Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

#पत्रिका_इम्पेक्टः बढ़ेगा जमीन का 'कोटा', नहीं पड़ेगा कब्रों का टोटा

Patrika news network Posted: 2017-06-10 18:39:36 IST Updated: 2017-06-10 22:02:32 IST
#पत्रिका_इम्पेक्टः बढ़ेगा जमीन का 'कोटा', नहीं पड़ेगा कब्रों का टोटा
  • कोटा में ईसाइयों के अंतिम संस्कार के लिए जगह की कमी नहीं रहेगी। इसके लिए यूआईटी जमीन आवंटित करेगी। हालांकि यूआईटी ने जमीन आवंटित करने से पहले ईसाई समुदाय से इस बाबत प्रस्ताव मांगा है।

कोटा.

कोटा में अब कब्रों के लिए जगह कम नहीं पड़ेगी। ईसाई समुदाय के लिए नया कब्रिस्तान बनाने को नगर विकास न्यास जमीन आवंटित करेगा। यूआईटी चेयरमैन ने ईसाई समुदाय से इस बाबत प्रस्ताव मांगा है। 

कोटा में ईसाइयों के दस हजार परिवार रहते हैं, लेकिन मृतकों का अंतिम संस्कार करने के लिए रेलवे स्टेशन क्षेत्र के सुन्दर नगर में इकलौता सौ साल पुराना कब्रिस्तान है। जहां शवों को दफनाने के लिए अब खाली जमीन नहीं बची है। जिसके चलते इस समुदाय के लोग अपने दिवंगत परिजनों को पुरानी कब्रों के ऊपर दोबारा कब्र बनाकर दफना रहे हैं। इतना ही नहीं कुछ परिवारों ने तो इस परेशानी से बचने के लिए कब्रों की एडवांस बुकिंग तक करा ली है। 


Read More: OMG! कोटा में हो रही कब्र की एडवांस बुकिंग


पत्रिका ने उठाया मुद्दा तो आई सुध 

राजस्थान पत्रिका ने 9 और 10 जून को ईसाई समुदाय की इस बड़ी समस्या पर 'खत्म हुआ कब्रिस्तान का कोटा, पड़ा जमीन का टोटा' और 'कोटा में हो रही कब्रों की एडवांस बुकिंग' खबरें प्रकाशित की थीं। जिसके बाद यूआईटी चेयरमैन रामकुमार मेहता ने इस समस्या के समाधान का आश्वासन दिया है। राजस्थान पत्रिका से विशेष बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि ईसाई समुदाय की ओर से ग्रेवयार्ड के लिए जमीन आवंटन की अभी तक कोई मांग नहीं आई थी, इसलिए इस परेशानी के बारे में जानकारी ही नहीं हो सकी। अब समस्या सामने आई है तो इसका जल्द निस्तारण करेंगे। उन्होंने ईसाई समुदाय से इस बाबत प्रस्ताव देने को भी कहा, ताकि पता चल सके कि उन्हें शहर के किस क्षेत्र में कब्रिस्तान के लिए जगह की जरूरत है। 


Read More: बैकफुट पर आई सरकार, निजी कंपनियों को अब नहीं सौंपेगी विद्युत वितरण



ईसाई समुदाय ने बुलाई आपात बैठक

कब्रिस्तान के लिए नई जमीन आवंटन को लेकर ईसाई समुदाय ने आपात बैठक बुलाई है। कोटा मसीह संगति समिति व कोटा ईसाई सर्व चर्च संघर्ष समिति के बैनर तले सोमवार शाम 6.30 बजे कलक्टर के बंगले के सामने सीएनआई मिशन कम्पाउण्ड में बैठक होगी। इसमें 26 चर्चो के प्रतिनिधि, पादरी व ईसाई समाज के लोग भाग लेंगे। समाज के आमजन को भी आमंत्रित किया है। इसके लिए संगत समिति की ओर से समाज के सभी परिवारों को मैसेज जारी किए गए हैं। समिति के अध्यक्ष संदीप पॉल ने बताया कि बैठक में समाज के कब्रिस्तान के लिए नई जमीन आवंटन, समुदाय केन्द्र व स्कूल जमीन को लेकर चर्चा की जाएगी। वहीं कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भी शनिवार को यूआईटी चेयरमैन को ज्ञापन सौंपा। 


Read more: राजस्थान के इस बड़े अस्पताल में खत्म हुई ऑक्सीजन, उखड़ने लगी मरीजों की सांस

जताया आभार, पीएम व सीएम को ट्वीट

ईसाई समुदाय के लिए कब्रिस्तान के लिए नई जमीन का आवंटन नहीं होने के मामले में ईसाई समाज के लोगों ने राजस्थान पत्रिका की खबरों को आधार बनाकर प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री व कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट को सोशल मीडिया पर ट्वीट कर मदद व सहयोग की मांग की है।

rajasthanpatrika.com

Bollywood