मंडी सचिव जांच में दोषी, चालान पेश

Patrika news network Posted: 2016-12-01 21:01:24 IST Updated: 2016-12-01 21:01:24 IST
मंडी सचिव जांच में दोषी, चालान पेश
  • रिश्वत लेने का 5 माह पुराना मामला

कोटा. करीब 5 माह पहले रिश्वत लेते गिरफ्तार हुए कृषि उपजमंडी समिति छपड़ा के तत्कालीन सचिव के जांच में दोषी पाए जाने पर एसीबी कोटा ने गुरुवार को उसके खिलाफ अदालत में चालान पेश किया।

इंद्रा कॉलोनी छबड़ा निवासी नवीन कुमार अग्रवाल की शिकायत पर एसीबी बारां ने मंडी सचिव बलवीरसिंह मीणा को 17 जून को 10 हजार रुपए रिश्वत राशि लेते गिरफ्तार किया था। 


नवीन ने एसीबी में दी शिकायत में कहा था कि उनकी फर्म अग्रवाल एग्रो का लाइसेंस निलम्बित था। उसे बहाल करवाने के लिए उसने आवेदन किया था। फर्म के लाइसेंस को बहाल करने की एवज में बलवीर ने 10 हजार रुपए रिश्वत की मांग की थी।


इस पर एसीबी ने उसे गिरफ्तार किया था। मामले की जांच कर रहे एसीबी कोटा के एएसपी ने जांच में दोषी पाए जाने पर बलवीरसिंह मीणा के खिलाफ गुरुवार को अदालत में चालान पेश किया।

rajasthanpatrika.com

Bollywood