Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

साढ़े 3 महीने बाद जोधपुर में फिर सनसनीखेज वारदात, हेलमेट पहने शूटर ने शोरूम में की ताबड़तोड़ फायरिंग

Patrika news network Posted: 2017-06-20 11:22:27 IST Updated: 2017-06-20 11:22:27 IST
  • सरदारपुरा थाने से सौ मीटर दूरी पर फिर सनसनीखेज वारदात हुई है। पुलिस का खौफ तो जैसे मिट ही गया है। साढ़े तीन महीने बाद फिर हुई फायरिंग में बिना नम्बर की मोटरसाइकिल पर खड़े साथी के साथ शूटर फरार हो गया।

जोधपुर

पुलिस से बेखौफ नकाब व हेलमेट पहने शूटर ने सरदारपुरा थाने से सौ मीटर से भी कम दूरी पर मोबाइल व इलेक्ट्रॉनिक शोरूम में सोमवार रात सात गोलियां चलाईं और कुछ ही दूर बिना नम्बर की मोटरसाइकिल पर खड़े साथी के साथ भाग निकला। गनीमत है कि गोलियों से कोई हताहत नहीं हुआ, लेकिन शहर के व्यस्ततम बाजार में फायरिंग से शहरवासियों में दहशत फैल गई। वारदात के पौन घंटे बाद पुलिस ने शूटर व सहयोगी की तलाश में नाकाबंदी करवाई, लेकिन देर रात तक दोनों का कोई पता नहीं लग पाया। पुलिस को अंदेशा है कि रंगदारी वसूल करने के लिए व्यवसायी में दहशत पैदा करने को गोलियां चलाई गई हैं। रंगदारी के लिए तीन महीने पहले भी ट्रैवल्स मालिक व चिकित्सक के मकान पर फायरिंग की गई थी।


READ MORE: जोधपुर में हक मांग रहे किसान अचानक हुए उग्र, पुलिस ने यूं बरसाई सख्ती

प्रत्यक्षदर्शी के अनुसार सरदारपुरा सी रोड स्थित पदमराज डिपार्टमेंटल स्टोर प्राइवेट लिमिटेड नामक मोबाइल और इलेक्ट्रॉनिक शोरूम में रात 8.33 बजे नकाब के ऊपर हेलमेट पहने एक युवक आया। काउंटर पर खड़े कर्मचारी ने हेलमेट उतारने का आग्रह किया। इतने में उस युवक ने जींस में से दोनों हाथों में एक-एक हथियार बाहर निकाले और दूसरी तरफ काउंटर के पास कुर्सी पर बैठे शोरूम मालिक वासुदेव इसरानी की तरफ गोलियां बरसा दीं, लेकिन उसका निशाना चूक गया।


दो गोलियां व्यवसायी के पास वाली कुर्सी पर, दो गोलियां पीछे शो-केस के कांच, दो गोलियां काउंटर और एक गोली काउंटर पर रखी डायरी के आर-पार निकल गई। सुखद आश्चर्य रहा कि व्यवसायी को खरोंच तक नहीं आई।


READ MORE: किसान महापड़ाव: टूटने लगा जोधपुर के धरतीपुत्रों का सब्र, अब होगा 'ग्राम से महासंग्राम'

वारदात का पता लगते ही नजदीक स्थित थाने से थानाधिकारी भूपेन्द्रसिंह और फिर एसीपी कमलसिंह मौके पर पहुंचे। बाद में एडीसीपी विपिन शर्मा भी वहां पहुंचे और व्यवसायी के साथ ही कर्मचारियों से मामले की जानकारी ली।


कर्मचारी डर कर अण्डर ग्राउण्ड में भागे

आसमानी कमीज व जींस पहने शूटर ने कपड़े के नकाब के ऊपर हेलमेट पहन रखा था। आते ही उसने कर्मचारी से एक क्षण के लिए बात की और जेब से हथियार निकाल लिए। वह गोलियां बरसाता उससे पहले ही कर्मचारियों में दहशत फैल गई और वे अण्डरग्राउण्ड में जा घुसे।


शूटर का पीछा किया, चील लगी बाइक पर भागा

अंधाधुंध गोलियां बरसाने के बाद शूटर के भाग निकलने पर शोरूम कर्मचारी लाठी व डण्डे लेकर पीछे भागे। शूटर पास ही गली में मोटरसाइकिल लेकर खड़े सफेद कमीज पहने युवक के साथ बैठ कर भाग छूटा। मोटरसाइकिल के नंबर नहीं थे। उस पर चील का निशान लगा हुआ था। इस आधार पर शहर व जिलेभर में नाकाबंदी कराई गई, लेकिन शूटर पकड़ में नहीं आए।


READ MORE: जोधपुर में सामने आया ये सनसनी खेज मामला, अश्लील वीडियो बना कर युवती से करता रहा ये काम


अवैध वसूली के लिए फायरिंग का अंदेशा

व्यवसायी वासु इसरानी का कहना है कि उसकी किसी से कोई रंजिश नहीं है। न ही उससे किसी बदमाश ने रुपए की मांग की है। इसके बावजूद पुलिस को अंदेशा है कि रंगदारी यानि अवैध वसूली के लिए व्यवसायी में खौफ पैदा करने की खातिर यह वारदात हो सकती है।

rajasthanpatrika.com

Bollywood