Video : मानसरोवर में डबल मर्डर की गुत्थी सुलझी,पूरा मामला जानकर आप भी हो जाएंगे दंग

Patrika news network Posted: 2017-03-20 08:03:11 IST Updated: 2017-03-20 11:06:39 IST
  • मानसरोवर में चर्चित रहे होटल मालिक पिता-पुत्र के मर्डर की गुत्थी सुलझाते हुए पुलिस ने महिला सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।

जयपुर

मानसरोवर में चर्चित रहे होटल मालिक पिता-पुत्र के  मर्डर की गुत्थी सुलझाते हुए पुलिस ने महिला सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। घटना वाली रात आरोपित ने खुद के साथ लिव इन रिलेशन में रह रही महिला को सहमति से संबंध बनवाने भेजा था। 





इसी दौरान मासूम बेटी पर होटल मालिक के बेटे की बुरी नजर हत्या का कारण बनी।  उस रात पहले पुत्र सौरभ सक्सेना की हत्या की गई और बाद में पिता राजनारायण सक्सेना को मौत के घाट उतारा गया। 



सुबह उठकर खेत का हाल देख बेहोश हुआ किसान, कुएं में कूद जान देने पर आमद, समाज जनों ने मुश्किल से समझा बूझा कर किया शांत, देखें वीडियो





डीसीपी मनीष अग्रवाल ने बताया कि हत्याकांड में हाल मानसरोवर और मूलत: टोंक निवासी राकेश मीणा व करौली निवासी रमेश सैनी के साथ एक महिला को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार महिला करीब चार वर्ष से पति को छोड़ राकेश के साथ लिव-इन-रिलेशनशिप में मासूम बेटी के साथ रह रही थी। 





जबकि रमेश की मां राजनारायण के घर पर मजदूरी करने जाती थी। इसके कारण रमेश की राजनारायण और सौरभ से जान-पहचान हो गई थी। रमेश के जरिए राकेश की भी उनसे पहचान हो गई।




ऐसा क्या हुआ कि पत्नी की हत्या के आरोपित ने ले ली खुद की जान, 2 दिन क्यों रहा घर से गायब, पढ़े पूरी खबर



पैसे दिलाने की कहकर ले गया था 

पूछताछ में आरोपित राकेश ने बताया कि डेढ़ साल से सौरभ के संपर्क में था। सौरभ रुपए देकर लड़कियों को घर बुलाता था। रमेश 10 मार्च की शाम छह बजे महिला, उसकी बेटी को लेकर सौरभ के पास पहुंचा। राकेश भी उसके साथ आया।  रुपए आने के लालच में सौरभ व रमेश के साथ राकेश ने भी शराब पी। फिर महिला को सौरभ के साथ ऊपर वाली मंजिल पर भेज दिया।




बेटी नहीं मिली तो तलाशा, देखा तो...

राकेश ने बताया कि रात करीब साढ़े ग्यारह बजे उसी के पास बैठी महिला की मासूम बेटी नजर नहीं आई तो उसे तलाशा। तलाशते हुए तीसरी मंजिल पर पहुंचा तो वहां पर सौरभ बेटी के साथ आपत्तिजनक स्थिति में मिला। 




इतने दबाव में नहीं कराएं काम, सरकार दे स्टाफ, सुसाइड नोट में बैंककर्मी ने बयां किया दर्द




यह देख उसे गुस्सा आ गया और फिर उससे मारपीट करते हुए दूसरी मंजिल तक ले आया। यहां पर रमेश के साथ मिलकर उसकी हत्या कर दी। आवाज सुनकर राजनारायण चिल्लाने लगा तो राकेश व रमेश ने उसकी भी हत्या कर दी। फिर घर खंगालकर भाग गए।




दो दिन तक हलचल नहीं हुई तो फिर पहुंचे

पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि 10 मार्च की रात को हत्या करने के बाद 14 मार्च तक कोई हलचल नहीं हुई। इस पर 14 मार्च की दोपहर को फिर घर पहुंचे। वहां पर दोनों को शव जैसे छोड़कर गए, वैसे ही पड़े मिले। 



घर से जेवर, एलसीडी, पांच मोबाइल और अन्य सामान समेट राकेश व महिला तो वृंदावन चले गए, जबकि रमेश करौली चला गया। वृन्दावन  से दोनों शनिवार को करौली और रविवार को जयपुर पहुंचे। यहां पहुंचने पर पुलिस ने उनको पकड़ लिया।





Video: आखिर, पुलिस के हत्थे चढ़ी महंगी शराब चुराने वाली गैंग, 3 आरोपी गिरफ्तार तो 3 हैं फरार


वृन्दावन से पूछा, 'अखबार में क्या छपा है '

14 मार्च की रात से वारदात का पता चलने के बाद पुलिस हत्यारों की तलाश में जुटी थी। मजदूरों से पूछताछ करने पर पता चला कि राकेश ने मानसरोवर में रह रहे एक साथी मजदूर को फोन कर पूछा कि हत्या के बारे में अखबार में क्या छपा है।




 इसके बाद टीम में शामिल बहादुर ङ्क्षसह व अन्य आरोपितों की लोकेशन अपने साथी पुलिसकर्मियों को बताते गए। आरोपितों के जयपुर पहुंचते ही उनको पकड़ लिया गया।




वीडियो: आखिरकार पकड़ा गया पत्नी का ह्त्यारा पति, किए थे पत्नी पर चाकू से कई वार, पुलिस ने बरामद किए चाकू और मोटरसाइकिल



पुलिस ने कहा, बचने के लिए

उधर, पुलिस ने कहा कि मासूम बालिका से दुष्कर्म के प्रयास के आरोप के बाद अब सत्यता जांचने के लिए बालिका का मेडिकल करवाया जाएगा। पुलिस का दावा है कि आरोपितों ने लूट की नीयत से ही साजिश रच पिता-पुत्र की हत्या की।




आरोपित ने कहा हत्या तो कर ही दी थी...

वहीं आरोपित राकेश का कहना है पिता-पुत्र की हत्या तो कर ही दी थी। उसके पास पैसे भी नहीं थे। इसलिए घर से कीमती सामान भी ले गए। पुलिस उसके लगाए गए आरोपों व बालिका के असली पिता (महिला का पहले वाला पति या फिर राकेश )की भी पड़ताल कर रही है।




जहर खाने के 3 दिन बाद हुई महिला की मौत, ग्रामीणों ने किया हंगामा, आखिर क्या हुआ ऐसा जानें..

rajasthanpatrika.com

Bollywood