Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

निजी कॉलेज वालों को अब करना होगा ये काम

Patrika news network Posted: 2017-03-16 11:09:32 IST Updated: 2017-03-16 11:09:32 IST
निजी कॉलेज वालों को अब करना होगा ये काम
  • पंडित दीनदयाल उपाध्याय शेखावाटी विवि सीकर के अधिकार क्षेत्र में स्थित सीकर व झुंझुनूं जिले के निजी शिक्षण प्रशिक्षण महाविद्यालयों का निरीक्षण किया जाएगा।

सीकर

पंडित दीनदयाल उपाध्याय शेखावाटी विवि सीकर के अधिकार क्षेत्र में स्थित सीकर व झुंझुनूं जिले के निजी शिक्षण प्रशिक्षण महाविद्यालयों का निरीक्षण किया जाएगा। इसके लिए निरीक्षण दलों का गठन कर दिया गया है। निरीक्षण के दौरान महाविद्यालय के भवन व प्रमुख संसाधनों की वीडियोग्राफी भी की जाएगी तथा सम्पूर्ण स्टाफ की सामूहिक व एकल फोटो भी ली जाएगी। वहीं निजी कॉलेज संचालक निरीक्षण दलों में अनेक खामियां बताकर इसे गलत भी बता रहे हैं। 


Read:

इस रिटायर्ड अफसर ने साइकिल पर ही कर डाली 13 हजार किमी की यात्रा, जानें क्यों किया ऐसा



बोम की बैठक में किए निर्णय के अनुसार निरीक्षण दल के पास सात पेज का पारूप होगा। इसमें भवन की स्थिति, खेल मैदान, लैब, स्टाफ की संख्या व हर कर्मचारी की शैक्षणिक योग्यता, शपथ पत्र, सभागार, कैंटीन, पुस्तकालय आदि की जानकारी देनी होगी। इसके अलावा उस पाठ्यक्रम की जानकारी भी देनी होगी जिसके लिए अगले वर्ष के लिए सम्बद्धता चाही गई है। राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद का संशोधित अनुमति पत्र मय सीट संख्या दिखानी होगी। कॉलेज बैंक स्टेटमेंट मय मय वेतन भुगतान विवरण की मूल एवं प्रमाणित प्रतियां, उपस्थिति रजिस्टर, नियुक्ति पत्र व कार्यग्रहण रिपोर्ट दिखानी होगी। सभी शैक्षणिक स्टाफ के पैन व आधार कार्ड की स्वप्रमाणित छायाप्रति भी प्रस्तुत करनी होगी। स्टाफ की सामूहिक के साथ एकल फोटो भी देनी होगी। विवि सूत्रों के अनुसार कई बार कर्मचारी के दूसरे स्थान पर कार्य करने की शिकायत मिलने पर ऐेसा किया जा रहा है। शैक्षणिक के अलावा अलावा गैर शैक्षणिक स्टाफ की भी पूरी जानकारी देनी होगी। जिस महाविद्यालय का दल की ओर से निरीक्षण नहीं करवाया जाएगा, उसे सत्र 2017-18 की सम्बद्धता जारी नहीं की जाएगी।    

Read:

इस रिटायर्ड अफसर ने साइकिल पर ही कर डाली 13 हजार किमी की यात्रा, जानें क्यों किया ऐसा


नियमों की पालना नहीं


बोम की बैठक में किए गए निर्णय की पालना नहीं की जा रही। निरीक्षण दलों को केवल मूल दस्तावेज दिखाने के लिए कहा है जबकि निरीक्षण दल मूल दस्तावेज मांग रहे हैं। निरीक्षण दल में बीएड या शिक्षा की डिग्री वाले व्यक्ति होने चाहिए। जबकि ऐसा नहीं किया जा रहा। इस संबंध में बैठक कर विरोध किया गया है। राजस्थान प्रदेश निजी कॉलेज संघ की अगली बैठक 18 मार्च को दोपहर एक बजे प्रिया टीटी कॉलेज सर्किट हाउस के पास होगी। इसमें मांग उठाई जाएगी। मांग नहीं मानने पर 25 मार्च को सांकेतिक धरना दिया जाएगा।  


नवरंग चौधरी, प्रदेश अध्यक्ष, निजी कॉलेज संघ

rajasthanpatrika.com

Bollywood