Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

Nagaur : सांवराद में भडक़ाऊ भाषण देने के आरोप में एक महिला सहित दो गिरफ्तार

Patrika news network Posted: 2017-07-16 20:21:01 IST Updated: 2017-07-17 12:04:39 IST
Nagaur : सांवराद में भडक़ाऊ भाषण देने के आरोप में एक महिला सहित दो गिरफ्तार
  • 12 जुलाई को सांवराद में आयोजित श्रद्धांजलि सभा में लोगों को हिंसा के लिए उकसाने का आरोप

लाडनूं/नागौर. नागौर पुलिस ने गत 12 जुलाई को गैंगस्टर आनंदपालसिंह के गांव सांवराद में आयोजित श्रद्धांजलि सभा के दौरान भडक़ाऊ भाषण देने तथा लोगों को हिंसा के लिए भडक़ाने के आरोप में एक महिला सहित दो मुख्य आरोपितों को गिरफ्तार किया है। अजमेर रेंज आईजी मालिनी अग्रवाल व नागौर एसपी परिस देशमुख के निर्देशन में गठित टीमों ने रविवार को महिला को दिल्ली से तथा आरोपित युवक को जयपुर से गिरफ्तार किया है।


वीडियो : आनंदपाल के फार्म हाउस को देखकर हैरान रह गए पुलिस अधिकारी


पुलिस के अनुसार जांच अधिकारी टोंक के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अवनीश कुमार ने महिपाल सिंह (35) पुत्र धूड़ सिंह निवासी विजय पैलेस, सदर बाजार, मकराना हाल गोविन्द नगर, खातीपुरा रोड, झोटवाड़ा, जयपुर से गिरफ्तार किया, जबकि एक अन्य टीम ने सीमा राघव (37) पत्नी महेन्द्रपाल सिंह चौहान मकान नंम्बर 1625 डी-1, थाना रोड, नजफगढ़, दिल्ली को गिरफ्तार किया है।


read : आखिर हो गया आनंदपाल का अंतिम संस्कार


पुलिस के अनुसार लोगों में हिंसा के लिए जोश पैदा करने वाली सीमा राघव की गिरफ्तारी के लिए गठित विशेष टीम के गोटन थानाधिकारी भारत रावत, एसआई गीता बिश्नोई, एएसआई भंवरलाल, कांस्टेबल जगदीश, राजेश, ओम, चन्दाराम, नन्दू कंवर, सरोज ने दिल्ली से गिरफ्तार किया। घटना के दौरान की गई फोटोग्राफी, वीडियोग्राफी, ड्रॉन फोटोग्राफी तथा वाहनों के आधार पर अन्य आरोपितों की पहचान की जा रही है। साथ ही भडक़ाऊ भाषण देने वाली महिला ने पुलिस पूछताछ में और भी काफी लोगों के नाम बताए हैं, जिनकी शीघ्र गिरफ्तारी होने की संभावना है।


Video : सांवराद में पुलिस के पुख्ता इंतजाम, चप्पे-चप्पे पर रहेगी नजर

भडक़ाऊ भाषण से हिंसा के लिए उकसाया

एसपी देशमुख ने बताया कि श्रद्धांजलि सभा के दौरान भीड़ को सीमा राघव द्वारा विशेष रूप से भडक़ाऊ भाषण दिए जाकर एवं स्वयं द्वारा अग्रेसित होकर लोगों को रेलवे ट्रेक उखाडऩे, स्टेशन, आग लगाने एवं पुलिसकर्मियों जलाने जैसे भडक़ाऊ शब्दों का प्रयोग हिंसा भडक़ाई गई।


विभिन्न धाराओं में दर्ज हैं मामले

गौरतलब है कि नागौर के सांवराद गांव में आनन्दपालसिंह एनकाउण्टर मामले में 12 जुलाई को राजपूत व रावणा राजपूत समाज द्वारा आक्रोश रैली/श्रद्धांजलि सभा में लोगों को उपद्रव करने, जगह-जगह आगजनी, पथराव तथा रास्ता जाम करने व उपद्रवियों द्वारा रेलवे ट्रेक को आग लगाने, रेलवे लाइन उखाडऩे, रेलवे स्टेशन पर तोडफ़ोड़ कर कर्मचारियों को बंधक बनाकर उन पर केरोसीन डालकर जलाने का प्रयास करने, पुलिस अधीक्षक के वाहन को जलाने, उपद्रवियों द्वारा पुलिसकर्मियों के साथ गम्भीर मारपीट करने तथा उपद्रवियों द्वारा पुलिस जाप्ता से हथियार छीन कर ले जाने के क्रम में विभिन्न धाराओं में मामले दर्ज किए गए हैं। प्रकरण संख्या 115/2017 धारा 147, 148, 149, 342, 363, 366, 354ए, 283, 325, 326, 435, 332, 353, 307, 397, 109, 120बी भा.द.स. 3/25, 3/27 आम्र्स एक्ट, 3, 4 पीडीपीपी एक्ट पुलिस थाना जसवन्तगढ़ में अजमेर रेंज आईजी मालिनी अग्रवाल एवं नागौर पुलिस अधीक्षक परिस देशमुख द्वारा लगातार लाडनूं पुलिस थाने में कैम्प कर आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए गठित टीमों का प्रभावी पर्यवेक्षण किया जा रहा है। 

rajasthanpatrika.com

Bollywood