Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

अब आमजन को मिल सकेगा पहले से बेहतर इलाज, स्वास्थ्य विभाग करने जा रहा है ऐसा...

Patrika news network Posted: 2017-07-15 12:19:34 IST Updated: 2017-07-15 12:19:34 IST
अब आमजन को मिल सकेगा पहले से बेहतर इलाज, स्वास्थ्य विभाग करने जा रहा है ऐसा...
  • शहरी क्षेत्र में स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत करने के लिए चिकित्सा विभाग प्रदेश में अनुबंध पर चिकित्सक व नर्सिंग स्टाफ लेगा।

सीकर

शहरी क्षेत्र में स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत करने के लिए चिकित्सा विभाग प्रदेश में अनुबंध पर चिकित्सक व नर्सिंग स्टाफ लेगा। 

इससे स्टाफ की कमी से जूझ रही शहरी डिस्पेंसरियों की व्यवस्था पटरी पर आ जाएगी। आमजन को बेहतर इलाज मिले इसके लिए अनुबंध पर आने वाले चिकित्सक की न्यूनतम योग्यता स्त्री रोग विशेषज्ञ, शिशु रोग विशेषज्ञ, एमडी फिजीशियन, चर्म रोग विशेषज्ञ, अस्थि रोग विशेषज्ञ, ईएनटी विशेषज्ञ तय की गई है। इस कारण आउटडोर में आने वाले चिकित्सकों को विशेषज्ञों को परामर्श मिल सकेगा। गौरतलब है कि यह नियुक्तियां प्रदेश की 245 शहरी स्वास्थ्य केन्द्रों 

पर होगी। 



Read also:

सरकारी अस्पताल में दोपहर दो बजे बाद नहीं लगेगा रेबीज इंजेक्शन, आप भी पढ़ें हाल-ए-एसके अस्पताल...



पांच डिस्पेंसरियां लाभान्वित


राष्ट्रीय शहरी स्वास्थय मिशन के तहत सीकर में करीब दो वर्ष पहले तीन स्थानों व फतेहपुर, लक्ष्मणगढ में एक-एक डिस्पेंसरी खोली गई थी। इन डिस्पेंसरियों में स्टॉफ की कमी के कारण मरीजों को इसका पूरा फायदा नहीं मिल रहा था। एेसे में अब प्रत्येक डिस्पेंसरी में अनुबंध पर एक जीएनएम, एक फार्मासिस्ट, एक लेब टेक्निीशियन अनुबंध पर लिया जा सकेगा। आरसीएचओ डा. निर्मल सिंह ने बताया कि अनुबंध पर डिस्पेंसरी में  रोजाना पार्ट टाइम में चिकित्सक सेवाएं देंगे। साथ ही नर्सिंग स्टाफ व लैब टेक्निशियन की सेवाएं मिलने से मरीजों को फायदा होगा।  चिकित्सा विभाग ने इसके लिए सीएचएचओ  को निर्देश दे दिए हैं।

जिले को मिले 9 चिकित्सक

 चिकित्सा विभाग ने सीकर जिले की नौ पीएचसी पर चिकित्सकों की नियुक्ति के आदेश दिए हैं। निदेशक जन स्वास्थ्य के अनुसार रसीदपुरा, रायपुर जागीर, जुराठड़ा, गुढ़ा भोपजी, गणेश्वर, शिश्यू रानोली, बाढ़ां की ढाणी, चीपलाटा, मुंडरू में एक-एक चिकित्सक लगाया है। दो वर्ष के प्रोबेशन काल पर चिकित्सक लगाने से क्षेत्र के हजारों ग्रामीणों को फायदा होगा। इन चिकित्सकों को 28 जुलाई तक ड्यूटी ज्वाइन करनी होगी। 

rajasthanpatrika.com

Bollywood