Video:परिणाम से 'साक्षात्कार' होना है अभी बाकी, किसी के जीवन में आएगी खुशहाली तो कोई हो जाएगा बेरंग

Patrika news network Posted: 2017-02-17 18:57:05 IST Updated: 2017-02-17 19:03:23 IST
  • साक्षात्कार के बाद अनेक जगह सफल दो उम्मीदवारों की तो अनेक जगह दो से अधिक युवकों की सूची बनाई गई। इस सूची को लिफाफे में सीलबंद कर दिया गया। पूरे जिले में सुबह से ही आवेदकों व उनके परिचितों में जोरदार उत्साह रहा।

सीकर

कहीं विवाद, कहीं भेदभाव और अनेक जगह आरोप-प्रत्यारोप के बीच पंचायत सहायकों की भर्ती के शुक्रवार को साक्षात्कार लिए गए। साक्षात्कार के बाद अनेक जगह सफल दो उम्मीदवारों की तो अनेक जगह दो से अधिक युवकों की सूची बनाई गई। इस सूची को लिफाफे में सीलबंद कर दिया गया। पूरे जिले में सुबह से ही आवेदकों व उनके परिचितों में जोरदार उत्साह रहा। अनेक जगह माहौल तनावपूर्ण तो अनेक जगह शांति से साक्षात्कार लिए गए। कई जगह शाम तक साक्षात्कार लिए गए। कई जगह अंतिम दिन भी अनेक युवक अनुभव प्रमाण पत्र बनाने का प्रयास करते रहे। 

आनंदपाल ने फेसबुक पर दी धमकी, कहा-जिनका टाइम नजदीक है, वो बचना शुरू कर दें


आगे क्या होगा



सभी युवकों का साक्षात्कार विद्यालय विकास एवं प्रबंधन समिति (एसडीएमसी) ने लिए। समिति में संस्थाप्रधान अध्यक्ष तथा दो बच्चे, दो अभिभावक व शिक्षक सहित अनके वर्गों के लोग सदस्य रहे। साक्षात्कार के बाद सफल दो युवकों की सूची लिफाफे में डालकर उसे सीलबंद किया गया। अनेक जगह दो से अधिक युवकों के नाम भी लिखे गए। यह लिफाफे प्रारंभिक पदेन पंचायत अधिकारी को दिए गए। अधिकारी ने यह लिफाफे संबंधित बीईओ को भेजे। बीईओ से डीईओ कार्यालय आएंगे। वहां से जिला परिषद में जमा होंगे। जिला परिषद में जिला स्थापना समिति की बैठक में सूची का अनुमोदन किया जाएगा। जिला परिषद सफल व्यक्तियों की सूची विकास अधिकारियों को भेजेगी। विकास अधिकारी यह सूची ग्राम सेवक को देगा। इसके बाद नियुक्ति की प्रक्रिया पूरी होगी। 

देखें Video : किसानों पर टूटा पहाड़ : मजबूरी ऐसी कि अपनी ही फसल पर चला दिया ट्रैक्टर, अब इनकी खातिर गिरवी रख दी जमीन

घनघनाते रहे फोन

साक्षात्कार प्रक्रिया जानने के लिए प्रबंध समिति के पदाधिकारी व खुद साक्षात्कार देने वाले उच्च अधिकारियों से जानकारी लेते रहे, लेकिन अंतिम दिन भी कोई स्पष्ठ दिशा-निर्देश नहीं मिले। 

घर से निकलें तो इन चीजों का रखें ध्यान, नहीं तो पुलिस कभी भी कर सकती है कार्रवाई


आवेदन ही नहीं लिए


फतेहपुर. ठेडी गांव के एक जने ने ग्राम पंचायत सहायक पद के आवेदन नहीं लेने की शिकायत जिला शिक्षा अधिकारी से करते हुए निष्पक्ष जांच की मांग की है। ठेडी निवासी मनोज कुमार शर्मा ने बताया कि वह अपनी पत्नी के लिए सहायक पद के लिए आवेदन लेकर ठेडी राजकीय उ.मा.विद्यालय के प्राचार्य के पास गया तो आवेदन नहीं लिया गया। इसके बाद गुरुवार को भी आवेदन नहीं लिया। इधर संस्थान के प्राचार्य सुरेश धौलपुरिया ने बताया कि प्रार्थी समय के बाद आया था । उसके पास कागजात भी पूरे नहीं थे। 

Video : ऐसा क्या करने आया था ये हिस्ट्रीशीटर कि ग्रामीणों ने ही पकड़कर कर दी धुनाई, फिर जो हुआ उसका आप खुद देखें


बिहारीपुर में विरोध


मावंडा. ग्राम बिहारीपुर में ग्राम पंचायत सहायक भर्ती का युवाओं ने विरोध किया। भर्ती के लिए आए आवेदनों में एक  श्रीमाधोपुर व दूसरा आवेदन ग्राम जीलो का आया तो युवाओं ने प्रधानाचार्य के खिलाफ खिलाफ  नारेबाजी शुरू कर दी। बाद में प्रधानाचार्य अमरचंद मीणा ने समझाकर मामला शांत किया। वहीं ग्राम मावंडा कला में भी युवाओं ने सरकार पर पारदर्शिता नहीं बरतने का आरोप लगाया। 

rajasthanpatrika.com

Bollywood