Breaking News
  • श्रीगंगानगर : बीरमाना में चली धूल भरी आंधी, जनजीवन प्रभावित
  • भरतपुर- सीकरी के छज्जुखेड़ा गांव में दो पक्षों में जमकर पथराव
  • उदयपुर- दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने राजस्थान के पूर्व विधानसभा अध्यक्ष शांति लाल चपलोत से की मुलाकात
  • श्रीगंगानगर : बिजली पानी की समस्याओं को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ता मंगलवार को करेंगे राजियासर उपतहसील कार्यालय का घेराव
  • जोधपुर- उपखंड स्तरीय जाट समाज की बैठक नई कार्याकरिणी का गठन, पूर्व सरपंच देवीलाल को चुना गया अध्यक्ष
  • जैसलमेर: बांधेवा इलाके में बसों में तोड़-फोड़ की सूचना, मौके पर पुलिस
  • जयपुर: चन्दवाजी बस स्टैंड के पास मिनी बस—ट्रैक्टर में भिड़ंत,एक की मौत व 6 घायल
  • अजमेर- मिसिंग लिंक योजना के अंतर्गत पौने दो करोड़ की लागत से होगा सड़कों के नवीनीकरण का कार्य
  • चूरू: सरदारशहर में भारतीय किसान संघ की बैठक में कई मुद्दों पर हुई चर्चा
  • चूरू- फोगां गांव में पाइप लाइन से निकाली गई 23 फीट की जड़, पानी की समस्या हुई खत्म
  • हनुमानगढ़- शेरगढ़ चौकी के पास बस यात्रियों से 30 किलोग्राम पोस्त जब्त, एक महिला सहित 3 गिरफ्तार
  • राजस्थान में 110 करोड़ की लागत से बनेगा इंस्टीट्यूट आॅफ न्यूरो हेल्थ साइंसेज, राज्य सरकार ने तैयार किया प्रस्ताव
  • गंगापुर सिटी: जीवद गांव में ट्रैक्टर की टक्कर से बाइक सवार की मौत
  • उदयपुर: दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा- राजस्थान में 200 सीटों पर चुनाव लड़ेगी आप
  • सिरोही - वृंदावन कॉलोनी से कार चोरी, मालकिन ने चालक के खिलाफ दर्ज करवाया मामला
  • जोधपुर- कई इलाकों में आधी रात को उत्पात मचाने वाले 4 युवक गिरफ्तार
  • भीलवाड़़ा: दो बाइक भिड़़ी, मासूम की मौत, पांच घ्‍ाायल
  • करौली: हत्या के मामले में दो सगे भाइयों को किया गिरफ्तार
  • बांसवाड़ा:डंपर की टक्कर से बाइक सवार की मौत, दो घायल
  • जैसलमेर- पोकरण में 2 बाइक की भिड़ंत, एक की मौत, 3 घायल
  • जयपुर- नांगललाडी गांव के पास कार और बाइक की भिड़ंत, 3 घायल
  • बूंदी- केशवरायपाटन में कोटा-मुंबई रेल लाइन पर ट्रेन की चपेट में आने से बुजुर्ग की मौत
  • सीकर- हाई वोल्टेज बिजली से जले लाखों रुपए के उपकरण
  • बांसवाड़ा: स्कूटी सवार बुजुर्ग से लूट का प्रयास
  • जोधपुर- लोहावट में मुख्य पाइपलाइन के मरम्मत को चलते कल बंद रहेगी जलापूर्ति व्यवस्था
  • राजस्थान में 108 सेवा बहाल, काम पर लौटे कर्मचारी
  • श्रीगंगानगर- रायसिंहनगर में सड़क हादसा अधेड़ की मौत
  • सीकर : एसके अस्पताल में डॉक्टरों ने लिया शालीन व्यवहार के साथ मरीजों को बेहतर उपचार देने का संकल्प
  • धौलपुर : राजाखेड़ा में कॉस्मेटिक और परचून की दुकान में आग, सामान जलकर खाक
  • करौली : सड़क हादसे में करौली निवासी चालक की मौत, तीन जने घायल
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

जेल में खुले आम चल रहा 'साजिश' का 'खेल'

