बैंकों में नहीं दूर हो रही कैश की किल्लत

Patrika news network Posted: 2016-12-01 09:09:33 IST Updated: 2016-12-01 09:10:39 IST
बैंकों में नहीं दूर हो रही कैश की किल्लत
  • नोटबंदी के बाद शहर के बैंकों में नोटबंदी की दिक्कत दूर नहीं हो रही है। बैंकों का दावा है कि वे हर ग्राहक को सेवा देने का पूरा प्रयास कर रहे हैं। गुरुवार को पेंशनर्स व राज्यकर्मियों के लिए अलग काउंटर की व्यवस्था की गई है।

जोधपुर

नोटबंदी के चलते शहर की बैंकों व एटीएम पर कैश की किल्लत दूर नहीं हो रही है। बैंक प्रबंधन की ओर से हर ग्राहक को संतुष्ट भी करने की कोशिश की जा रही है, फिर भी बैंकों व एटीएम के बाहर लंबी कतारें लगी रहती हैं।

कई बैंक दोपहर बाद कैशलेस

कई बैंक ग्राहकों को 24 हजार रुपए की मांग पर एक साथ ही पूरा भुगतान करने के कारण दोपहर बाद बैंक कैशलेस हो जाती है तो कई बैंक खाते से अधिकतम 24 हजार के स्थान पर ग्राहकों को मांग के अनुसार 5 या 10 हजार रुपए ही दे रहे हैं, जिससे ग्राहकों में बैंकों के प्रति आक्रोश भी है।

कम रुपए मिलने से लोग नाराज

बैंकों में हालांकि पूर्व की तरह लंबी कतारें तो नहीं देखी गई, लेकिन जरूरत के अनुसार रुपए नहीं मिलने की वजह से उनमें नाराजगी दिखी। 

दूसरे दिन भी कतार

कतारों में खड़े लोगों के अनुसार बैंकों द्वारा दिए जा रहे कम रुपयों से उनकी जरूरतें पूरी नहीं हो रही और दूसरे दिन भी  बैंकों के बाहर कतारों में लगना पड़ रहा है। एटीएम से 500 व 100 रुपए का नोट नहीं मिलने से भी लोग परेशान हैं।

वेतन की चिंता

गुरुवार को एक तारीख होने के कारण वेतन व पेंशन लेने वाले कर्मचारियों की बैंकों में भीड़ उमडऩे की संभावना है। ऐसे में बैंक कर्मचारियों को वेतन देने की चिंता भी सता रही है।

सुबह खातों में वेतन

केन्द्र व राज्य सरकार गुरुवार सुबह कर्मचारियों के खातों में वेतन डालना शुरू कर देगी। पेंशनधारकों के खातों में भी राशि जमा कराई जाएगी।

संतुष्ट करने का प्रयास

एसबीबीजे के पवनकुमार जैन व एसबीआई के रविन्द मिश्रा के अनुसार रिजर्व बैंक से मिली राशि के अनुसार ग्राहकों में वितरित की जा रही है और सभी ग्राहकों को उनकी जरूरत के अनुसार संतुष्ट करने का प्रयास किया जा रहा है।

लाइनों व काउंटर की व्यवस्था

वहीं, गुरुवार को माह की पहली तारीख होने के कारण राज्यकर्मियों व पेंशनर्स को वेतन भुगतान चुनौती रहेगी, इसके लिए उनको प्राथमिकता देते हुए अलग से लाइनों व काउंटर की व्यवस्था की जाएगी।


rajasthanpatrika.com

Bollywood