Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

जोधपुर में किसानों के साथ लडऩे पहुंची कांग्रेस की रैली के बाद हुआ ये हाल

Patrika news network Posted: 2017-06-14 19:53:46 IST Updated: 2017-06-14 19:53:46 IST
जोधपुर में किसानों के साथ लडऩे पहुंची कांग्रेस की रैली के बाद हुआ ये हाल
  • प्रदेश के बदहाल किसानों की समस्याओं को लेकर प्रदेशव्यापी आह्वान के तहत जोधपुर शहर जिला व देहात कांग्रेस कमेटी के संयुक्ततत्वावधान में बुधवार को रैली निकाली गई।

जोधपुर

प्रदेश के बदहाल किसानों की समस्याओं को लेकर प्रदेशव्यापी आह्वान के तहत जोधपुर शहर जिला व देहात कांग्रेस कमेटी के संयुक्ततत्वावधान में बुधवार को रैली निकाली गई। इस विरोध प्रदर्शन में प्रादेशिक नेताओं के अलावा अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव व प्रतिनिधि आदि शामिल हुए। रैली कांग्रेस कार्यालय से रवाना होकर सोजतीगेट, नई सड़क चौराहा, हाईकोर्ट रोड होते हुए जिला कलक्ट्रेट कार्यालय पहुंची। रैली के बाद कलक्टर को मुख्यमंत्री के नाम एक ज्ञापन प्रेषित कर राज्य के किसानों को राहत दिलवाने की मांग की गई। 


कांकाणी हरिण शिकार मामले में ये आया नया फैसला, अब फिर जोधपुर आएंगे सलमान खान

कांग्रेसजनों ने मंगलवार को दिन भर ब्लॉकवार बैठकें आयोजित कर रैली को सफल बनाने का आह्वान भी किया था। शहर कांग्रेस प्रवक्ता उत्तम वरवानी के अनुसार प्रदेश के अन्नदाता किसानों की समस्याओं के समर्थन में शहर अध्यक्ष सईद अंसारी व देहात अध्यक्ष हीरालाल मेघवाल की अगुवाई में इस रैली का आयोजन हुआ। हालांकि जानकारों ने बताया कि कांग्रेस की यह रैली फ्लॉप साबित हुई क्यूंकि इसमें अपेक्षाकृत काफी कम कार्यकर्ताओं ने भाग लिया।


जोधपुर पहुंचे जॉन अब्राहम, अपनी इस फिल्म को करेंगे वैज्ञानिकों व जवानों को समर्पित

किसानों का महापड़ाव जारी

15 जून को भारतीय किसान संघ के नेतृत्व में संभाग स्तरीय अनिश्चितकालीन आंदोलन का पड़ाव कलक्ट्रेट पर डाला गया। इसके लिए आखिरकार मंगलवार को प्रशासन ने अनुमति जारी कर दी थी। इधर, पुलिस प्रशासन सतर्क हो गया है। किसानों की तैयारियां जोरों पर हैं। हजारों की तादाद में किसानों के पहुंचने की संभावना को देखते हुए किसान प्रतिनिधियों सहित पुलिस-प्रशासनिक अधिकारी आदि कलक्ट्रेट का मौका-मुआयना कर रहे हैं। सरकार की नजर भी अब इस आंदोलन पर है। 


OMG! जोधपुर की पुलिस ने ये क्या डाला, रिश्वत की एवज में कर डाली ये घिनौनी मांग

प्रभारी मंत्री से की मुलाकात


किसान आंदोलन को देखते हुए राज्य सरकार ने अपने सभी जिला प्रभारियों को तीन दिन तक सम्बंधित जिलों में रहने के निर्देश दिए हैं। बुधवार को भारतीय किसान संघ व प्रभारी मंत्री सुरेन्द्र गोयल के बीच चर्चा हुई। 

rajasthanpatrika.com

Bollywood