Breaking News
  • अलवर- नीमली गांव में तिजारा अवैध खनन के खिलाफ कार्रवाई के दौरान पुलिस पर पथराव, 6 बाइक और 2 कम्प्रेशर सहित ट्रैक्टर जब्त, 4 गिरफ्तार
  • जोधपुर: एसीबी ने रिश्वत लेते पटवारी को पकड़ा, पटवारी ने फेंके रुपए
  • झुंझुनू: नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने 6.21 किलो अफीम के साथ दो लोगों को किया गिरफ्तार
  • जयपुर- चिकित्सा विभाग की ओर से बुधवार को सुबह 8 बजे से होगी तम्बाकू रोकथाम जनजागृति मैराथन दौड़
  • केकड़ी- ग्रामीणों की सजगता से बची 5 मोरों की जान
  • जालोर- सांचोर के डेडवा शरद में पकड़ा गया शराब से भरा ट्रक
  • जयपुर : नए खुलने वाले सात मेडिकल कॉलेजों में 711 पदों को मंजूरी
  • जयपुर : मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत प्रदेश में 411 पदों पर होंगी भर्तियां
  • बीकानेर : कैसीनो पर पुलिस का छापा, चार जनों को दबोचा
  • बीकानेर : पायलट का दावा... भाजपा को ज्यादा अंतर से हराएंगे, आप का कुछ नहीं
  • उदयपुर-जावरमाइंस : दुर्घटना में महिला की मौत, ग्रामीणों ने किया थाने का घेराव, नहीं उठाया शव
  • जयपुर: हाईकोर्ट ने मुख्य सचिव से रंगे हाथ पकडे जाने वालों को बर्खास्त नहीं करने पर मांगा स्पष्टीकरण
  • जयपुर- मुहाना में युवती का गला रेत कर हत्या, देर रात की घटना
  • कोटा एसपी भी हटे और पूरा थाना लाइन हाजिर हो, भाजपा विधायक चंद्रकांता मेघवाल अड़ी
  • जयपुर- डिस्कॉम ने लागू की कृषि कनेक्शन पर घटी बिजली दरें
  • अजमेर- महिला कांस्टेबल आत्महत्या मामले में पीसांगन SHO लाइन हाजिर
  • हनुमानगढ़- दोस्त की हत्या का आरोपी गिरफ्तार, आज होगा कोर्ट में पेश, 3 फरवरी को खेत में मिली थी लाश
  • जयपुर- करणी विहार पुलिस थाना क्षेत्र में 60 लाख की हरियाणा निर्मित शराब पकड़ी, ट्रक में हरियाणा से गुजरात ले जाई जा रही थी शराब
  • अलवर- स्कूलों में होगी मिड-डे मील की जांच, अधिकारी आज दूसरे दिन भी स्कूलों में जाकर करेंगे निरीक्षण
  • सूरतगढ़( श्रीगंगानगर)- जिला बनाने की मांग को लेकर आज सूरतगढ़ बंद, राजियासर,बीरमाना, जैतसर मंडी भी रहेगी बंद
  • जयपुर- NH 8 पर दूदू के पास पालू गांव में कार की चपेट में आने से टोल कर्मचारी की मौत, देर रात की घटना
  • उदयपुर- भूकंप से 90 घंटे पहले जारी हो सकेगा अलर्ट, भूवैज्ञानिक गोविंद सिंह भारद्वाज ने तैयार की चेतावनी प्रणाली
  • जयपुर- सांगानेर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के सामने मिला भ्रूण, सांगानेर पुलिस जुटी जांच में
  • अलवर- केंद्रीय पर्यटन मंत्री महेश शर्मा आज बहरोड़ में, एक कार्यक्रम में करेंगे शिरकत
  • जयपुर- करधनी थाना पुलिस ने दस किलो गांजे के साथ एक व्यक्ति को पकडा, बाढ पीथावास में बेचने के लिए घूम रहा था आरोपी
  • झालावाड़- सरेड़ी में खेत में पिलाई करते किसान की करंट लगने से मौत
  • जयपुर- बर्तन ठीक करने के बहाने तीन महिलाओं ने सास-बहू को चकमा देकर उड़ाए जेवरात, मुहाना थाना पुलिस जुटी जांच में
  • भीलवाड़ा- टेक्सटाइल पॉलिसी पर मेवाड़ चेम्बर भवन में कार्यशाला आज
  • राजसमंद- देवगढ़ में व्यक्ति ने लगाई फांसी
  • कोटा- भूखंड निरस्त करने का मामला, विभिन्न समाजों के प्रतिनिधि आज जयपुर में मुख्यमंत्री से मिलेंगे
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

