Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

कोटा की सड़कों पर भिड़े 6 सांड, 3 घंटे सांसत में रही जान

Patrika news network Posted: 2017-07-18 09:09:15 IST Updated: 2017-07-18 09:09:15 IST
कोटा की सड़कों पर भिड़े 6 सांड, 3 घंटे सांसत में रही जान
  • नगर निगम के गोताखोरों की टीम ने सोमवार को छावनी रामचन्द्रपुरा इलाके से करीब आधा दर्जन सांड पकड़ गोशाला भेजे। इनको काबू करने में करीब तीन घंटे लग गए। इस दौरान लोगों में अफरा-तफरी का माहौल रहा।

कोटा .

नगर निगम के गोताखोरों की टीम ने सोमवार को छावनी रामचन्द्रपुरा इलाके से करीब आधा दर्जन सांड पकड़ गोशाला भेजे। आयुक्त डॉ. विक्रम जिन्दल ने बताया कि सुबह छावनी रामचन्द्रपुरा इलाके में सांड लडऩे की सूचना मिलने पर टीम को भेजा गया तो वहां करीब  आधा दर्जन सांड आपस में लड़ रहे थे। 


Read More:  दूसरों का भवन बनाने वाले, खुद का दफ्तर तक नहीं बना पाए

इस पर टीम ने करीब तीन घंटे की मशक्कत के बाद सांड पकड़ कर गोशाला भेजे। इससे पूर्व निगम की टीम ने रविवार को देर रात बजरंग नगर व बोरखेड़ा क्षेत्र से 26 सांड व गायों को पकड़ गोशाला भिजवाया। गौरतलब है कि कोटा की सड़कों पर आवारा मवेशी अब मौत बनकर दौड़ रहे हैं। आए दिन लोगों को शिकार बना रहे हैं। राहगीरों व वाहन चालकों को हवा में उछाल अस्पताल पहुंचा रहे हैं। सड़कों पर निकलने से अब शहरवासी कतराने लगे हैं। 


Read More: अब डिग्री में आएंगे ऐसे स्पेशल फीचर्स जो बंद कर देंगे धोखाधड़ी

हालत यह है कि लोग सड़क पर निकलने में डरने लगे हैं, लेकिन शहर के लोगों को सहूलियत की राह देने का जिम्मेदार तंत्र प्रभावी समाधान की जगह बैठकें करने में लगा है। हर हादसे के बाद व्यवस्था सुधारने के दावे किए जाते हैं लेकिन दावे कभी हकीकत में नहीं बदलते। 


Read More: कोटा में आवारा मवेशियों ने इन परिवारों की उजाड़ दी खुशियां...

गत दिनों पूर्व सकतपुरा के माली मोहल्ले में एक 80 वर्षीय बुजुर्ग महिला रामचंद्री बाई को आवारा सांड ने घायल कर दिया। इसी सांड ने रविवार रात लक्ष्मी स्कूल के पास बैंच पर बैठे कुछ लोगों को मारने का प्रयास किया, लोगों ने भाग कर जान बचाई।

rajasthanpatrika.com

Bollywood