Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

OMG! #सीकर में यहां अभी तक किसी ने नहीं देखा कम्प्यूटर, खबर में जानें क्या है सच्चाई

Patrika news network Posted: 2017-06-14 10:58:52 IST Updated: 2017-06-14 10:58:52 IST
OMG! #सीकर में यहां अभी तक किसी ने नहीं देखा कम्प्यूटर, खबर में जानें क्या है सच्चाई
  • सरकार शिक्षकों पर निजी स्कूलों से बेहतर परिणाम देने के लिए तो दबाव बना रही है, लेकिन वह आवश्यक संसाधन उपलब्ध नहीं करवा रही। सरकारी विद्यालय अभी भी तकनीक में निजी की तुलना में पिछड़ते जा रहे हैंं।

सीकर

निजी विद्यालयों में जहां बच्चों को पहली और दूसरी क्लास से ही कम्प्यूटर का ज्ञान करवाना शुरू कर देते हैं, वहीं सरकारी विद्यालयों में तो दसवीं तक के अनेक  विद्यार्थियों को अभी तक कम्प्यूटर दिखाया तक नहीं गया। इंटरनेट की बात तो कोसो दूर हैं। जिले में वर्तमान में करीब 553 सरकारी माध्यमिक/ उमा विद्यालय हैं, लेकिन उनमें से करीब 113 में इंटरनेट उपलब्ध नहीं है। इंटरनेट नहीं होने से बालकों को देश-विदेश व नई तकनीक की जानकारी लेने में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जिला शिक्षा अधिकारी दयाल ङ्क्षसह यादव का कहना है जहां इंटनरेट नहीं है वहां डोंगल व अन्य व्यवस्था करवाई जा रही है।   बीएसएनएल के अधिकारियों से भी बात की जा रही है। अब जल्द ही सभी जगह नियमित इंटरनेट के लिए ब्रांडबैंड क कनेक्शन करवाया जाएगा।

ब्लॉक         नियमित इंटरनेट नहीं

दांतारागढ़         16

धोद         9

फतेहपुर         10

खंडेला       20

लक्ष्मणगढ़       06

नीमकाथाना       13

पाटन       15

पिपराली         13

श्रीमाधोपुर           11

rajasthanpatrika.com

Bollywood