मेटा महोत्सव में छाए कोटा के रंगकर्मी

Patrika news network Posted: 2017-03-15 19:21:49 IST Updated: 2017-03-15 19:21:49 IST
मेटा महोत्सव में छाए कोटा के रंगकर्मी
  • लंबे अरसे बाद कोटा के रंगकर्मियों ने एक बार फिर राष्ट्रीय स्तर पर अपनी उपस्थित दर्ज कराई है। 12वें मेटा महोत्सव में कवि सूर्यमल के जीवन पर आधारित नाटक की जीवंत प्रस्तुति करने पर रंगकर्मी राजेंद्र पांचाल को सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।

कोटा.

मेटा के 12वें नाट्य व रंगारंग पुरस्कार वितरण समारोह में महिन्द्रा एक्सीलेंस इन थियेटर अवार्डस एंड फेस्टिवल के लिए चयनित देशभर के दस नाटकों में कोटा के रंगकर्मी राजेन्द्र पांचाल द्वारा निर्देशित नाटक 'कथा सुकवि सूर्यमल्ल की' को सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरुष को पुरस्कार से सम्मानित किया गया।


फेस्टिवल ने 10 नामांकित नाटकों का मंचन किया। नाटक में मुख्य भूमिका में सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार राजेंद्र पांचाल (कथा सुकवि सूर्यमल्ल की) एवं अनिर्बान भट्टाचार्य (अवदयोश रजनी) को संयुक्त रूप से प्रदान किया गया। 86 साल के प्रसिद्ध थियेटर दिग्गज अरुण काकडे को भारतीय थिएटर में उनके महत्वपूर्ण योगदान के लिए मेटा लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार से सम्मानित किया गया। मेटा 2017 के लिए जूरी में थियेटर के दिग्गज डॉली ठाकुर, महेश दत्तानी, सचिन खेडेकर, सीमा बिस्वास, अविजित दत्त और माया कृष्ण राव शामिल थे।


महिन्द्रा समूह और टीम वर्क की ओर संयुक्त रूप से होने वाले मेटा महोत्सव में मनोज बाजपेयी, सुषमा सेठ, एम. के. रैना, बबल्स सभरवाल, दादी पुदुमजी, विनोद नागपाल, संजना कपूर, निकोलस, जिम हॉलिंगटन जैसे कई दिग्गज मौजूद थे। समूह के सांस्कृतिक विस्तार कार्यक्रम प्रमुख जय शाह ने बताया कि यह थिएटर कर्मियों के लिए एक प्रमुख सम्मान है, जिसके तहत प्रतिष्ठित लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड सहित 14 श्रेणियों में ऑन- स्टेज और ऑफ-स्टेज प्रतिभा को पुरस्कृत किया जाता है।

rajasthanpatrika.com

Bollywood