Breaking News
  • उदयपुर: फर्जी कंडक्टर को पकड़ा,अभिरक्षा में भेजा
  • जैसलमेर : पोकरण में आयकर विभाग की कार्रवाई, दस्तावेजों की जांच में जुटी है टीम
  • भरतपुर: कुबेर में मरीज को दिखाने अस्पताल आए व्यक्ति की बाइक हुई चोरी
  • भीलवाड़ा: करेड़ा कस्बे में फिर बढ़ाई धारा 144, अब 4 अप्रेल तक रहेगी लागू
  • नागौर: कांकरिया पम्प हाउस के विद्युत कनेक्शन में फॉल्ट, आधे शहर में 3 दिन से पेयजलापूर्ति बाधित
  • जोधपुर: मार्च लेखाबंदी के कारण आज से जीरा मंडी में नहीं होगा व्यापार
  • सीकर:खातीवास में पैंथर की सूचना से इलाके में दहशत
  • जयपुर-एसओजी ने गलता गेट स्थित गोदाम पर छापा, पकड़ा भारी मात्रा में विस्फोटक
  • जोधपुर- हाईकोर्ट ने किए तीस न्यायिक अधिकारियों के तबादले
  • बीकानेर- दो साल से कर रहे थे दुष्कर्म, निजी स्कूल के आठ शिक्षकों पर मामला दर्ज
  • धोेलपुर- विशेष निगरानी दल व पुलिस ने ग्वालियर से आगरा जा रही स्कॉर्पियो से पकड़ी 35 लाख की नगदी
  • सीकरः सड़क हादसे में बाइक सवार घायल, नीमकाथाना के टोडा में हादसा
  • हनुमानगढ़- पीलीबंगा में दवा विक्रेता के घर से नशीली दवा बरामद, पुलिस ने आरोपित की दुकान की सीज
  • सीकरः कांवट में बस की चपेट में आने से बाइक सवार घायल, बस चालक मौके से फरार
  • अलवरः लक्ष्मणगढ़ में जनरल स्टोर में लगी आग, दुकान में रखा हजारों रुपए का सामान खाक
  • भुसावर-स्टेट हाइवे पर देर रात बाइक फिसलने पर चार लोग घायल, अस्पताल में भर्ती
  • कोटा- यूडी टैक्स जमा करने के लिए शनिवार-रविवार को भी खुला रहेगा नगर निगम दफ्तर
  • श्रीगंगानगर- महाराष्ट्र के चिकित्सकों के समर्थन में निजी व सरकारी अस्पतालों के डॉक्टरों ने काली पट्टी बांधकर जताया रोष
  • जैसलमेर- पोकरण में अखिल भारतीय पुष्टिकर सेवा परिषद का दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन, देश भर से पंहुचे पुष्करणा समाज के लोग
  • श्रीगंगानगर- पंचायत उपचुनाव कल, दो वार्ड पंचों का होगा निर्वाचन, मतदान दल रवाना
  • ओसियां (जोधपुर)- जनता जल योजना के तहत पांच नलकूपों के लिए 52.46 लाख की मंजूरी
  • वैर (भरतपुर)- गाजे बाजे के साथ रवाना हुए कैला देवी दर्शन के लिए 11वीं पदयात्रा, भजनों की धुनों पर नाचते-गाते करौली जा रहे हैं पदयात्री
  • अजमेरः हटुंडी रेलवे स्टेशन के पास ट्रेन की चपेट में आने से युवक की मौत
  • कोटाः जगपुरा में डंपर ने बालक को कुचला, मौके पर ही मौत
  • अलवर- सरिस्का के माधोगढ़ में बघेरे को जलाकर मारने के विरोध में वन्यजीव प्रेमियों ने निकाला मौन जुलूस
  • अजमेर- माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के रद्दी घोटाले में लम्बे अरसे से फरार चार आरोपित आगरा से गिरफ्तार
  • कामां-ट्रांसफार्मर में फिर लगी आग, कस्बे के कई हिस्सों में बिजली रही गुल
  • जैसलमेरः नाचना में घर के बाहर खड़ा ट्रैक्टर चोरी
  • बांदीकुई-राजगढ़ रेलमार्ग पर जयसिंहपुरा फाटक के पास मृत मिला सेना का जवान
  • भरतपुर-रूपवास के जगनेर मार्ग पर जीप पलटी, एक की मौत, एक घायल
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

शहादत दिवस : महात्मा गांधी को जोधपुर तक नहीं आने दिया गया था

Patrika news network Posted: 2017-01-30 07:58:01 IST Updated: 2017-01-30 07:58:01 IST
शहादत दिवस : महात्मा गांधी को जोधपुर तक नहीं आने दिया गया था
  • भारत के स्वतंत्रता संग्राम के समय पूरा देश बापू की एक आवाज पर इकट्ठा हो जाता था। उनका आह्वान जादू जैसा काम करता था। वे लूणी तक आए थे। बापू को जोधपुर तक नहीं आने दिया गया था। लूणी स्टेशन पर जोधपुर के संगीत निर्देशक बृजलाल वर्मा बापू से मिले थे। राजस्थान पत्रिका की खोजपूर्ण खबर :

जोधपुर / एम आई जाहिर

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के दर्शन भर से लोग खुद को धन्य महसूस करतेे थे। हम सबके प्रिय बापू पूरे देश में कई जगह गए, लेकिन अफसोस कि वे चाहते हुए भी जोधपुर नहीं आ सके थे। महात्मा गांधी को आजादी से पहले तत्कालीन कांग्रेस और स्वाधीनता सेनानियों ने जोधपुर में बुलाया था।

जोधपुर तक नहीं आने दिया गया

वे सन 1943 में ट्रेन से जोधपुर के लिए रवाना भी हुए थे, लेकिन अंग्रेजों के प्रभाव के कारण उन्हें जोधपुर तक नहीं आने दिया गया। अंग्रेजों के दबाव में रियासत की व्यक्तिगत ट्रेन के कारण  लूणी तक ही आ सके थे। राजस्थान पत्रिका ने अपने स्तर पर खोजबीन की तो  जोधपुर में जन्मे राजस्थान के पहले संगीत निर्देशक स्व बृजलाल वर्मा के पुत्र गोपालकृष्ण वर्मा से बातचीत में यह  खुलासा हुआ।

वर्मा बापू से मिले थे

उन्होंने बताया कि उनके पिता ने बताया था कि जोधपुर के चुनिंदा बेबाक लोगों ने उनका लूणी स्टेशन पर स्वागत करना तय किया। तब बृजलाल वर्मा लूणी स्टेशन पर बापू से मिले थे।

छुआछूत की समस्या बताई थी

गोपालकृष्ण वर्मा ने पत्रिका को बताया कि उनके पिता बृजलाल वर्मा ने अपने साथियों के साथ लूणी स्टेशन पहुंच कर उनका माल्यार्पण कर स्वागत किया था। तब उन्हें बताया था कि समाज के साथ इस हद छुआछूत हो रही है कि सफाई कर्मचारी भी सफाई करने के लिए नहीं आते। बापू ने अस्पृश्यता निवारण करवाने के लिए कहा था।

कोलकाता मेें सपत्नीक मिले थे

उन्होंने बताया कि इससे पहले बापू कोलाट्रेन में कहीं जा रहे थे, तब पिता बृजलाल वर्मा कोलकाता रेलवे स्टेशन पर गांधी जी से मिले थे।

 




rajasthanpatrika.com

Bollywood