राज्य कैबीनेट का फैसला: अब लिखित करार के बाद ही किराएदारी

Patrika news network Posted: 2016-11-29 21:00:01 IST Updated: 2016-11-29 21:00:01 IST
राज्य कैबीनेट का फैसला: अब लिखित करार के बाद ही किराएदारी
  • राज्य में अब लिखित करार के बिना किराएदार नहीं रखे जा सकेंगे। राज्य सरकार ने राजस्थान रेंट एक्ट (किराएदारी कानून) 2001 में संशोधन कर दिया है।

जयपुर।

राज्य में अब लिखित करार के बिना किराएदार नहीं रखे जा सकेंगे। राज्य सरकार ने राजस्थान रेंट एक्ट (किराएदारी कानून) 2001 में संशोधन कर दिया है। पहले यह कानून 44 शहरों में था, लेकिन अब प्रदेश के सभी शहरी क्षेत्रों में लागू होगा। संशोधन के बाद एसडीएम को रेंट अथॉरिटी बनाया गया है। मकान मालिक व किराएदार को रेंट अथॉरिटी के यहां रजिस्टे्रशन कराना जरूरी होगा। राज्य कैबीनेट ने मंगलवार को किराएदारी कानून संशोधन का अनुमोदन कर दिया।


कैबीनेट बैठक के बाद संसदीय कार्यमंत्री राजेंद्र राठौड़ ने बताया कि राज्य में एक अप्रेल 2003 से रेंट कंट्रोल एक्ट 2001 लागू हुआ था। यह प्रदेश के 44 शहरी क्षेत्रों में लागू था, लेकिन संशोधन के बाद राज्य के सभी शहरी क्षेत्रों में लागू होगा। संशोधन में एसडीएम को रेंट अथॉरिटी बनाते हुए उसे रेंट ट्रिब्यूनल वाले अधिकार दिए गए हैं। इसके लिए जल्द आर्डिनेंस जारी होगा।


राशि का प्रावधान हटाया-

राठौड़ ने बताया कि रेंट कंट्रोल एक्ट में नगर निगम क्षेत्र में सात हजार या अधिक, अन्य संभाग मुख्यालयों पर चार हजार या अधिक तथा अन्य शहरों में दो हजार या अधिक किराए का प्रावधान था। संशोधन में राशि के इस प्रावधान को हटा दिया गया है। अब सभी प्रकार की राशि के किरायों के मामले यह कानून लागू होगा। इससे किराए के विवाद काम होंगे।


एक महीने का एडवांस किराया -

राठौड़ ने बताया कि एक्ट संशोधन के अनुसार किराएदार से एक माह का किराया एडवांस में लिया जा सकेगा। सहमति के आधार पर किराया घटाया या बढ़ाया भी जा सकेगा। किराएदार व मकान मालिक को सौ रुपए के स्टांप पर किराएनामे की रजिस्ट्री करवानी होगी। परिवाद पेश करने की फीस भी 100 रुपए ही है।


लीज पर किराए में लागू नहीं होगा -

राठौड़ ने बताया कि किराया कानून ग्रामीण क्षेत्रों में लागू नहीं होगा। शहरी क्षेत्रों के सभी आवासी व कामर्शिलय किराएदारी के मामलों में लागू होगा। हालांकि यह वाणिज्यिक क्षेत्रों में लीज रेंट के मामलों में लागू नहीं होगा।


बेदखली के अधिकार नहीं -

राठौड़ ने बताया कि एसडीएम को एक्ट में दिए गए रेंट अथॉरिटी के सभी अधिकार होंगे, लेकिन उसे किराएदार की बेदखली का अधिकार नहीं होगा। बेदखली के मामले में पूर्व की भांति रेंट अथॉरिटी ही देंगे। 

rajasthanpatrika.com

Bollywood