Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

IND V/S PAK: पीएम मोदी के बाद अब विराट सेना की बारी, होगा सर्जिकल स्ट्राइक-2! काउंटडाउन हुआ शुरू

Patrika news network Posted: 2017-06-17 13:25:48 IST Updated: 2017-06-17 18:22:02 IST
  • दोनों देशों का ग्रुप मुकाबला शुरू होने से कई महीने पहले ही हाउसफुल हो चुका था और अब तो दोनों के बीच फाइनल का रोमांच सिर चढ़कर बोलेगा।

लंदन।

क्रिकेट इतिहास के दो सबसे प्रबल प्रतिद्वंद्वी भारत और पाकिस्तान रविवार को जब आईसीसी चैंपियंस ट्राफी के महा खिताबी मुकाबले में उतरेंगे तब ना केवल दोनों टीमों के बीच सम्मान की जंग होगी बल्कि दोनों देशों के लोगों के बीच भावनाओं की सुनामी उठ जाएगी।


चैंपियंस ट्रॉफी शुरू होने के समय किसी ने भी यह कल्पना नहीं की थी कि भारत और पाकिस्तान फाइनल में आमने सामने होंगे। दोनों देशों का ग्रुप मुकाबला शुरू होने से कई महीने पहले ही हाउसफुल हो चुका था और अब तो दोनों के बीच फाइनल का रोमांच सिर चढ़कर बोलेगा। 


भारत चैंपियंस ट्राफी का गत विजेता और लगातार दूसरी बार फाइनल में पहुंचा है। पाकिस्तान की टीम अपने पहले मैच में भारत से करारी शिकस्त झेलने के बाद हैरतअंगेज प्रदर्शन करते हुए फाइनल में पहुंच चुकी है। पाकिस्तान का यह पहला फाइनल है। दोनों टीमें आईसीसी टूर्नामेंटों के इतिहास में दूसरी बार फाइनल में भिड़ेंगी। 


इससे पहले दोनों के बीच 2007 के ट्वेंटी-20 विश्वकप के फाइनल में मुकाबला हुआ था जहां भारत ने खिताबी जीत दर्ज की थी। भारत और पाकिस्तान के बीच ग्रैंड फाइनल में दोनों देशों के करोड़ों प्रशंसकों की सांसें थमी रहेेंगी और टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली तथा पाकिस्तानी कप्तान सरफराज अहमद पर तनाव की तलवार तब तक लटकती रहेगी जब तक मैच का फैसला न हो जाए। दोनों ही टीमों के लिए यह मुकाबला करो या मरो से कम नहीं होगा क्योंकि किसी भी टीम को खिताब से कुछ कम मंजूर नहीं होगा।


READ: सुपर संडे का महामुकाबला: एक नहीं दो जगहों पर भिड़ेगें भारत और पाकिस्तान



टीम इंडिया बंगलादेश को एजबस्टन में नौ विकेट से हराकर और पाकिस्तान मेजबान इंग्लैंड को कार्डिफ में आठ विकेट से हराकर फाइनल में पहुंचे हैं। 


भारत और पाकिस्तान के बीच खिताबी मुकाबला अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के लिए किसी ब्लॉकबस्टर से कम नहीं है। दोनों टीमों के बीच ग्रुप मुकाबले को टीवी पर 20.1 करोड़ लोगों ने देखा था जो बीएआरसी के इतिहास में सर्वाधिक रेटिड वनडे है और फाइनल में यह रिकॉर्ड टूट सकता है। 


भारत की खिताब बचाने की उम्मीदें उसके तीन शीर्ष बल्लेबाजों शिखर धवन, रोहित शर्मा और कप्तान विराट पर टिकी रहेंगी। आईसीसी चैंपियंस ट्राफी के चैंपियन बल्लेबाज शिखर ने इस टूर्नामेंट में 79.25 के औसत से सर्वाधिक 317 रन बना दिये हैं जबकि रोहित 101.33 के औसत से 304 रन और विराट 253.00 के औसत से 253 रन बना चुके हैं। 


READ: फाइनल से पहले पाकिस्तान के पूर्व कप्तान ने दिया चौंकाने वाला बयान, देखें वीडियो



विराट चार पारियों में अब सिर्फ एक बार आउट हुए हैं। पाकिस्तान के लिए अजहर अली ने 169, जमान ने 138, मोहम्मद हफीज ने 91 और बाबर आजम ने 87 रन बनाए हैं। दोनों टीमों के शीर्ष बल्लेबाजी क्रम के बीच का फासला इन आंकड़ों से स्पष्ट हो जाता है लेकिन जब बात फाइनल की हो तो फाइनल का दबाव हमेशा बल्लेबाजों पर भारी पड़ता है। ऐसे समय में जो तनाव को झेलता है वही विजेता बनता है। 

rajasthanpatrika.com

Bollywood