Breaking News
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

जोधपुर में हुई दिल दहला देने वाली घटना, सोती हुई पत्नी की छाती पर पत्थर के प्रहार से ली जान

Patrika news network Posted: 2016-12-01 13:22:56 IST Updated: 2016-12-02 17:44:32 IST
जोधपुर में हुई दिल दहला देने वाली घटना, सोती हुई पत्नी की छाती पर पत्थर के प्रहार से ली जान
  • कमरे में सो रही बीवी की छाती पर उसने पत्थर का जोरदार प्रहार किया। एक चिल्लाहट के बाद सब शांत हो गया। शोर सुनकर घर के सभी लोग साबिर और नजमा के कमरे में पहुंचे, जहां नजमा की छाती पर बड़ा सा पत्थर था और पूरे शरीर व बिस्तर पर खून ही खून बिखरा था।

जोधपुर

भदवासिया क्षेत्र में एक पति ने अपनी ही पत्नी को पत्थर से पीट-पीट कर मार डाला। इसके बाद महामंदिर थाने में जाकर उसने पुलिस के सामने अपना गुनाह कबूल लिया। मृतका के भाई ने मामला दर्ज करवाया है। फिलहाल आरोपी से पूछताछ चल रही है।

READ MORE: विश्व एड्स दिवस आज: जोधपुर में 10 हजार एचआईवी रोग, हर महीने आ रहे 40 नए मरीज

पुलिस की जानकारी के अनुसार भदवासिया निवासी मोहम्मद साबिर की शादी 20 वर्ष पहले मदेरणा कॉलोनी निवासी नजमा बानो से हुई थी। दोनों के एक लड़का व दो लड़कियां हैं। कुछ समय से दोनों के बीच झगड़े बढ़ गए थे। बच्चों का कहना है कि उनके पिता को मां के चरित्र पर संदेह था और इसी वजह से उनमें झगड़े होते थे। ये मामला बुधवार शाम ज्यादा बढ़ गया। दोनों के बीच तकरार बढ़ी और साबिर ने नजमा पर कैंची से वार किया। जिसे बच्चों और संयुक्त परिवार के बाकी सदस्यों ने बीच-बचाव कर रोका। इसके बाद सभी सोने चले गए। 

READ MORE: जोधपुरी की उडऩपरी के नाम 259 गोल्ड मैडल, जुनून 500 मैडल का

गुरूवार तड़के 4 बजे साबिर की नींद खुली और कमरे से बाहर आकर वो चिल्लाने लगा। घर के बाकी सदस्य उठ गए, लेकिन नजमा की आंख नहीं खुली। घर वालों ने साबिर को समझाया, लेकिन वो घर से बाहर चला गया। परिजनों को लगा कि बाहर जाकर उसका दिमाग शांत हो जाएगा। अनहोनी से अनजान सभी अपने-अपने कमरों में चले गए। करीब 4.30 बजे के आस-पास साबिर एक बड़ा पत्थर लेकर घर में घुसा। कमरे में सो रही बीवी की छाती पर उसने पत्थर का जोरदार प्रहार किया। एक चिल्लाहट के बाद सब शांत हो गया। शोर सुनकर घर के सभी लोग साबिर और नजमा के कमरे में पहुंचे, जहां नजमा की छाती पर बड़ा सा पत्थर था और पूरे शरीर व बिस्तर पर खून ही खून बिखरा था। 

READ MORE: बिजली चोरी के आरोपी को छह माह की सजा

नजमा का देवर व देवरानी उसे लेकर महात्मा गांधी अस्पताल पहुंचे, जहां इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। पीछे से साबिर खुद ही महामंदिर थाने में पहुंच गया। करीब 5.30 बजे थाने पहुंचे साबिर ने खुद ही अपना गुनाह कबूल कर लिया। मृतका के भाई रुस्तम ने मो साबिर के खालिफ हत्या का मुकदमा दर्ज करवाया है। फिलहाल साबिर को गिरफ्तार नहीं किया है। उससे पूछताछ की जा रही है। मामले में फिलहाल जानकारी जुटाई जा रही है।

Latest Videos from Rajasthan Patrika

rajasthanpatrika.com

Bollywood