Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

कलक्ट्रेट के बाहर लगाया जाम, की नारेबाजी

Patrika news network Posted: 2017-06-19 17:59:45 IST Updated: 2017-06-19 19:28:45 IST
कलक्ट्रेट के बाहर लगाया जाम, की नारेबाजी
  • शहर के बगवास स्थित कच्ची बस्ती में 16 जून को नगर परिषद की मोर्निंग फॉलोअप की टीम से श्रमिक नेता के विवाद के बाद मौत होने के मामले ने सोमवार को फिर से तूल पकड़ लिया।

प्रतापगढ़ शहर के बगवास स्थित कच्ची बस्ती में 16 जून को नगर परिषद की मोर्निंग फॉलोअप की टीम से श्रमिक नेता के विवाद के बाद मौत होने के मामले ने सोमवार को फिर से तूल पकड़ लिया। श्रमिक संगठनों, मुस्लिम संगठन, लोक स्वातंत्रय संगठन (पीयूसीएल) व कच्ची बस्ती के कई लोग मिनी सचिवालय पहुंचे। जहां धरियावद रोड पर जाम लगाया और नारेबाजी की। विभिन्न संगठनों की ओर से जिला कलक्टर नेहा गिरी को ज्ञापन सौंपा गया। जिसमें मामले की निष्पक्ष जांच और कार्रवाई की मांग की गई। इसके साथ ही कच्ची बस्ती के लोगों को पट्टे दिलाने की भी मांग की गई।

 गौरतलब है कि 16 जून को नगर परिषद की स्वच्छता अभियान की टीम बगवास स्थित कच्ची बस्ती में सुबह मोर्निंग फोलोअप टीम और कच्ची बस्ती के श्रमिक नेता जफर खां (55) पुत्र रुस्तम खां के साथ विवाद हो गया था। इसके बाद जफर की तबीयत बिगडऩे पर जिला चिकित्सालय ले जाया गया। जहां उसकी मौत हो गई। इस मामले में जिला चिकित्सालय में हंगामा हुआ और एनएच 113 पर जाम भी लगाया गया। समझाइश के दौरान मृतक के परिवार को दो लाख रुपए की आर्थिक सहायता, एक सदस्य को स्थानीय निकाय में नौकरी दिलाने के आश्वासन पर मामला शांत हुआ। वहीं मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाया गया। जिसमें जफर की मौत ह्दय गति और श्वसन तंत्र रुकने से होना बताया गया, वहीं दूसरी ओर विसरा लिया गया और एफएसएल जांच के लिए उदयपुर भेजा गया। जहां रिपोर्ट में मौत का कारण हार्ट अटैक बताया गया।

मामले में सोमवार को फिर से तूल पकड़ लिया। मुस्लिम समाज के लोग, श्रमिक संगठन, आदि के पदाधिकारी कच्ची बस्ती पहुुंचे। जहां से रैली के रूप में मिनी सचिवालय पहुंचे। जहां प्रतापगढ़-धरियावद मार्ग पर जाम लगा दिया और नारेबाजी शुरू कर दी। करीब आधे घंटे तक यहां मार्ग अवरुद्ध रहा। इस पर पुलिस-प्रशासन ने समझाइश कर मामला शांत कराया। मिनी सचिवालय परिसर में लोगों ने जमकर नारेबाजी की।इसके बाद लोग कलक्ट्रेट कार्यालय पहुंचे।जहां विभिन्न मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपा गया। जिसमें मामले में निष्पक्ष जांच की भी मांग की गई। इस मौके पर जिला कलक्टर नेहा गिरि ने दो लाख रुपए की सहायता राशि का चेक मृतक की पुत्री को सौंपा। इस मौके पर कच्ची बस्ती के लोगों ने अपने मकानों के पट्टे दिलाने की मांग रखी। इस पर एक कमेटी का गठन किया गया।

नगर परिषद सभापति के खिलाफ प्रदर्शन

मिनी सचिवालय के बाहर नगर परिषद सभापति के खिलाफ प्रदर्शन किया और नारेबाजी की गई।

मंडी में दो घंटे बंद रहा कार्य

कृषि उपज मंडी में मृतक को श्रद्धांजलि के लिए दो घंटे तक कार्य बंद रखा गया। हम्माल संघ अध्यक्ष जफरुद्ीन ने बताया कि हम्मालों ने कार्य बंद रखा और रैली में शामिल हुए।

निष्पक्ष जांच का आश्वासन

 जिला कलक्टर नेहा गिरि ने जफर खान की मृत्यु की निष्पक्ष जांच करने, मृतक आश्रितों को समुचित आर्थिक सहायता दिलवाने तथा कच्ची बस्ती का नियमन कर पट्टे जारी करने का आश्वासन दिया है।जिला कलक्टर ने इस दौरान मौजूद एसपी शिवराज मीणा को निष्पक्ष जांच के लिए कहा और अन्य अधिकारियों को भी कच्ची बस्ती में सुविधाओं के विकास के लिए निर्देश दिए।


rajasthanpatrika.com

Bollywood