Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

जीएसटी पत्रिका विशेष: अब 72 माह तक रखना होगा खाते का रिकॉर्ड...

Patrika news network Posted: 2017-07-15 13:09:00 IST Updated: 2017-07-15 13:09:00 IST
जीएसटी पत्रिका विशेष: अब 72 माह तक रखना होगा खाते का रिकॉर्ड...
  • जीएसटी में रजिस्टर्ड हर व्यापारी को ड्यू डेट से 72 माह तक बुक्स ऑफ अकाउण्ट का रिकॉर्ड अपने पास रखना होगा।

सीकर

जीएसटी में रजिस्टर्ड हर व्यापारी को ड्यू  डेट से 72 माह तक बुक्स ऑफ अकाउण्ट का रिकॉर्ड अपने पास रखना होगा। कितनी राशि पर जीएसटी में ऑडिट करवानी होगी? खाते का रखरखाव कैसे होगा? बुक्स ऑफ अकाउंट किसके लिए जरूरी है? कुछ ऐसे ही सवालों का जवाब दे रहे हैं जीएसटी एक्सपर्ट एवं सीए गौरव अग्रवाल। 

सवाल- क्या हर व्यापारी को बुक्स ऑफ अकाउंट का रखरखाव करना है?

जवाब- हां, रजिस्टर्ड व्यक्ति को धारा 35 के अनुसार व्यवसाय की मुख्य जगह पर 'बुक्स ऑफ अकाउंट' का रखरखाव करना है। 

सवाल- रजिस्टर्ड व्यक्ति को व्यवसाय की मुख्य जगह कौन-कौन से अकाउंट के रखरखाव रखने हैं?

जवाब- वस्तु के उत्पादन का अकाउंट।- वस्तु/सेवा खरीदने या बेचने का अकाउंट।- वस्तु के स्टॉक का अकाउंट।- ली गई इनपुट टैक्स के्रडिट का अकाउंट।- आउटपुट टैक्स का दायित्व तथा जमा किए गए टैक्स का अकाउंट।- जिस सप्लाई पर रिवर्स चार्ज लगता हो उसका अकाउंट।-अग्रिम मिले रुपयों का अकाउंट।

सवाल- अगर व्यवसाय एक से ज्यादा जगह हो तो क्या अकाउंट्स मुख्य व्यवसाय की जगह रखने हैं?

जवाब- नहीं, रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट के अनुसार व्यवसाय की हर जगह वहां से संबंधित अकाउंट रखने हैं। 

सवाल- क्या रजिस्टर्ड व्यक्ति को मेंटेन किए हुए अकाउंट्स की ऑडिट भी करवानी पड़ेगी?

जवाब- हां, अगर रजिस्टर्ड व्यक्ति का वित्तीय वर्ष में टर्नओवर दो करोड़ से ज्यादा होता है तो उसे जीएसटी में ऑडिट करवाना अनिवार्य है। 




Read also:

प्रदेश का पहला एप, हिंदी में लिखो जीएसटी के सवाल, एप देगा जवाब...




सवाल- अकाउंट को मेंटेन कितने समय तक रखना है?

जवाब- किसी वित्तीय वर्ष की वार्षिक रिटर्न की ड्यू डेट से 72 माह तक 'बुक्स ऑफ अकाउंटÓ का रखरखाव अनिवार्य है। 

सवाल- क्या ट्रांसपोर्टर या गोदाम के मालिक/ ऑपरेटर को जीएसटी में कोई फार्म भरना है?

जवाब- हां, अगर ट्रांसपोर्टर या गोदाम का मालिक/ ऑपरेटर जीएसटी में रजिस्टर्ड नहीं है तो उसे फार्म जीएसटी ईएनआर 01 भरना होगा।

rajasthanpatrika.com

Bollywood