Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

गैर इरादतन हत्या का प्रकरण दर्ज

Patrika news network Posted: 2017-07-14 09:31:30 IST Updated: 2017-07-14 09:31:30 IST
गैर इरादतन हत्या का प्रकरण दर्ज
  • जनाना अस्पताल में नवजात की डस्टबिन में गिरने से हुईमौत को लेकर चिकित्सक व दो नर्सके खिलाफ कोतवाली थाने में गुरुवार को गैर इरादतन हत्या का प्रकरण दर्ज किया गया है।

सिरोही

सिरोही. जनाना अस्पताल में नवजात की डस्टबिन में गिरने से हुईमौत को लेकर चिकित्सक व दो नर्सके खिलाफ कोतवाली थाने में गुरुवार को गैर इरादतन हत्या का प्रकरण दर्ज किया गया है। पुलिस ने बताया कि जावाल निवासी प्रकाश पुत्र वीराजी माली ने रिपोर्ट दी कि 12 जुलाई की शाम को उसकी पत्नी को प्रसव पीड़ा होने पर जनाना अस्पताल लेकर आए। यहां डॉ. निहालसिंह मीणा ने प्रारम्भिक जांच के बाद प्रसूता को भर्ती कर दिया। इसके बाद ड्रीप चढ़ाकर जाने लगे और कहा कि थोड़ी देर में आ रहा हूं और नर्स पंकज चारण व सिलवी ध्यान रखेगी। लेकिन कुछ देर बाद उसकी पत्नी को पीड़ा होने लगी तो परिजनों ने नर्सिंग स्टाफ को अवगत कराया, लेकिन किसी ने भी ध्यान नहीं दिया। इस दरम्यान प्रसूता के दर्द होने पर उठी तो प्रसव हो गया और नवजात की डस्टबिन में गिरने पर मौत हो गई। रिपोर्ट पर पुलिस ने चिकित्सक व दोनों नर्स के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया।

कमेटी भी करेगी जांच

चिकित्सालय में प्रसव के दौरान डस्टबिन में गिरने से हुई नवजात की मौत के मामले को लेकर चिकित्सालय प्रशासन ने भी जांच कमेटी का गठन किया है। प्रमुख चिकित्सा अधिकारी ने डॉ. ऊषा चौहान व शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. आर.पी. कोठारी को शामिल करते हुए एक जांच कमेटी गठित की है। कमेटी की रिपोर्ट मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

नर्सिंग स्टाफ  हटाया

इधर, चिकित्सालय प्रशासन ने प्रारम्भिक तौर पर नर्सिंग स्टाफ की लापरवाही मानते हुए दोनों ड्यूटी नर्स को हटा दिया है। पीएमओ ने नर्स पंकज चारण व सिलवी को हटा दिया।

दिनभर भटकते रहे

आरोपितों के खिलाफप्रकरण दर्ज कराने को लेकर परिजन दिनभर पुलिस थाने व चिकित्सालय के चक्कर लगाते नजर आए। आखिरकार कोतवाली पुलिस ने शाम को प्रकरण दर्ज किया।

नहीं हो पाया पोस्टमार्टम

चिकित्सालय प्रशासन ने पोस्टमार्टम को लेकर बोर्ड का भी गठन कर दिया था, लेकिन पुलिस तहरीर नहीं मिलने पर पोस्टमार्टम नहीं हो पाया। ऐसे में नवजात का शव दिनभर दूसरे नवजात बच्चों के बीच में पड़ा रहा। इसके बाद शाम को पीएमओ ने परिजनों से समझाइश कर शव को डी-फ्रीजर में रखवाया। इधर  देर शाम परिजनोंं  ने सिरोही से बाहर के चिकित्सकों से पोस्टमार्टम कराने की मांग  की है।

आज जावाल बंद

जावाल. ग्रामीणों ने घटना को लेकर शुक्रवार को जावाल बंद का

आह्वान किया।

rajasthanpatrika.com

Bollywood