Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

29 लाख रुपए का चूना लगाने की फिराक में थे दोनों, प्लान सिरे ही चलने वाला था और फिर

Patrika news network Posted: 2017-03-20 13:03:19 IST Updated: 2017-03-20 13:03:19 IST
29 लाख रुपए का चूना लगाने की फिराक में थे दोनों, प्लान सिरे ही चलने वाला था और फिर
  • किसी और की जमीन अपनी बता लोन लेने का प्रयास, दंपत्ती गिरफ्तार। योजना सिरे चढऩे से पूर्व ही पुलिस ने दबोचा।

सादुलशहर.

पति-पत्नी ने ठगी करने का एक नया तरीका निकालते हुए किसी की जमीन का फर्जी मालिक बनकर बैंक से लाखों रुपये ऋण के रूप में प्राप्त करने का ढांचा तैयार कर लिया। लेकिन योजना सिरे चढऩे से पूर्व ही पुलिस के सामने मामला आ जाने पर पुलिस ने पर्दाफाश करते हुए दोनों को रविवार को गिरफ्तार कर लिया, जो सच्चाई सामने आई हैरान करने वाली थी। जांच अधिकारी सुरेश कस्वां ने बताया कि आपराधिक षडयंत्र रचकर कूट रचित दस्तावेज तैयार कर बैंक से 29 लाख रुपये का ऋण उठाने के प्रयास के आरोप का मुकदमा पुलिस ने अज्ञात जनों के विरुद्ध 10 मार्च को अबोहर के रामगढ़ निवासी पवन पुत्र भागीरथ जाट की रिर्पोट पर दर्ज किया था। 


18 हजार नशीली गोलियों की तस्करी, दो दुकानदार को लिया रिमांड पर

उसमें बताया गया था कि 9 मार्च को जब वह अपनी मौसी गुड्डी देवी ने बताया कि किसी ने मेरी बेटी अनुसुईया के नाम से एचडीएफसी बैंक की सादुलशहर शाखा से लोन लेने के लिए आवेदन कर रखा है। यह बात सुनकर जब बैंक शाखा में पहुंचा व ऋण के बारे में पता किया तब बैंक प्रबंधक ने बताया कि 29 लाख रुपये के ऋण के लिए आवेदन अनसुईया के नाम से कर रखा है जो कि उसकी कृषि भूमि पर है। तब मैंने ऋण तुरन्त रोकने के लिए बैंक प्रबंधन को आवेदन दिया। 


सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है यह मैसेज, पढ़ के हो रह जाओगे दंग


पुलिस ने मुकदमा दर्ज करते हुए जांच शुरू की। सोमवार को आरोपियों को सक्षम न्यायालय में पेश किया जायेगा व पूछताछ की जायेगी। इस प्रकरण में और भी महत्वपूर्ण खुलासे होने की संभावना है। गौरतलब है कि  कुलदीप सिहाग हरियाणा के पंचकुला में डीआईजी पुलिस है व उनकी जमीन यहां सादुलशहर तहसील के पीटीपी चक में उनकी पत्नी अनसुईया के नाम से है।

#Bollywood: रायसिंहनगर की बेटी किरण दिखाएगी बॉलिवुड में जलवा, ठुकराया टीवी सीरियल्स का ट्रेक


फाइल को खंगाला तो चला पता 

सुरेश कस्वां ने बताया कि बैंक में प्रस्तुत की गई फाइल को खंगाला गया तो उसमें आरोपित पति राजेन्द्र कुमार पुत्र कुशला राम निवासी चन्नु पंजाब थाना लम्बी फाइल में गवाह फर्जी नाम हेतराम पुत्र रामचन्द्र निवासी इन्द्रपुरा बन गया व पत्नी मोहिनी को अनसुईया पत्नी कुलदीप सिहाग बनाकर पेश किया। ऋण की फाइल में फोटो इन्होनें अपनी लगायी तथा दस्तावेज पहचान पत्र आदि भी अनसुईया व उसके पति कुलदीप के फर्जी बनाकर फाइल में पेश किये गये। 


रात को लड़को के घर में आई अकेली लड़की, मोहल्ले वालो ने मच दिया हंगामा


जिस व्यक्ति ने कुलदीप सिहाग की भूमिका अदा की वह अभी फरार है। सुरेश कस्वां ने बताया कि आरोपी पति-पत्नी आज से 15 वर्ष पूर्व मिर्जेवाला में रहते थे व रावला में इनकी जमीन थी, जो इन्होंने  बेच दी। अब 7-8 वर्ष से चन्नु में निवास कर रहे हैं। अब वहां पर पशुपालन का कार्य करते हैं। इनकी शादी हुए 23 वर्ष हुए हैं। 


डॉक्टर चला रहे है लंबे समय से धंधा, दलाल सहित चार गिरफ्तार


rajasthanpatrika.com

Bollywood