Breaking News
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

कोचिंग और इंजीनियरिंग छात्रा ने फंदा लगाया

Patrika news network Posted: 2016-12-01 20:18:49 IST Updated: 2016-12-01 20:18:49 IST
कोचिंग और इंजीनियरिंग छात्रा ने फंदा लगाया
  • कोटा.शहर में गुरुवार को एक किशोरी और इंजीनियरिंग छात्रा ने घर पर फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल सका।

कोटा.शहर में गुरुवार को एक किशोरी और इंजीनियरिंग छात्रा ने घर पर फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल सका।

हरियाणा के रेबाड़ी स्थित जाड़दा निवासी महिमा यादव (17) मां अंजू देवी और छोटे भाई-बहिन के साथ आरकेपुरम् में पुलिस उप अधीक्षक गोपीराम मीणा के मकान में किराए से रहती थी। 


अंजू ने पुलिस को दी रिपोर्ट में बताया कि सुबह 7.30 बजे वह छोटी बेटी को स्कूल छोड़ने गई थी। एटीएम से रुपए निकालते हुए वह करीब आधा घंटे बाद वापस घर लौटी तो बेटा ऊपर छत पर बैठा हुआ था। जबकि महिमा का कमरा अंदर से बंद था।


आवाज लगाने पर जब उसने दरवाजा नहीं खोला तो अंजू ने मकान मालिक उप अधीक्षक गोपीराम मीणा को आवाज लगाई। वे ऊपर आए और खिड़की से देखा तो महिमा फंदे पर लटकी हुई थी। वे पीछे के दरवाजे से अंदर गए और उसे फंदे से उतारा। 


उस समय उसकी सांस चल रही थी। उसे तलवंडी स्थित निजी अस्पताल लेकर गए, जहां जांच के बाद डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। 


सूचना पर सहायक पुलिस अधीक्षक चूनाराम जाट और थानाधिकारी शौकत खान मौके पर पहुंचे। सीआई ने बताया कि किशोरी के कमरे से फिलहाल कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। 


पोस्टमार्टम के बाद परिजन शव लेकर गांव चले गए। कोचिंग विद्यार्थियों के सुसाइड करने का इस साल का यह 16 वां मामला है।

पढ़ाई का तनाव

महिमा 11वीं के साथ ही पीएमटी की तैयारी कर रही थी। गत दिनों हुए टेस्ट में कम अंक आने से वह डिप्रेशन में थी। एक दिन पहले ही उसने मां से कहा भी था कि इतनी पढ़ाई करने के बाद भी नम्बर कम आ रहे हैं। इस पर अंजू ने उसे परेशान नहीं होने को कहा था।

पढ़ाई कर रही थी, पंखे से लटकी

अनंतपुरा थाना क्षेत्र में एक इंजीनियरिंग छात्रा शबनम (19) ने घर पर ही फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। एएसआई मोहम्मद मोबीन ने बताया कि क्रेशर रोड स्थित मद्रासी बस्ती निवासी मोहम्मद शब्बीर ने रिपोर्ट दी है कि शबनम कम्प्यूटर साइंस में इंजीनियरिंग कर रही थी। बुधवार रात वह कमरे में पढ़ाई कर रही थी। गुरुवार सुबह देर तक जब वह बाहर नहीं आई तो परिजनों ने कमरे में देखा तो वह पंखे पर फंदा लगाकर लटकी हुई थी।

मनन की कोशिश का नहीं दिखा असर

कोटा में विद्यार्थियों व युवाओं के आए दिन खुदकुशी करने के बढ़ते मामलों को देखते हुए इनमें कमी लाने के लिए राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष मनन चतुर्वेदी ने एक कोशिश की थी। 


उन्होंने 27 नवम्बर से लगातार 24 घंटे तक सिटी मॉल के सामने विद्यार्थयों की मौजूदगी में पेंटिंग बनाई। विद्यार्थियों से सीधी बात भी की थी।

Latest Videos from Rajasthan Patrika

rajasthanpatrika.com

Bollywood