Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

राजस्थान पत्रिका अभियान 'नींव शिक्षा का सवाल' रंग लाया, बच्चों को नजर आ रहा है अब सुनहरा भविष्य

Patrika news network Posted: 2017-07-13 18:26:30 IST Updated: 2017-07-13 18:26:30 IST
राजस्थान पत्रिका अभियान 'नींव शिक्षा का सवाल' रंग लाया, बच्चों को नजर आ रहा है अब सुनहरा भविष्य
  • झालावाड़ शहर के शहीद निर्भयसिंह राजकीय प्राथमिक विद्यालय हाऊसिंग बोर्ड में राजस्थान पत्रिका का 'नींव शिक्षा का सवाल' रंग लाया। यहां एक शिक्षिका थी। लेकिन अब स्कूल में एक शिक्षिका की जगह पांच शिक्षक हो गए है। यहां अब हर कक्षा को अलग-अलग शिक्षक पढ़ा रहे हैं।

झालावाड़.

शहर के शहीद निर्भयसिंह राजकीय प्राथमिक विद्यालय हाऊसिंग बोर्ड में राजस्थान पत्रिका का 'नींव शिक्षा का सवाल' रंग लाया। यहां एक शिक्षिका थी। लेकिन नींव अभियान के तहत लोगों ने जैसे ही शिक्षा सबसे बड़ा दान, नींव अभियान से जुड़े राजकीय स्कूलों में अध्ययन कराएं यह लाइन पढ़ी तो लोगों का कारवां जुड़ता गया।

अब शहीद निर्भय सिंह स्कूल में एक शिक्षिका की जगह पांच शिक्षक हो गए है। यहां अब हर कक्षा को अलग-अलग शिक्षक पढ़ा रहे हैं। बुधवार को छात्रों से इस बारे में पूछा तो छात्रा सकीना ने कहा कि नई मेडम आ रही है। रोज गणित पढ़ा रही है। अभी तो पहाड़े सीख रही है। आगे जोड़-बाकी सिखाएंगी। अब अच्छा लग रहा है। पहले एक ही मेडम थी इसलिए पढ़ाई नहीं हो पाती।

Read More: पत्रिका अभियान 'नींव शिक्षा का सवाल'

पहले खुद स्कूल जाती, फिर बच्चों को पढ़ाती

शहीद निर्भय सिंह राजकीय स्कूल में बुधवार को महिमा सिसोदिया पहुंची। सिसोदिया ने कक्षा तीन के छात्रों को पहाड़े सीखाएं। सबसे बड़ी बात है कि महिमा स्वयं 12वीं कक्षा में विज्ञान-गणित में पढ़ती है। वह 12.30 बजे स्कूल से आने के बाद सीधे बेग रख स्कूल आ जाती है। 

महिमा ने बताया कि एक डेढ़ घंटा पढ़ाने के लिए समय निकालना कोई बड़ी बात नहीं है। लेकिन यह पुण्य का काम है। वहीं महिमा के भाई हिमांशु भी यहां छात्रों को अंग्रेजी पढ़ाने पहुंचे है। बुधवार को ही कॉलोनी में रहने वाले तिलकराज सिंह गुर्जर भी पत्रिका में छपी खबर पढ़कर स्कूल पहुंचे। पहले में बुजुर्गों की सेवा के लिए बैंक,लेकिन यह उससे बड़ा पुण्य का काम है। 

Read More: सड़क पर लगी क्लास, थाली बजाकर सरकार को जगाया

प्रथम दिन छात्रों को पर्यावरण विषय पढ़ाया। तीन दिन यहां सेवानिवृत प्रिंसीपल रामकन्या चन्द्रसेना बच्चों को हिन्दी पढ़ा रही है। अब यहां स्कूल की संस्थाप्रधान रीना नागर सहित पांच शिक्षक हो गए है। शिक्षादाताओं की मेहनत रंग ला रही है इससे छात्रों की नींव जरुर मजबूत होगी। यदि आप भी  नींव शिक्षा के अभियान से जुडऩा चाहते है तो 9413980981 पर सूचना देकर जुड़ सकते हैं। 

rajasthanpatrika.com

Bollywood