Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

जोधपुर डिस्कॉम के अंदर आने वाले 10 जिलों के 40 हजार उपभोक्ता हैं परेशान, यूं लटकाया सिस्टम ने

Patrika news network Posted: 2017-07-11 12:56:25 IST Updated: 2017-07-11 12:56:25 IST
जोधपुर डिस्कॉम के अंदर आने वाले 10 जिलों के 40 हजार उपभोक्ता हैं परेशान, यूं लटकाया सिस्टम ने
  • जोधपुर डिस्कॉम के अंदर 10 जिले आते हैं। इन जिलों के लगभग 40 हजार उपभोक्ताओं को सिस्टम ने लटका रखा है। अंधेरे में जीने को मजबूर इन उपभोक्ताओं को आखिर क्यों उठानी पड़ रही है परेशानी... जानें इस रिपोर्ट में

जोधपुर.

शहर के बाहरी क्षेत्र में बन रहे भवनों में पसरी डिस्कॉम की अंधेरगर्दी छंट नहीं पा रही है। नए घरों में बिजली कनेक्शन लेने के लिए हजारों लोगों ने डिस्कॉम में आवेदन कर रखे हैं। लाखों रुपए डिमांड राशि के रूप में जमा भी करवा दिए, लेकिन इसके बावजूद डिस्कॉम के पास तार (केबल) नहीं होने की वजह से कनेक्शन अटके पड़े हैं। ऐसे में लोग नए घरों में अंधेरे में रातें काटने को मजबूर हैं।


READ MORE- आनंदपाल सिंह एनकाउंटर: हुंकार रैली को लेकर नागौर में धारा 144 लागू तो जोधपुर में बढ़ी चौकसी

करीब 40 हजार लोग प्रभावित

जोधपुर डिस्कॉम क्षेत्र के अंतर्गत 10 जिले आते हैं। उन 10 जिलों में करीब 40 हजार लोगों ने घरेलू बिजली कनेक्शन के लिए आवेदन कर रखा हैं, लेकिन हालत यह है कि डिस्कॉम के पास में एक से दूसरे खम्भे तक खींचने वाली केबल नहीं है या यूं कहें कि एक से दूसरे पोल के बीच में जो केबल लगाते हैं, वह नहीं है। केबल नहीं होने की वजह से लोगों ने लाखों रुपए खर्च करके कनेक्शन के लिए जो फाइलें जमा करवाई है, वो धूल फांक रही है। इनमें मंडोर रोड की कॉलोनियां, बनाड़ रोड, पाल रोड, पाली रोड, जैसलमेर रोड, काली बेरी सहित करीब 70 से 80 कॉलोनियों के 15 से 25 हजार लोग हैं, जिनको परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। पूरे डिस्कॉम में ये आंकड़ा करीब 40 हजार के पार हैं।


READ MORE- आनंदपाल एनकाउंटर मामले को लेकर नहीं बुझ रही गुस्से की आग, जोधपुर में फिर भड़का रोष

शहर में गांवों से भी बदत्तर हाल

उपभोक्ता जब डिस्कॉम अधिकारियों से बात करते हैं, तो उनका यह जवाब होता हैं कि उनके पास केबल नहीं है। ऐसे में जो आउटर एरिया है। जो लोग नई कॉलोनी में बसे हैं, उनको बिजली की सुविधा नहीं होने से उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ता है। कहने को यह लोग भले ही शहर में है, लेकिन बिजली की सुविधाओं को लेकर उनके हालात गांव वालों से भी बदत्तर है।

तार व अन्य सामान के अभाव में अटके कनेक्शन

बनाड़ रोड -1450

मंडोर रोड - 1390

झालामंड क्षेत्र - 1650

पाल रोड - 980

जैसलमेर रोड - 740


READ MORE- आनंदपाल एनकाउंटर : जोधपुर में विरोधियों ने यूं दिखाई दबंगई, सिपाही का सिर भी फूटा


इनका कहना है

सिंगल फेज कनेक्शन के लिए कमी नहीं है। जिले में अभियंताओं को बड़ी मात्रा में केबल वितरित की जा रही है। उपभोक्ताओं के बिजली कनेक्शन केबल की वजह से नहीं अटकाए जाएंगे। जल्द ही, उपभोक्ताओं को बिजली कनेक्शन दिए जाएंगे। -एमएल मेघवाल, एसई, जोधपुर जिला वृत्त 

rajasthanpatrika.com

Bollywood