Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

रोडवेज डिपो में हाथ से होती है बसों की धुलाई

Patrika news network Posted: 2017-06-18 10:04:52 IST Updated: 2017-06-18 10:04:52 IST
रोडवेज डिपो में हाथ से होती है बसों की धुलाई
  • कर्मचारियों ने बस धुलाई के लिए जुगाड़ पर मशीन लगाई गई है। लेकिन फव्वारा से पानी छिड़काने के बाद कर्मचारी को हाथ से सफाई करनी पड़ रही है। ऑटोमेटिक मशीन से बसें धुलाई में करीबन 10 मिनट लगते हैं।

सिरोही

 सरकारी बसों को साफ-सुधरा रखने व यात्रियों को हर प्रकार की सुविधा मिले इसको लेकर रोडवेज दिनों-दिन कई प्रकार के जतन कर रही है।डिपों में नए-नए फरमान लागू कर यात्रियों को हर प्रकार की सुविधाएं दी जा रही हैं। लेकिन राजस्थान का सिरोही डिपो इस सुविधा से परे है। डिपो में बस धुलाईकी मशीन पिछले तीन महीनों से खराब पड़ी है। विडम्बना तो यह है कि कर्मचारी बस की धुलाई हाथ से कर रहे हैं। हालांकि  कर्मचारियों ने बस धुलाई के लिए जुगाड़ पर मशीन लगाई गई है। लेकिन  फव्वारा से पानी छिड़काने के बाद कर्मचारी को हाथ से सफाई करनी पड़ रही है। ऑटोमेटिक मशीन से बसें धुलाई में करीबन 10 मिनट लगते हैं। लेकिन फव्वारें में एक बस धुलाई में करीबन आधा घंटा लग जाता है।  ऐसे में बसों की धुलाई खानापूर्ति में सिमट रही है। रोडवेज परिसर में खड़ी बसों में गंदगी के धब्बे दिखाई दे रहे हैं। ऐसे में बस में सफर करने वाले यात्रियों को मजबूरन होकर बस में सफर करना पड़ रहा है।

आधी से अधिक

में पसरी गंदगी

ऑटोमेटिक मशीन खराब होने के कारण डिपो की अधिकतर बसें तो बिना धुलाई से ही दौड़ रही हैं। फव्वारा से समय ज्यादा लगने के कारण बस का नम्बर भी नहीं आता है। अधिकारी बताते हैं कि लम्बी दूरी तह करने वाली बसों की दिन में एक बार धुलाई करनी पड़ती है। जबकि कम दूरी तह करने वाली बस को दो दिन में एक बार धुलाई करते हैं। अधिकतर बसें रात को ही धुलाई होती हैं। ताकि चालक व परिचालक जब सुबह बस चलाए तो साफ-सुधरी बस मिल सके। लेकिन बस धुलाई करने के लिए ठेके पर कर्मचारी रखा गया है। जिसके कारण बसों की धुलाई सही तरीके से नहीं हो रही है।

बस धुलाई की मशीन पिछले तीन महीने से खराब है। इस संबंध में मशीन संचालक कम्पनी को कई बार अवगत करवाया गया है। लेकिन कर्मचारी ठीक करने नहीं आ रहे हैं। हालांकि सुविधा के लिए बस पर मशीन से फव्वारा छिड़काकर धुलाई की जा रही है।

- सुनीता मीणा, कार्यशाला प्रबंधक, रोडवेज डिपो सिरोही  

rajasthanpatrika.com

Bollywood