Patrika news network Posted: 2016-12-02 00:30:40 IST Updated: 2016-12-02 00:30:40 IST
जेल में खुले आम चल रहा 'साजिश' का 'खेल'
  • देश की सुरक्षित मानी जाने वाली जोधपुर सेंट्रल जेल से तीन बंदियों के भागने के प्रयास की घटना ने जेल की सुरक्षा व्यवस्था पर कई सवालिया निशान लगा दिए हैं। ये बंदी पिछले कई दिनों से जेल से भागने की साजिश रच रहे थे, लेकिन जेल प्रशासन को इसकी भनक तक नहीं लगी।

जोधपुर

देश की सुरक्षित मानी जाने वाली जोधपुर सेंट्रल जेल से तीन बंदियों के भागने के प्रयास की घटना ने जेल की सुरक्षा व्यवस्था पर कई सवालिया निशान लगा दिए हैं। ये बंदी पिछले कई दिनों से जेल से भागने की साजिश रच रहे थे, लेकिन जेल प्रशासन को इसकी भनक तक नहीं लगी।

बंदियों ने कब कम्बल की रस्सी बनाई तथा वे कब दीवार पर जा चढे़, इस संबंध में जेल के प्रहरियों को पता तक नहीं चला। इतना कुछ हो जाने के बावजूद किसी को भनक तक नहीं लगना, यह बात गले नहीं उतरती है। बंदी जेल की करंट वाली तारबंदी भी फांद चुके थे, लेकिन तब तक जेल प्रहरी चैन की बंशी ही बजा रहे थे।

आखिरकार दीवार के उस तरफ गिरते समय करंट लगने से वे चिल्लाएं तो जेल सुरक्षाकर्मियों को घटना का पता चला। इसके बाद जेल में सायरन बजा और सब अलर्ट हुए। भागने का प्रयास करने वाले बंदी जेल के वार्ड नम्बर सात के बैरक नम्बर चार में बंद थे। बंदी वीरम एनडीपीएस व अमृत और नेमाराम दुष्कर्म के आरोप में बंद थे।

जेल अधीक्षक छुट्टी पर, पुलिस को भी नहीं बताया

जेल की सुरक्षा रामभरोसे ही है। जेल अधीक्षक विक्रम सिंह छुट्टी पर है। पीछे जेलर सरोज व एक अन्य अधिकारी है, वे जेल सुरक्षा की परवाह नहीं करते। बंदियों के भागने की घटना के एक घंटे तक जेल प्रशासन ने पुलिस को नहीं बताया। आखिरकार पुलिस अपने महकमे के अधिकारियों की सूचना पर मौके पर पहुंची। अब तक यह पता नहीं चल पाया है कि इस साजिश में और कौन बंदी शामिल है।

भोपाल व नाभा जेल काण्ड के बाद किया था अलर्ट

जेल प्रशासन की लापरवाही एेसे सामने आती है कि मध्यप्रदेश की भोपाल जेल से 8 आतंकियों के भागने व पंजाब के नाभा जेल से आतंकियों को भगाने की घटना के बाद जेल में अलर्ट किया था। 


इसके बावजूद जेल अधिकारी लापरवाही बरतते रहे। जेल में संदिग्ध आतंकी, संदिग्ध सिमी कार्यकर्ता के अलावा आसाराम जैसे कई बंदी बंद है। लेकिन सुरक्षा ताक पर है। इसके अलावा इस जेल में पिछले छह माह में चार सुरक्षाकर्मी जेल में अफीम ले जाते पकड़े गए है। 


मोबाइल मिलने की भी कई बार घटना हो चुकी है। एेसे में जेल की सुरक्षा में लगातार सेंध लगाई जा रही है और जेल प्रशासन नींद में है।


तीन साल पहले भी कम्बल की रस्सी से ही भागा था

सूत्रों की मानें तो वर्ष 2013 में एक बंदी, जो नकबजनी के मामले में सेंट्रल जेल में बंद था। उसने कम्बल की रस्सी बनाकर जेल की दीवार फांद दी थी। वह जेल की करंट की तारबंदी को भी फांद गया था। मशक्कत के बाद बनाड़ थाना पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया था।


हो चुकी है जेलर की हत्या

सितंबर 2010 में फिल्म अभिनेता व जोधपुर सेंट्रल जेल के जेलर भारतभूषण भट्ट की एक कैदी ने हत्या कर दी थी। कैदी की नरेंद्र के रूप में पहचान हुई थी। उसने एक तेज धारदार हथियार से उसकी गर्दन पर हमला कर मार डाला था। इस जेल में मादक पदार्थ, मोबाइल व फेसबुक पर बंदियों और कैदियों द्वारा फोटो डालना आम बात है। 

rajasthanpatrika.com

Bollywood