Breaking News
  • जोधपुर: एसीबी ने रिश्वत लेते पटवारी को पकड़ा, पटवारी ने फेंके रुपए
  • झुंझुनू: नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने 6.21 किलो अफीम के साथ दो लोगों को किया गिरफ्तार
  • जयपुर- चिकित्सा विभाग की ओर से बुधवार को सुबह 8 बजे से होगी तम्बाकू रोकथाम जनजागृति मैराथन दौड़
  • केकड़ी- ग्रामीणों की सजगता से बची 5 मोरों की जान
  • जालोर- सांचोर के डेडवा शरद में पकड़ा गया शराब से भरा ट्रक
  • जयपुर : नए खुलने वाले सात मेडिकल कॉलेजों में 711 पदों को मंजूरी
  • जयपुर : मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत प्रदेश में 411 पदों पर होंगी भर्तियां
  • बीकानेर : कैसीनो पर पुलिस का छापा, चार जनों को दबोचा
  • बीकानेर : पायलट का दावा... भाजपा को ज्यादा अंतर से हराएंगे, आप का कुछ नहीं
  • उदयपुर-जावरमाइंस : दुर्घटना में महिला की मौत, ग्रामीणों ने किया थाने का घेराव, नहीं उठाया शव
  • जयपुर: हाईकोर्ट ने मुख्य सचिव से रंगे हाथ पकडे जाने वालों को बर्खास्त नहीं करने पर मांगा स्पष्टीकरण
  • जयपुर- मुहाना में युवती का गला रेत कर हत्या, देर रात की घटना
  • कोटा एसपी भी हटे और पूरा थाना लाइन हाजिर हो, भाजपा विधायक चंद्रकांता मेघवाल अड़ी
  • जयपुर- डिस्कॉम ने लागू की कृषि कनेक्शन पर घटी बिजली दरें
  • अजमेर- महिला कांस्टेबल आत्महत्या मामले में पीसांगन SHO लाइन हाजिर
  • हनुमानगढ़- दोस्त की हत्या का आरोपी गिरफ्तार, आज होगा कोर्ट में पेश, 3 फरवरी को खेत में मिली थी लाश
  • जयपुर- करणी विहार पुलिस थाना क्षेत्र में 60 लाख की हरियाणा निर्मित शराब पकड़ी, ट्रक में हरियाणा से गुजरात ले जाई जा रही थी शराब
  • अलवर- स्कूलों में होगी मिड-डे मील की जांच, अधिकारी आज दूसरे दिन भी स्कूलों में जाकर करेंगे निरीक्षण
  • सूरतगढ़( श्रीगंगानगर)- जिला बनाने की मांग को लेकर आज सूरतगढ़ बंद, राजियासर,बीरमाना, जैतसर मंडी भी रहेगी बंद
  • जयपुर- NH 8 पर दूदू के पास पालू गांव में कार की चपेट में आने से टोल कर्मचारी की मौत, देर रात की घटना
  • उदयपुर- भूकंप से 90 घंटे पहले जारी हो सकेगा अलर्ट, भूवैज्ञानिक गोविंद सिंह भारद्वाज ने तैयार की चेतावनी प्रणाली
  • जयपुर- सांगानेर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के सामने मिला भ्रूण, सांगानेर पुलिस जुटी जांच में
  • अलवर- केंद्रीय पर्यटन मंत्री महेश शर्मा आज बहरोड़ में, एक कार्यक्रम में करेंगे शिरकत
  • जयपुर- करधनी थाना पुलिस ने दस किलो गांजे के साथ एक व्यक्ति को पकडा, बाढ पीथावास में बेचने के लिए घूम रहा था आरोपी
  • झालावाड़- सरेड़ी में खेत में पिलाई करते किसान की करंट लगने से मौत
  • जयपुर- बर्तन ठीक करने के बहाने तीन महिलाओं ने सास-बहू को चकमा देकर उड़ाए जेवरात, मुहाना थाना पुलिस जुटी जांच में
  • भीलवाड़ा- टेक्सटाइल पॉलिसी पर मेवाड़ चेम्बर भवन में कार्यशाला आज
  • राजसमंद- देवगढ़ में व्यक्ति ने लगाई फांसी
  • कोटा- भूखंड निरस्त करने का मामला, विभिन्न समाजों के प्रतिनिधि आज जयपुर में मुख्यमंत्री से मिलेंगे
  • टोंक- दूनी की दुर्गापुरा ढाणी स्थित चापोलाई नाडी के पास मिला भ्रूण
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

