Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

उच्च न्यायालय ने जोधपुर में निर्माणाधीन आरओबी पर जताई नाराजगी, कहा हर हाल में 31 जुलाई तक हो शुरू

Patrika news network Posted: 2017-07-18 10:38:42 IST Updated: 2017-07-18 10:38:42 IST
  • राजस्थान हाईकोर्ट ने रिक्तिया भैरूजी स्थित आरओबी के निर्माण की स्थिति को लेकर नाराजगी जताते हुए निर्देश दिए कि आरओबी हर हाल में 31 जुलाई तक शुरू होना चाहिए।

जोधपुर

राजस्थान हाईकोर्ट ने रिक्तिया भैरूजी स्थित आरओबी के निर्माण की स्थिति को लेकर नाराजगी जताते हुए निर्देश दिए कि आरओबी हर हाल में 31 जुलाई तक शुरू होना चाहिए। वरिष्ठ न्यायधीश गोविन्द माथुर व न्यायधीश विनीत कुमार माथुर की खण्डपीठ ने याचिकाकर्ता महेन्द्र लोढ़ा की ओर से प्रस्तुत अवमानना याचिका की सुनवाई के बाद ये निर्देश दिए।


हाईकोर्ट ने दिखाई सख्ती, कहा क्या इस शहर के 15 लाख लोग राज्य के नागरिक नहीं हैं?


खंडपीठ ने सुनवाई के दौरान अतिरिक्त महाधिवक्ता राजेश पंवार से रिक्तिया भैरूजी स्थित आरओबी के निर्माण की स्थिति के बारे में पूछा तो पंवार ने पिछली सुनवाई में कोर्ट की ओर से जारी निर्देशों की पालना रिपोर्ट पेश करते हुए कहा कि शायद 31 जुलाई तक आरओबी पूरा हो जाएगा। इस पर खंडपीठ ने कहा कि जेडीसी ने पिछली सुनवाई पर वादा किया था। खण्डपीठ ने कहा कि हर हाल में 31 जुलाई तक आरओबी शुरू होना चाहिए, अन्यथा अवमानना के मुकदमे का सामना करने के लिए तैयार रहें।


जोधपुर के ये पांच नाले सुधरे तो सुधर जाएंगे हालात: जस्टिस पुष्पेन्द्र सिंह भाटी


कानून व्यवस्था पर जताई नाराजगी


सुनवाई के दौरान खण्डपीठ ने कानून व्यवस्था पर नाराजगी जताते हुए पुलिस अधिकारियों और सरकारी अधिवक्ताओं के समक्ष शहर की कानून व्यवस्था में सुधार नहीं होने की बात कहते हुए कहा कि पिछली सुनवाई के बाद शहर में एकबार फिर फ ायरिंग हो गई। इस पर सरकार की ओर से कहा गया कि अपराधों पर अंकुश लगाने के प्रयास किए जा रहे हैं।


राजस्थान के पहले मल्टीलेवल फ्लाई ओवर के लिए बस छह माह का इंतजार और

रामदेव मेले का एक्शन प्लान पेश करने के आदेश


सुनवाई के दौरान खण्डपीठ ने जिला प्रशासन से आगामी बाबा रामदेव मेले के दौरान लाखों जातरुओं, यातायात नियंत्रण और मेले के दौरान सफाई व्यवस्था के बारे में पूछा और इस संबंध में तीन दिन में एक्शन प्लान पेश करने के आदेश दिए। साथ ही पांचों नालों की अब तक की गई सफ ाई व इससे आगे की योजना को लेकर फ ोटोग्राफ सहित कोर्ट के निर्देशों की पालना रिपोर्ट पेश करने के आदेश दिए हैं। खंडपीठ में सुनवाई के दौरान जिला प्रशासन, पुलिस विभाग आरटीओ और नगर निगम के अधिकारी मौजूद थे।

rajasthanpatrika.com

Bollywood