Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

EXCLUSIVE: तैयार रहे जल्द ही आप पर पडऩे वाला है 10 करोड़ का बोझ, यकीन नहीं होता तो जरूर पढ़ें यह खबर...

Patrika news network Posted: 2017-07-10 12:36:52 IST Updated: 2017-07-10 12:36:52 IST
EXCLUSIVE: तैयार रहे जल्द ही आप पर पडऩे वाला है 10 करोड़ का बोझ, यकीन नहीं होता तो जरूर पढ़ें यह खबर...
  • सरकारी विद्यालयों में नई गणवेश बच्चों-अभिभावकों की जेब ढीली करेगी। पूरे जिले में करीब दस करोड़ रुपए का बोझ अभिभावकों पर पडऩा तय है।

राजेश शर्मा, सीकर

सरकार एक तरफ तो अनिवार्य शिक्षा तथा जरूरतमंदों को स्कूल से जोडऩे की तैयारी कर रही है। दूसरी तरफ उन्हीं को करोड़ों रुपए के बोझ तले दाब रही है। सरकारी विद्यालयों में नई गणवेश बच्चों-अभिभावकों की जेब ढीली करेगी। पूरे जिले में करीब दस करोड़ रुपए का बोझ अभिभावकों पर पडऩा तय है। सरकार के इस आदेश की सबसे ज्यादा मार जरूरतमंद बच्चों व उनके अभिभावकों पर पडऩे वाली है। बीपीएल परिवार भी इस फरमान की चपेट में आएंगे।

सरकारी विद्यालयों में पहले छात्रों के लिए आसमानी शर्ट व खाकी रंग की पेंट तथा छात्राओं के लिए आसमानी कुर्ता और सफे द सलवार व चुन्नी कई वर्षों से चल रही थी। अब राज्य की भाजपा सरकार ने गणवेश का रंग भगवा जैसा कर दिया है। अब नए सत्र से छात्रों के लिए कत्थई रंग की पेंट व हल्के भूरे रंग की शर्ट शुरू कर दी है। वहीं छात्राओं के लिए सलवार, स्कर्ट व चुन्नी कत्थई रंग की तथा कुर्ता या शर्ट हल्के भूरे रंग का तय कर दिया है। गणवेश परिवर्तन होने के साथ ही जिला शिक्षा अधिकारियों को इसका सैम्पल भेज दिया गया। यह सैम्पल ब्लॉक शिक्षा अधिकारी तक पहुंच गया। लेकिन कपड़े के नमूनों को लेकर अभिभावकों को कोई जानकारी नहीं होने से भी वे परेशान हैं। हड़ताल के कारण भी उनको नई गणवेश नहीं मिल पा रही है।





Read also:

मंत्री का चौंका देने वाला बयान, फौजियों पर उल्टे सीधे बयान देने वालों की काट दी जाए बोटी-बोटी...सुनकर आपको भी लगेगा झटका





यूं समझें गणित...


जिले में प्राथमिक शिक्षा विभाग में अभी विद्यार्थियों की संख्या 74 हजार 552 है। माध्यमिक शिक्षा में विद्यार्थियों की कुल संख्या पांच जुलाई तक एक लाख13 हजार 800 थी। इस प्रकार वर्तमान में पोर्टल के रिकॉर्ड के अनुसार करीब एक लाख 87 हजार से अधिक विद्यार्थी सरकारी विद्यालयों में पंजीकृत हैं। इनकी संख्या करीब दो लाख पार होने की पूरी संभावना है। क्योंकि अभी पोर्टल पर भी पूरी जानकारी अपडेट नहीं की गई है। 


01 लाख 13 हजार से अधिक छात्र...


 जिले में माध्यमिक शिक्षा में विद्यार्थियों की संख्या एक लाख 13 हजार 800 से ज्यादा है। यह संख्या और बढ़ेगी।  दयाल सिंह यादव,  जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक

rajasthanpatrika.com

Bollywood