राजस्थान के सबसे बड़े अस्पताल की दुर्लभ सफलता, अफ्रीकी मरीज का ₹ 2.5 लाख मेें बोन मैरो ट्रांसप्लांट

Patrika news network Posted: 2016-12-01 16:15:49 IST Updated: 2016-12-01 16:15:49 IST
राजस्थान के सबसे बड़े अस्पताल की दुर्लभ सफलता, अफ्रीकी मरीज का ₹ 2.5 लाख मेें बोन मैरो ट्रांसप्लांट
  • चिकित्सा मंत्री राठौड़ ने नाइजीरियाई के बोन मैरो ट्रांसप्लांट करने पर अस्पताल के डॉक्टरों की टीम को दी बधाई। दो करोड़ में रीड़ - तंत्र एक आदमी से दूसरे में स्थानांतरित होता है, यहां केवल ढाई लाख रु. में निपटाया..

जयपुर.

राजस्थान के सबसे बड़े सवाई मानसिंह अस्पताल में भले ही अभी तक लीवर ट्रांसप्लांट की राह आसान न हुई हो लेकिन बोन मैरो ट्रांसप्लांट करके यहां मरीजों को नई जिंदगी दी जा रही है। न सिर्फ प्रदेश के बल्कि अब विदेशी मरीज भी यहां बोन मैरो ट्रांसप्लांट कराने के लिए आने लगे हैं।


हाल ही में अस्पताल के बोन मैरो ट्रांसप्लांट यूनिट में एक नाइजीरियन मरीज का बोन मैरो ट्रांसप्लांट किया गया है। उसके ऑटोलोगस ट्रांसप्लांट हुआ है। इससे अब उम्मीद जताई जा रही है कि जल्द ही सवाई मानसिंह अस्पताल भी विदेशी मरीजों के लिए सस्ते इलाज का एक नया डेस्टिनेशन होगा और इससे मेडिकल टूरिज्म को बढ़ावा मिलेगा।


अस्पताल की बोन मैरो ट्रांसप्लांट यूनिट के हैड डॉ. संदीप जसूजा बताते हैं कि नाइजीरिया के रहने वाले मोइनी डेविड (42) के इसी साल जनवरी में मल्टीपल माइलोमा का पता चला था। उसके मुंबई में इस बीमारी के बारे में पता चला था। जब उसने दूसरे देशों में इस बीमारी के इलाज का खर्च पता किया तो वहां करीब दो करोड़ रुपए तक इस बीमारी का खर्चा बताया।


उसके बाद किसी ने जयपुर के एसएमएस अस्पताल का रैफरेंस दिया। यहां उसने बोन मैरो ट्रांसप्लांट के लिए डॉ. संदीप जसूजा से सम्पर्क किया। उसका एसएमएस अस्पताल में ढाई लाख रुपए में बोन मैरो ट्रांसप्लांट किया गया है। उसके 19 नवंबर को यह ट्रांसप्लांट हुआ। डॉ. जसूजा बताते हैं कि उसके ऑटोलोगस ट्रांसप्लांट हुआ जिसमें उसके शरीर से ही बोन मैरो लेकर ट्रांसप्लांट किया गया है। जल्द ही उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी जाएगी।


चिकित्सा मंत्री ने दी बधाई :

चिकित्सा मंत्री राजेन्द्र राठौड़ ने नाइजीरिया के मरीज का बोन मैरो ट्रांसप्लांट करने पर अस्पताल के डॉक्टरों की टीम को बधाई दी है। साथ ही इस पर खुशी जाहिर की है कि मेडिकल टूरिज्म को बढ़ाने में सरकारी अस्पतालों का योगदान भी बढ़ेगा।


अब तक 42 बोन मैरो ट्रांसप्लांट :

एसएमएस अस्पताल में अब तक 42 बोन मैरो ट्रांसप्लांट हो चुके हैं। जिसमें 22 ऑटोलोगस बोन मैरो ट्रांसप्लांट किए गए हैं। अस्पताल में पिछले आठ-नौ वर्षो से यह बोन मैरो ट्रांसप्लांट हो रहा है।


Read: SMS बना दुनिया का सबसे बड़ा हीमोफीलिया उपचार केंद्र, यूएस-कनाडा भी पीछे

SMS अस्पताल में अब थ्री-डी ईको जांच भी हो सकेगी, मिलेगा 1 करोड़ रु. की मशीन से लाभ

विदेशी महिलाओं की सूनी गोद भर रहा जयपुर, हर साल 1200 मांओं की गोद में खेल रहे बच्चे

rajasthanpatrika.com

Bollywood