इधर लिखा ठेका बंद है, उधर डीओ को थमा दी खाली बोतल

Patrika news network Posted: 2017-04-20 20:59:13 IST Updated: 2017-04-20 20:59:13 IST
इधर लिखा ठेका बंद है, उधर डीओ को थमा दी खाली बोतल
  • आबकारी अधिकारी को महिला कांगे्रस कार्यकर्ताओं ने सुनाई खरी-खरी

शराब की दुकानों को लेकर महिलाओं का आक्रोश कम होने का नाम नहीं ले रहा। दुकानें खुलने व हटाने को लेकर हर जगह विरोध जारी है। गुरुवार को भी नयापुरा क्षेत्र में खुली एक देसी शराब की दुकान पर महिलाओं ने ताला जड़ दिया। जबकि दूसरी ओर कई महिलाओं ने जिला आबकारी अधिकारी का घेराव कर खाली बोतलें थमा दी।

नयापुरा मुक्तिधाम मार्ग पर लगी देसी शराब की दुकान को स्थानीय महिलाओं ने ताला लगाकर बंद कर दिया। यही नहीं आक्रोशित महिलाओं ने दीवार पर लिख दिया कि ठेका बंद है। महिलाओं ने बताया कि यहां शराब की दुकान की अनुमति देने के विरोध में प्रदर्शन किया था। तब पुलिस ने यहां दुकान नहीं खुलने का आश्वासन दिया था, लेकिन एक सप्ताह बाद ही खुल गई। अब दुकान के आसपास दिनभर लोग शराब पीते हैं। इससे महिलाओं को परेशानी होती है।

इधर महिला कांगे्रस कार्यकर्ताओं ने जिला आबकारी अधिकारी मानसिंह मीणा का घेराव कर उन्हें शराब की खाली बोतलें देकर खरी-खरी सुनाई। महिलाओं ने कहा कि इन बोतलों को बेच विभाग राजस्व पूरा कर सकता है। जिला अध्यक्ष रचना राठौर ने कहा कि आबकारी विभाग ने बाजारों के बीच में शराब की दुकानें खोलने की अनुमति दे दी। गुमानपुरा में तो करीब आधा दर्जन शराब की दुकानें खोली गई हैं। यहां के बाजारों में महिलाओं की आवाजाही अधिक रहती है। महिलाओं को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। कार्यकर्ताओं ने आबकारी अधिकारी को ज्ञापन सौंप बीच बाजारों से शराब की दुकानों को हटाने की मांग की।

rajasthanpatrika.com

Bollywood