Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

video: रिश्तेदार ने ही बनाई थी ज्वैलर को लूटने की योजना

Patrika news network Posted: 2017-03-14 22:48:02 IST Updated: 2017-03-14 22:57:57 IST
video: रिश्तेदार ने ही बनाई थी ज्वैलर को लूटने की योजना
  • महावीर नगर थाना क्षेत्र स्थित ज्वैलर्स की दुकान पर गत दिनों दिनदहाड़े फायर कर लूट का प्रयास करने के मामले में पुलिस ने दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है। जिन्हें मंगलवार को अदालत में पेश कर पूछताछ के लिए 5 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है।

कोटा.

महावीर नगर थाना क्षेत्र स्थित ज्वैलर्स की दुकान पर गत दिनों दिनदहाड़े फायर कर लूट का प्रयास करने वाला कोई और नहीं उसका रिश्तेदार ही निकला। पुलिस ने इस मामले में दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है। जिन्हें मंगलवार को अदालत में पेश कर पूछताछ के लिए 5 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है।

एसपी सवाई सिंह गोदारा ने बताया कि केशवपुरा स्थित कनक ज्वैलर्स के मुनीम द्वारका प्रसाद ने 8 मार्च को रिपोर्ट दी थी कि दो जनों ने दुकान पर आकर लूट का प्रयास किया। उन्होंने फायर किए, लेकिन वह बच गया। इसके बाद पिस्टल के बट से सिर पर वार किया और भाग गए। आईजी विशाल बंसल व एसपी ने मौका देखा और सीसीटीवी फुटेज व तकनीकी अनुसंधान शुरू किया।





 एएसपी अनंत कुमार, आईपीएस चूनाराम जाट, अनंतपुरा सीआई अनिल जोशी, महावीर नगर थाने के उप निरीक्षक ओम प्रकाश व रामस्वरूप की टीम गठित कर आरोपितों की तलाश शुरू की। इस घटना में मुख्य अभियुक्त भरतपुर निवासी दीपक गुप्ता (33) और बालाजी टाउन खेड़ली फाटक निवासी आशीष सोनी (23) के शामिल होने पर दोनों को गिरफ्तार किया गया। 


पुलिस पूछताछ में आशीष ने बताया कि वह बेरोजगार है और उसे जल्दी पैसा भी कमाना था। एेसे में अपने परिचित हार्डकोर अपराधी दीपक से संपर्क हुआ। घटना के आठ दिन पहले दीपक कोटा आया और यहां होटल में रुके। उसने लूट की योजना बनाना शुरू किया था। एसपी ने बताया कि पूछताछ में पता चला कि आरोपितों ने इससे पहले भी स्वर्ण रजत मार्केट स्थित आशीष के रिश्तेदार की दुकान पर भी रैकी कर उसे लूटने की योजना बनाई थी।

लोकेशन से आशीष पर शक

पुलिस सूत्रों ने बताया कि इस मामले में सीसीटीवी फुटेज के अलावा कोई सबूत नहीं था। एेसे में पुलिस ने लोकेशन पर कार्य कर रहे मोबाइल नंबरों को ट्रेस किया। इसमें एक नंबर आशीष का आया जो घटना के समय लोकेशन पर ट्रेस हुआ। साथ ही एक दिन पहले भी यह नंबर तीन बार लोकेशन पर ट्रेस हुआ। एेसे में इस आरोपित को पूछताछ के लिए बुलाया। उसी ने बताया कि इस मामले में दीपक भी शामिल है।

दूर का रिश्तेदार है

कनक ज्वैलर्स के मालिक धर्मेन्द्र सोनी ने बताया कि आशीष और उसके पिताजी उनके दूर के रिश्तेदार हैं। वह कुछ माह पूर्व अपनी बहिन की शादी का कार्ड देने आया था।

rajasthanpatrika.com

Bollywood