राजस्थान में बंद हो गए 20 हजार स्कूल: विधायक; जवाब में शिक्षा मंत्री ने कहा-एक भी बंद नहीं किया, बल्कि क्रमोन्नत करेंगे

Patrika news network Posted: 2017-03-17 13:38:23 IST Updated: 2017-03-17 13:41:18 IST
राजस्थान में बंद हो गए 20 हजार स्कूल: विधायक; जवाब में शिक्षा मंत्री ने कहा-एक भी बंद नहीं किया, बल्कि क्रमोन्नत करेंगे
  • विधानसभा में विधायक ने जवाब सुनकर कहा- फिर तो पूरे राज्य का सर्वे कराओ, जहां ज्यादा हैं वहां बंद कर दो...

जयपुर.

देश के सबसे बड़े राज्य राजस्थान में 20 हजार स्कू ल बंद कर दिए गए हैं। शुक्रवार को विधानसभा में प्रश्नकाल में कोलायत विधायक भंवरसिंह ने एक पूरक प्रश्न के दौरान यह चर्चा शुरू की तो शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी का जवाब चौंका देने वाला रहा।


देवनानी ने कहा कि राज्य में एक भी स्कू ल को बंद नहीं किया गया है बल्कि स्कू लों की मर्जिंग की गई है। प्रश्नकाल में कोलायत विधायक के स्कूलों को क्रमोन्नत करने संबंधी सवाल पर शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी ने यह भी कहा कि स्कू  लों की क्रमोन्नति के लिए न्यूनतम छात्र संख्या का मापदंड है।


2001 के एक नोटिफिकेशन में तत्कालीन सरकार ने न्यूनतम 50 संख्या होने पर स्कू ल क्रमोन्त करने के निर्देश दिए थे जबकि इस बजट में मुख्यमंत्री ने यह संख्या 40 कर दी है। उन्होंने कहा कि विभाग शिक्षा का विभाग है वेतन देने वाला विभाग नहीं है।


भंवरसिंह ने क्षेत्र के खारिया पतवान, देवड़ों की ढाणी, गज्जेवाला, भूरासर, जग्गासर, संतोषनगर, खाखूसर, नांदड़ा, सेवड़ा, राववाला, फूलासर बड़ा और स्वरूपदेसर, रणजीतपुरा और चारणवाला में विधालय क्रमोन्नत करने का सवाल किया। वहीं उन्होंने कहा कि गांवों में निकट में 20-20 किलोमीटर तक कोई विद्यालय नहीं है। एेसे में इन्हें क्रमोन्नत किया जाए। वहीं जब देवनानी ने पिछली सरकार से आंकड़ों से तुलना की तो सत्तापक्ष के ही विधायक ने कहा कि उन्होंने अपने किए का फल भुगत लिया अब आप अपनी बात करो।


फिर तो पूरे राज्य का सर्वे कराओ और ज्यादा है जहां बंद करो

निवाई विधायक हीरालाल ने क्षेत्र के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के क्रमोन्नयन का सवाल किया। चिकित्सा मंत्री ने कहा संसाधन होने पर गुणवगुण के आधार पर क्रमोन्यन किया जाएगा। इस पर पूरक प्रश्न में विधायक ने कहा कि जब संसाधन की बात कर दी तो आगे क्या कहूं। जवाब में चिकित्सा मंत्री ने कहा कि क्षेत्र में स्वीकृत संख्या से अधिक केंद्र खुले हुए हैं। इस पर


Read: राजस्थान में ईंट-भट्टों से फैल रहा प्रदूषण, श्रम मंत्री ने कहा- यह दूसरे विभाग का मामला, मेरे का नहीं'

विधायक ने कहा कि फिर तो पूरे राज्य का सर्वे करवाया जाए और जहां अधिक हैं वहां बंद किए जाएं। उन्होंने कहा कि गुणावगुण के आधार पर और क्रमोन्नयन किए जाएंगे। हीरालाल ने पूरक प्रश्न में कहा कि झिलाई गांव में 1967 में जो स्थिति थी 50 साल बाद भी उसमें सुधार नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि सदन में मंत्री झिलाई के स्वास्थ्य केंद्र को क्रमोन्नत करने की घोषणा करें।


आईटीआई और कॉलेज की मांग

प्रश्नकाल में गंगापुर विधानसभा क्षेत्र के वजीरपुर में राजकीय महाविद्यालय खोलने और उपखंड मुख्यालय भीमयाणा में आईटीआई खोलने की मंशा पूछी गई। इस पर उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी और श्रम मंत्री जसवंत यादव ने कहा कि गुुणावगुण के आधार पर खोले जाएंगे। यादव ने कहा कि अगले वित्त वर्ष तक हर पंचायत मुख्यालय में आईटीआई खोली जाएगी।


Read: राजस्थान विधानसभा सत्र 5 दिन बाद फिर शुरु, CM की ओर से पेश किए गए बजट पर हो रही है यूं चर्चा

rajasthanpatrika.com

Bollywood