पेपर लीक प्रकरण: सस्पेंड हुआ प्रोफ़ेसर तो खोल डाली यूनिवर्सिटी में पर्दे के पीछे की 'जालसाज़ी'

Patrika news network Posted: 2017-04-21 09:29:15 IST Updated: 2017-04-21 09:29:46 IST
पेपर लीक प्रकरण: सस्पेंड हुआ प्रोफ़ेसर तो खोल डाली यूनिवर्सिटी में पर्दे के पीछे की 'जालसाज़ी'
  • एक मामले में सस्पेंड हुए इस एसोसिएट प्रोफेसर ने ही एसओजी को पेपर लीक करने वाले इस गिरोह के बारे में खुलासा किया है। इस प्रोफेसर ने एसओजी को एक मेल कर शिकायत भी की थी।

जयपुर।

राजस्थान विश्वविद्यालय के एक सस्पेंड एसोसिएट प्रोफेसर ने विश्वविद्यालय के पेपर लीक प्रकरण का मामला खुलवा दिया। इसी प्रोफेसर ने भूगोल विभाग के कई और भी शिक्षकों की शिकायत एसीबी में पहले से ही कर रखी हैं, जिसमें भूगोल विभाग में प्रेक्टिकल के नाम पर फर्जी एक्सट्रा क्लास लगाकर लाखों रूपए का भ्रष्टाचार करने की शिकातय एसीबी को पहले ही दे रखी हैं। 


अगर इस मामले की भी जांच हुई तो पेपर लीक प्रकरण में गिरफ्तार राजस्थान विश्वविद्यालय के भूगोल विभाग के एचओडी प्रोफेसर जेपी जाट के अलावा विभाग के करीब आधा दर्जन से अधिक शिक्षकों का भी राज खुल सकता हैं, जिसमें लाखो रूपए का भ्रष्टाचार करने के मामले में कई रिटायर्ड प्रोफेसर भी एसआेजी की जांच के दायरे में आ सकते हैं। 


एसओजी पेपर लीक प्रकरण के मामले में प्रोफेसर जाट से पूछताछ करने के बाद अतिरिक्त कक्षाओं के फर्जीवाड़े के बारे में भी खुलासा कर सकती हैं। सूत्रों की माने तो एक मामले में सस्पेंड हुए इस एसोसिएट प्रोफेसर ने ही एसओजी को पेपर लीक करने वाले इस गिरोह के बारे में खुलासा किया है। 


READ: जानें एक्ज़ाम से पहले स्टूडेंट्स तक पेपर पहुंचने तक का सच



इस प्रोफेसर ने एसओजी को एक मेल कर शिकायत भी की थी। इसी सस्पेंड प्रोफेसर ने गिरफ्तार हुए विश्वविद्यालय के शिक्षकों व कर्मचारियों का नाम एसओजी को बताया था। एसआेजी को मेल से शिकायत मिलने बाद एसओजी के एक अधिकारी ने मामले को गंभीरता से लिया और इस प्रोफेसर से बुलाकार करीब आधा घंटे से अधिक समय तक पर्सनल मुलाकात की। 


इसके बाद एसओजी ने शिकायत से संबंधित तथ्य जुटाए और कार्रवाई करने में जुट गए। इस शिकायत के बाद से ही एसओजी ने सबके फोन को सर्विलांस पर लेकर शिकायत की पुष्टि कर ली और सबूत जुटाकर पेपर लीक करने के मामले में अब तक 15 शिक्षकों व कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया हैं। 


READ: एक्जाम स्टार्ट होने से पहले ही ये रैकेट करता था राजस्थान में पेपर लीक



फिलहाल एसओजी अभी भी विश्वविद्यालय के आधा दर्जन से अधिक शिक्षकों व कर्मचारियों से पूछताछ करने में लगी हुई हैं। राजस्थान विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक डॉ. बीएल गुप्ता से भी पूछताछ की जायेगी जिसके बाद पेपर लीक प्रकरण में कुछ ओर लोगों की गिरफ्तारी संभव हो सकती हैं।

rajasthanpatrika.com

Bollywood