्यायाधीश अल्तमस कबीर का रविवार सुबह कोलकाता में निधन हो गया। वह 68 वर्ष के थे। न्यायाधीश कबीर लंबे समय से बीमार थे। वह देश के 39वें मुख्य न्यायाधीश थे और 29 सितंबर, 2012 को उन्हें सुप्रीम कोर्ट का मुख्य न्यायाधीश नियुक्त किया गया था। वह 292 दिनों तक देश के मुख्य न्यायाधीश पद पर रहे और 19 जुलाई, 2013 को सेवानिवृत्त हुए।


न्यायाधीश कबीर ने मानवाधिकार और चुनाव संबंधी कानूनों पर महत्वपूर्ण भूमिका अदा की थी। उनके महत्वपूर्ण मुकदमों में 2011 के अमरावती जिले का संध्या मनोज वानखेडे का मामला शामिल था। उनकी ओर से सुने गए अन्य महत्वपूर्ण मुकदमों में जाने-माने वरिष्ठ अधिवक्ता और तत्कालीन टीम अन्ना के सदस्य प्रशांत भूषण पर चले न्यायालय की अवमानना का मामला भी शामिल है। भूषण ने आरोप लगाया था कि देश के 16 पूर्व मुख्य न्यायाधीशों में से आधे भ्रष्ट थे।


अपने कार्यकाल के दौरान कबीर कई बार विवादों और आरोपों से भी घिरे रहे। गुजरात हाईकोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश न्यायाधीश भाष्कर भट्टचार्या ने उन पर उन्हें सुप्रीम कोर्ट में आने से रोकने के गंभीर आरोप लगाये। जस्टिस कबीर पर अपने कार्यकाल के दौरान अन्य पीठों के लिए सूचीबद्ध मामलों की सुनवाई करने के भी आरोप लगे। 


इन मामलों में सहारा-सेबी और सुनील मित्तल 2जी मामले शामिल थे। सेवानिवृत्ति से कुछ दिन पहले कबीर का नाम 2013 का एनईईटी मुकदमे के विवादों से भी जोड़ा गया। आरोप लगे कि उनके और न्यायाधीश अनिल दवे की ओर से सुनाये गए फैसले को पहले ही लीक कर दिया गया। हालांकि न्यायाधीश कबीर ने फैसले के लीक होने के बारे में कोई जानकारी होने से साफ इनकार किया था। 

rajasthanpatrika.com

Bollywood