सीकर में जरा सी अनदेखी दे सकती है आपको जिंदगी भर का जख्म, विश्वास न हो तो खुद पढ़ लें ये खबर

Patrika news network Posted: 2017-05-18 14:48:51 IST Updated: 2017-05-18 14:48:51 IST
सीकर में जरा सी अनदेखी दे सकती है आपको जिंदगी भर का जख्म, विश्वास न हो तो खुद पढ़ लें ये खबर
  • राहत के नए सपने शहरवासियों के लिए मुसीबत बन गए है। सीवरेज व नाला निर्माण के नाम पर शहर में मनमर्जी से खुदाई का काम चल रहा है। इसका खामियाजा आमजन को पग-पग पर भुगतना पड़ रहा है।

सीकर

राहत के नए सपने शहरवासियों के लिए मुसीबत बन गए है। सीवरेज व नाला निर्माण के नाम पर शहर में मनमर्जी से खुदाई का काम चल रहा है। इसका खामियाजा आमजन को पग-पग पर भुगतना पड़ रहा है। हालत यह है कि सीवरेज निर्माण कंपनी अपने हिसाब से बिना सूचना के लिए खुदाई कर देती है। जेसीबी से खुदाई के कारण कई लोगों के घरों की दीवारों में दरार आ गई। इसके बाद भी जिम्मेदार लोगों को राहत नहीं दे पा रहे है। दूसरी तरफ नगर परिषद की ओर से शहर में कई स्थानों पर नाला निर्माण का कार्य भी किया जा रहा है। इस कारण भी लोगों की परेशानी बढ़ रही है। नगर परिषद के अधिकारियों का कहना है कि टूटी सड़कों की मरम्मत के लिए सार्वजनिक निर्माण विभाग को पैसा दे दिया है।




Read:

सुविधा के चक्कर में दुविधा में पड़ गए सीकर के बाशिन्दे, फोटो देखते ही समझ में आ जाएगा



केस एक: तीन दिन से बंद है दुकान


कलक्ट्रेट के पास बिना किसी सूचना के नाला खुदाई कर दी। इस कारण तीन दिन से इलाके की दुकान बंद है। निर्माण एजेन्सी से रास्ते में कही भी रास्ता बंद होने की सूचना के बोर्ड भी नहीं लगा रखे है। इस कारण लोगों को आधे रास्ते के बाद वापस लौटना पड़ता है। एजेन्सी अधिकारियों का कहना है कि यहां टेलिफोन की लाइनों का जाल होने के कारण काम की गति काफी धीमी है।





Read:

ये रास्ते हैं खतरनाक...पलक छपकते ही ले सकते हैं जान 



केस दो: रोजाना हादसे, कौन सुने फरियाद

बस डिपो के पास स्थित शांति नगर कॉलोनी में पिछले सप्ताह नाला बिछाने का काम हुआ। यह मार्ग भी जयपुर रोड से रीको क्षेत्र के लिए सम्पर्क सड़क है। यहां भी बिना सूचना के काम हुआ। टूटी सड़क व रेत के कारण रोजाना हादसे हो रहे है। इलाके के लोगों ने नगर परिषद व उपखंड अधिकारी कार्यालय में भी शिकायत दी। लेकिन कही कोई सुनवाई नहीं हो रही है।





Read:

खाटूश्याम और जीणमाता जा रहे हैं तो देख लें इस रोड की हालत 



पिछली गलतियों से नहीं लिया सबक


शहर में जनआक्रोश बढऩे के कारण ही आरयूआईडीपी ने सीवरेज का काम बंद कर दिया था। इसके बाद शहर में पांच वर्ष तक सीवरेज का काम बंद रहा। पिछली कंपनी ने शहर में एक साथ काम शुरू कर दिया और मरम्मत किसी मार्ग की कराई नहीं। एेसे में लोगों ने खूब आंदोलन किए। इसके बाद मजबूरन आरयूआईडीपी को निर्माण कंपनी पर 13 करोड़ की पैनल्टी लगाकर काम बंद करना पड़ा।

बारिश के पानी को देखते हुए शहर में कई स्थानों पर नाला निर्माण काम किया जा रहा है। सड़क की मरम्मत के लिए सार्वजनिक निर्माण विभाग को राशि दे दी है। जल्द सड़क का निर्माण कराया जाएगा। शहर में सीवरेज का काम एलएनटी कंपनी की ओर से किया जा रहा है।

जीवण खां, सभापति, नगर परिषद, सीकर

rajasthanpatrika.com

Bollywood