राजनीतिक गलियारों में चर्चा भाजपा पार्षदों में फूट!

Patrika news network Posted: 2017-02-16 16:04:45 IST Updated: 2017-02-16 16:04:45 IST
  • जोधपुर की राजनीति में एक नया मोड़ आया हुआ है। यहां चर्चा का बड़ा विषय है भाजना पार्षदों में फूट। निगम की बैठक में पार्षदों का नदारद रहना शायद इसी बात को इंगित कर रहा है। वीडियो में देखिए खास बातचीत...

जोधपुर

निगम में भाजपा का बोर्ड होने के बाद भी बजट जैसी महत्वपूर्ण बैठक में भी भाजपा के सभी पार्षद मौजूद नहीं थे। इस बात की चर्चा दूसरे दिन भी राजनीतिक गलियारों से लेकर निगम तक रही। बैठक में भाजपा पार्षदों का अनुपस्थित रहना पूरे शहर में चर्चा का विषय बना हुआ है। हालांकि भाजपा के वरिष्ठ कार्यकर्ता और उपमहापौर सहित कुछ पार्षद इस बात को सिरे से नकार रहे हैं कि वे जानबूझकर बजट बैठक में नहीं आए। साथ ही भाजपा के पार्षदों का कहना है बजट पर कोई राजनीति नहीं हुई है।

जोधपुर घूमने आ रहे हैं तो जरूर पढ़ें ये खबर... इस घोषणा के बाद महंगा हो जाएगा यहां रहना

उपमहापौर देवेंद्र सालेचा और भाजपा के वरिष्ठ कार्यकर्ता और पार्षद हरिगोपाल राठी ने कहा कि बजट बनाने में भाजपा ने कोई राजनीति नहीं की है, लेकिन जब बजट पेश किया गया तो कांग्रेसी पार्षदों की ओर जो विरोध किया गया वो राजनीति थी। महापौर बार-बार कांग्रेसी पार्षदों को बजट पर चर्चा करने के लिए कहते रहे मगर वो विरोध ही करते रहे। उपमहापौर ने सफाई दी कि भाजपा पार्षदों के बीच में कोई राजनीति नहीं है और न ही कोई फूट है। महापौर से पूर्व में ही कुछ पार्षदों ने शादी होने के कारण बैठक में नहीं आने के लिए कह दिया था।

जोधपुर नगर निगम में हंगामे के बीच पारित हुआ 700 करोड़ का बजट

मुझे किसी पार्टी के बारे में पता नहीं

पत्रिका ने जब उपमहापौर और भाजपा के वरिष्ठ कार्यकर्ता और पार्षद हरिगोपाल राठी ने पूछा कि एेसा सुनने में आया कि कुछ पार्षद जो महापौर के खिलाफ हैं वे जानबूझकर बैठक में नहीं आए और किसी फार्म हाउस में पार्टी कर रहे थे? तो इस पर सालेचा और राठी दोनों ने ही कह दिया कि उन्हें एेसी किसी पार्टी के बारे में ध्यान नहीं है। अगर एेसा हुआ है तो पता करवाएंगे।

रुटीन कार्यों पर खर्च हो रही कमाई, थम रही जोधपुर के विकास की गति

महापौर को कोई भी हटाने के पक्ष में नहीं

भाजपा के वरिष्ठ कार्यकर्ता और पार्षद हरिगोपाल राठी से जब पूछा गया कि क्या महापौर को हटाने के लिए यह सारा खेल चल रहा है? तो उन्होंने इस बात को सिरे से नकार दिया कि महापौर बहुत ईमानदार और सही व्यक्ति हैं। उन्हें हटाने के बारे में कोई राजनीति नहीं चल रही है न ही भाजपा पार्षद अपने नेतृत्व को बदलने की बात सोच रहे हैं।

rajasthanpatrika.com

Bollywood