Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

तेज हवा के साथ बारिश ने मचाया कोहराम, अंधेरे में डूबा शहर

Patrika news network Posted: 2017-06-27 21:05:24 IST Updated: 2017-06-27 21:05:24 IST
तेज हवा के साथ बारिश ने मचाया कोहराम, अंधेरे में डूबा शहर
  • कोटा शहर में मंगलवार शाम तेज हवा के साथ हुई बारिश में कई विद्युत लाइनों पर फाल्ट आए। इससे 33 केवी लाइनें ट्रिप हो गई व इंसुलेटर पंक्चर हो गए। कई जगह बिजली आपूर्ति ठप हो गई। सीईएससी की टीमें देर रात तक लाइनों को ठीक करने में जुटी रही।

कोटा.

शहर में मंगलवार शाम तेज हवा के साथ हुई बारिश में कई विद्युत लाइनों पर फाल्ट आए। 33 केवी लाइनें ट्रिप हो गई, इंसुलेटर पंक्चर हो गए तथा 220 केवी सकतपुरा जीएसएस से निकल रही 33 केवी लाइन का तार टूट गया। 


जवाहर नगर डिस्ट्रिक्ट सेंटर स्थित 33 केवी जीएसएस को विद्युत आपूर्ति कर रही लाइन पर आकाशीय बिजली गिरी, जिसके चलते इंद्रविहार, तलवण्डी, बसंत विहार आदि क्षेत्रों में बिजली बंद हो गई। 


इसके अलावा 11 केवी व एलटी लाइनों पर भी फाल्ट आए और कई क्षेत्र अंधेरे में डूब गए। बारिश व तेज हवा के बीच अब तक सीईएससी की ओर से शहर की सभी विद्युत लाइनों को एक साथ बंद किया जा रहा था, लेकिन लोगों के दबाव के चलते मंगलवार को तेज बारिश व हवा के बीच भी लाइनों पर विद्युत आपूर्ति जारी रखी गई। 


Read More: सरकार कराएगी वरिष्ठजनों को हवाई तीर्थयात्रा

इस दौरान कुन्हाड़ी क्षेत्र में लैण्डमार्क सिटी, थर्मल कॉलोनी, नयापुरा पावर हाउस आदि क्षेत्रों की 33 केवी लाइनें ट्रिप हो गई। जवाहर नगर डिस्ट्रिक्ट सेंटर फीडर पर आकाशीय बिजली गिरने से इंसुलेटर पंक्चर हो गए। 


इसके अलावा बसंत विहार, बोरखेड़ा में होली फैमेली अस्पताल के आसपास 11 केवी लाइनों पर भी फाल्ट आए। एलटी लाइनों पर फाल्ट आने से घरों की बिजली बंद होने की भी कॉल सेंटर पर ढेरों शिकायतें मिली। 


Read More: भगवान का ये कैसा न्याय, डेढ़ माह के बच्चे के शरीर से छीनी हड्डी और दे दिया दिल में छेद

सीईएससी की टीमें देर रात तक फाल्ट ठीक करने में लगी रही। सीईएससी कोटा के सीओओ किरित राणा ने बताया कि बारिश के एक घंटे बाद तक सभी 33 केवी लाइनों को चालू कर दिया गया। इसके अलावा 11 केवी के दो-तीन फीडर्स को छोड़ सभी लाइनें भी इसी समय में चालू हो गई। एलटी लाइनों के फाल्ट व व्यक्तिगत शिकायतों को देर रात तक दुरुस्त करने का कार्य किया गया।

rajasthanpatrika.com

Bollywood