Video: एसपी भौमिया से बातचीत: महिलाओं व विद्यार्थियों को मिलेगा सुरक्षा का माहौल

Patrika news network Posted: 2017-05-12 09:04:56 IST Updated: 2017-05-12 09:40:05 IST
  • पिछले कुछ दिनों से शहर में आपराधिक वारदातों में इजाफा हुआ है। दिनदहाड़े हत्या, चेन लूट, चाकूबाजी और चोरी की वारदातों से पुलिस के इकबाल पर आंच आई है।कार्यभार ग्रहण करने के बाद शहर नए एसपी अंशुमान भौमिया ने सवालों के दिए जवाब।

पिछले कुछ दिनों से शहर में आपराधिक वारदातों में इजाफा हुआ है। दिनदहाड़े हत्या, चेन लूट, चाकूबाजी और चोरी की वारदातों से पुलिस के इकबाल पर आंच आई है। गुरुवार को कार्यभार ग्रहण करने के बाद शहर और शहरवासियों की सुरक्षा को लेकर पत्रिका संवाददाता ने सवालों पर नए एसपी अंशुमान भौमिया यूं बोले... 


सवाल: आए दिन महिलाओं के साथ पर्स व चेन स्नेचिंग की वारदातें हो रही हैं। कैसे रोकेंगे? 

भौमिया : भीड़भाड़ वाले इलाकों, स्कूल व कोचिंग संस्थानों के आस-पास संबंधित थानों की पुलिस की गश्त बढ़ाई जाएगी। अपराध वाले स्थानों को चिन्हित कर चेतक व गश्ती वाहनों को तैनात किया जाएगा। पुलिस की मौजूदगी होने से अपराध नियंत्रित रहेंगे।    

 

सवाल: कोचिंग विद्यार्थियों के आपराधिक गतिविधियों में लिप्त होने व उनके साथ होने वाले अपराधों को किस तरह से सुधार जाएगा। 

जवाब: शहर में पूरे देशभर से करीब एक से डेढ़ लाख विद्यार्थी यहां रह रहे हैं ऐसे में उनकी सुरक्षा व सुविधा का ध्यान रखा जाएगा। कोचिंग संचालकों से मिलकर उनकी समस्याओं को जानेंगे और समाधान करेंगे। जो विद्यार्थी आपराधिक गतिविधि में लिप्त होगा, उस पर निगाह कर कार्यवाही करेंगे।


Read More: सेहत से खिलवाड़ : सावधान! सेहत पर भारी जहरीली सब्जियां और फल

सवाल: थानों में सुनवाई नहीं होती और कई बार तो पुलिस वाले  रिपोर्ट तक दर्ज नहीं करते। 

जवाब: पीडि़त की थाने में सुनवाई होगी। अपराध होने पर रिपोर्ट दर्ज कर तुरंत कार्यवाही की जाएगी।  समय पर अनुसंधान पूरा किया जाएगा। ऐसे आदेश थानाधिकारियों को देंगे।

Read More:  ऐसा क्या हुआ कि आईजी ने सीसवाली थानाधिकारी व एएसआई को किया सस्पेंड

सवाल: हार्डकोर अपराधियों व हिस्ट्रीशीटरों द्वारा किए जाने वाले अपराधों पर कैसे लगाम लगाएंगे?

जवाब: शहर में सभी थाना स्तर के हार्डकोर अपराधियों व हिस्ट्रीशीटरों के रिकॉर्ड का रिव्यू कर टॉप 5 व टॉप 10 अपराधियों को चिन्हित कर सूची बनाई जाएगी। उसके आधार पर  नियमित अपराध करने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी। अपराध करने वालों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा।  


सवाल: शहर की यातायात व्यवस्था काफी गड़बड़ाई है। उसे किस तरह से ठीक करेंगे?  



जवाब: आमजन का सीधा वास्ता ट्रैफिक से ही पड़ता है। घर से निकलने से लेकर दफ्तर व बाजार जाने तक हर व्यक्ति ट्रैेफिक से रूबरु होता है। हालांकि ट्रैफिक में नफरी कम है, लेकिन फिर भी सिपाहियों को इस तरह से नियुक्त किया जाएगा, जिससे आमजन को ट्रैफिक में किसी तरह की परेशानी नहीं हो। 


Read More: दुल्हन बालिग, दूल्हा नाबालिग, तोरण से पहले पुलिस ने पकड़ा

सवाल: शहर में सीसीटीवी लगाने का प्रोजेक्ट अधूरा पड़ा है। उसे कब तक पूरा किया जाएगा?

जवाब: जयपुर  की तर्ज पर ही कोटा में भी कमांड एण्ड कंट्रोल सेंटर सीएडी रोड पर बनाया जा रहा है। इसका अधिकांश काम पूरा हो गया है। इसे जल्ही ही शुरू किया जाएगा। साथ ही व्यापार संघ, जनप्रतिनिधियों और कोचिंग संचालकों से भी आवश्यक स्थानों पर सीसीटीवी लगाने का आग्रह किया जाएगा। पुलिस के सीसीटीएनएस सिस्टम को भी सुधारा जाएगा। 

rajasthanpatrika.com

Bollywood