SMS में नर्सेस के धरना का 42 वां दिन, मांगों को लेकर हंगामा, कामबंदी; हुई मरीजों को दिक्कत

Patrika news network Posted: 2016-11-30 14:23:22 IST Updated: 2016-11-30 14:23:22 IST
SMS में नर्सेस के धरना का 42 वां दिन, मांगों को लेकर  हंगामा, कामबंदी; हुई मरीजों को दिक्कत
  • सबसे बड़े एसएमएस अस्पताल में नर्सेस व कंप्यूटर ऑपरेटर्स ने बुधवार को भी काम छोड़ दिया। अपनी विभिन्न मांगों को लेकर वे परिसर में ही धरने पर बैठे...

जयपुर.

राजस्थान के सबसे बड़े एसएमएस अस्पताल में नर्सेस व कंप्यूटर ऑपरेटर्स ने बुधवार को भी काम छोड़ दिया। अपनी विभिन्न मांगों को लेकर वे परिसर में ही धरने पर बैठे हैं। इसी बीच एक डॉक्टर द्वारा ऑपरेटर्स के साथ अभद्रता की गई तो एक-एक कर सभी कंप्यूटर ऑपरेटर्स काम छोड़कर बाहर आ गए..


धरना जारी, 42 से कर कर रहे यह मांग

नर्सेस का आरोप है कि उनके वेतन की विसंगतियां दूर नहीं की जा रहीं। इसके अलावा उनकी अन्य मांगें भी पूरी नहीं हो सकी हैं। बता दें कि, कुछ नर्सिंगकर्मियों को धरने पर बैठे 42 दिन हो चुके हैं। कई की तबीयत खराब होने पर उन्हें इसी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।


वहीं, आपरेटर्स व डॉक्टरों के बीच बुधवार दोपहर जमकर कहासुनी हुई। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, डॉक्टर ने एक कंप्यूटर ऑपरेटर के साथ दुव्र्यवहार किया। जिसके चलते कई महिलाएं एकत्रित हों गई। एक-एक कर कई ऑपरेटर्स परिसर में विरोध करने लगे।


मरीजों को हुई दिक्कतें

जब अस्पताल में हंगामा होने लगा तो यहां भर्ती मरीजों को भी दिक्कत हुई। झगड़े की आपाधापी में मरीजों को पर्ची काटने व अन्य कार्यों में बाधा आ गई हैं। अस्पताल प्रबंधन ने ऑपरेटर्स को मनाने का प्रयास किया।


Read: मांगें पूरी न होने पर नर्सेस ने किया बहिष्कार, मरीज भटकते रहे इधर-उधर

rajasthanpatrika.com

Bollywood