Breaking News
  • जैसलमेर:रामदेवरा मेले में भिक्षावृत्ति कर रही 14 महिलाओं को पुलिस ने किया गिरफ्तार
  • जयपुर:झोटवाड़ा में आंध्रा बैंक एटीएम में तोड़फोड़, कैमरे खंगाल रही पुलिस
  • बीकानेर:वाणिज्य कर विभाग ने कर चोरी की आशंका से जब्त किए माल सहित पांच ट्रक जब्त
  • जयपुर: क्राइम ब्रांच ने ऑनलाइन ठगी मामले में पुणे और मुंबई से 6 लोगों को किया गिरफ़्तार
  • दौसा:सिकंदरा के बावनपाडा गांव में छप्परपोश घर में लगी आग, आधा दर्जन मवेशी जले
  • रैणी: दहेज प्रताड़ना के मामले में एक जना गिरफ्तार, एक बाईक व एक लाख रूपए की थी मांग
  • साँचोर: आयकर विभाग की कार्रवाई, ढाई लाख रुपए टैक्स वसूला
  • कोटा: पीजी करने के नए नियमों का विरोध, 31 को सरकारी डॉक्टर करेंगे कार्य बहिष्कार
  • पाली:दुजाना गांव में तखतगढ के समीप जोगाराम चतराजी के खेत में आग, गेहूं की फसल जली
  • भीलवाड़ा:सिंहपुरा गांव में कुएं से पानी भरने गई महिला की गिरने मौत
  • भीलवाड़ा: नाला का माताजी क्षेत्र में 30 किलो डोडा पोस्‍त के साथ एक जना गिरफ्तार
  • जैसलमेर: राजस्व विभाग ने डांगरी क्षेत्र में पवन ऊर्जा संयत्र का कंट्रोल रूम किया कुर्क
  • जैसलमेर: फतेहगढ़ के भीमसर में मकान में लगी आग, घरेलू सामान, नगदी और आभूषण स्वाह
  • भीलवाड़ा: सिगपुरा गांव में कुएं मे गिरने से महिला की मौत
  • चूरू: सुजानगढ़ में शांति भंग के आरोप में दो युवक गिरफ्तार
  • प्रतापगढ़ : कुमारवाडा से आठ साल का मासूम लापता, मामला दर्ज
  • भीलवाड़ा: अरवड़- कनेच्छनकला गांव में खेत में आग लगने से तीन बीघा की फसल खाक
  • अजमेर:डिस्कॉम ने तीन दिनों में उपभोक्ताओं से वसूले साढ़े 4 करोड़ रुपए, सौ कनेक्शन काटे
  • अजमेर: रजब के चांद का एलान, ख्वाजा साहब का 805वां उर्स शुरू
  • जयपुर के रामगंज में पुलिस की कार्रवाई, 30 बालश्रमिकों को छुड़ाया, आरोपी मोहम्मद अयूब गिरफ्तार
  • बांसवाड़ा: शहर के हाउसिंग बोर्ड चौराहे पर हुई चेन स्नेचिंग
  • जोधपुर: नागौर रोड पर दो कारों की भिड़ंत, एक घायल
  • पाली: चार ट्रांसपोर्ट फर्मों के दस्तावेज नगर परिषद में जब्त
  • प्रतापगढ़: पीपलखूंट के जंगल में लगी आग
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

ऐसे तो दवा भी कुछ नहीं कर पाएगी, जब तक इस पर अंकुश नहीं लगाएगी सरकार

Patrika news network Posted: 2017-03-18 10:59:32 IST Updated: 2017-03-18 10:59:32 IST
ऐसे तो दवा भी कुछ नहीं कर पाएगी, जब तक इस पर अंकुश नहीं लगाएगी सरकार
  • सरकार मरीजों के उपचार के लिए तो मेडिकल कॉलेज, निशुल्क दवा सरीखी विभिन्न योजनाएं लागू कर रही है लेकिन बीमारी के अहम कारण मिलावट को रोकने के प्रति गंभीर नहीं है।

सीकर

सरकार मरीजों के उपचार के लिए तो मेडिकल कॉलेज, निशुल्क दवा सरीखी विभिन्न योजनाएं लागू कर रही है लेकिन बीमारी के अहम कारण मिलावट को रोकने के प्रति गंभीर नहीं है। इसका नतीजा है कि जिले में पिछले पांच वर्ष के दौरान मिलावट का कारोबार जिस गति से बढ़ा है उस गति से जांच की ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। इसकी बानगी है कि जिले में मिलावट के नमूनों की जांच के लिए  बनी स्थाई प्रयोगशाला को भी सरकार ने  बंद कर दिया। अब मिलावट की जांच करने की जिम्मेदारी दो निरीक्षकों के भरोसे है। इसका नतीजा है कि जिले में खाद्य पदार्थों की जांच मिलावट का माल खपने के बाद ही मिल पाती है। इससे सभी दोषियों के खिलाफ कडी कार्रवाई नहीं हो पाती है।

 

Read:

हे राम! यहां तो जनप्रतिनिधि और अफसर ने ही ले ली इनकी जान



आकड़ों की जुबानी

विभाग के आंकडों के अनुसार 2016 में महज पांच लोगों को मिलावट पर एक वर्ष का कारावास दिया गया है। जबकि पिछले वर्ष दीवाली पर कुल 58 नमूने लिए गए। जिनमें से दूध, खोआ, पनीर, घी, चाय व सोहन पपडी में मिलावट मिली। इस दौरान पांच नमूने अमानक व पांच मिसब्रांड मिले। जबकि जिले में साढे नौ हजार से अधिक दुकानें व फैक्ट्री संचालित हो रही है। 


Read:

थाली में आएगा भी नहीं और रुलाकर चला जाएगा प्याज, जानें कैसे


1986 में एफएसएल लैब 


कल्याण अस्पताल में 1986 में एफएसएल लैब बनाई हुई थी। इस लैब में 1994 तक खाद्य पदार्थों के नमूनों की जांच होती थी। जिसमें सीकर व झुंझुनूं जिले के नमूने आते थे। उस दौरान नमूनों की जांच तीन से चार दिन में मिल जाती थी। और दोषियों के खिलाफ एक से तीन वर्ष तक सजा हो जाती थी। जिसे 1995 में बंद कर दिया। 


Read:

अब इसके लिए निजी अस्पतालों के नहीं लगाने होंगे चक्कर, जानें कैसे



निशुल्क लैब भी बंद


2010 से 2012 तक चल प्रयोगशाला जिला रसद अधिकारी के अधीन चलाई थी। जिसमें आम आदमी मिलावट की आंशका पर निशुल्क नमूनों की जांच करवा  सकता था। 

rajasthanpatrika.com

Bollywood