Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

जयपुर में ऑनर किलिंग: प्रेम विवाह से खफा माता-पिता शूटर लेकर पहुंचे बेटी के ससुराल, दामाद की हत्या

Patrika news network Posted: 2017-05-17 20:31:38 IST Updated: 2017-05-17 20:31:38 IST
जयपुर में ऑनर किलिंग: प्रेम विवाह से खफा माता-पिता शूटर लेकर पहुंचे बेटी के ससुराल, दामाद की हत्या
  • शहर के करणी विहार थाना क्षेत्र की जगदम्बा विहार कॉलोनी में बुधवार सुबह ऑनर किलिंग की वारदात ने जन मानस को सिहरा दिया। प्रेम विवाह से खफा माता-पिता शूटर लेकर बेटी के ससुराल पहुंचे, जहां शूटर ने गोली मारकर दामाद की हत्या कर दी।

जयपुर।

 शहर के करणी विहार थाना क्षेत्र की जगदम्बा विहार कॉलोनी में बुधवार सुबह ऑनर किलिंग की वारदात ने जन मानस को सिहरा दिया। प्रेम विवाह से खफा माता-पिता शूटर लेकर बेटी के ससुराल पहुंचे, जहां शूटर ने गोली मारकर दामाद की हत्या कर दी। बेटी बिलखती रही और माता-पिता शूटर को कार में बैठाकर फरार हो गए।


हत्या का शिकार सिविल इंजीनियर अमित नायर (27) जगदम्बा विहार कॉलोनी में पत्नी ममता व मां के साथ रहता था। झाडख़ंड मोड़ के पास गणेश कॉलोनी निवासी रिटायर्ड सैन्यकर्मी जीवनराम चौधरी की पुत्री ममता से उसने प्रेम विवाह किया था। पुलिस व प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार सुबह करीब 7.30 बजे घर के बाहर कार आकर रुकी। 


ममता के पिता जीवनराम और मां भगवतीदेवी एक युवक के साथ कार से निकले और सुलह कराने के नाम पर घर के भीतर पहुंचे। पीछे एक युवक कार में बैठा रहा। कुछ देर बाद घर में फायरिंग की आवाज आई, जिस पर सामने रहने वाले यादव परिवार के लोग बाहर आ गए। तब ममता ड्रॉइंग रूम में खड़ी होकर चिल्ला रही थी और उसके माता-पिता व युवक कार की ओर बढ़ रहे थे। पड़ोसियों ने उन्हें रोकना चाहा तो युवक ने पिस्तौल तान दी। अगले ही पल तीनों कार में बैठे और भाग गए।


पति को छोडऩे का बना रहे थे दबाव

अमित ने दो साल पहले ममता से प्रेम विवाह किया था लेकिन ममता के परिजन इससे नाखुश थे। ममता का कहना है कि दूसरी जाति में शादी करने के कारण परिजन उसे प्रताडि़त करते थे। उसका घर से ऑफिस तक पीछा कराते, पति से अलग होने का दबाव बनाते। जब-तब फोन कर सुलह की बात करते लेकिन धीरे-धीरे अपनी जिद पर आ जाते। दामाद को मार देने की धमकी दी और राह चलते हमला तक कराया। करणी विहार थाने में उन्होंने इसकी शिकायत भी दी थी। उसके गर्भवती होने पर भी उस पर दबाव बनाया जा रहा था। बुधवार सुबह भी वे सुलह के बहाने आए थे।


जयपुर में पहला मामला

ऑनर किलिंग की जयपुर में यह पहली वारदात मानी जा रही है। डीसीपी वेस्ट अशोक गुप्ता का कहना है कि वारदात में जिन लोगों का हाथ है, उन्हें पुलिस सरगर्मी से तलाश रही है। तुरन्त पूरे शहर में नाकाबंदी कर दी गई। समीपवर्ती जिलों में भी संबंधित कार और आरोपितों की तलाश की जा रही है।


सुलह के बहाने दामाद को जगाया, फिर बेटी के आड़े खड़े हो मौत से मिलवा दिया

पीडि़ता ममता ने पुलिस को बताया कि माता-पिता घर में घुसते ही बोले दामाद से तो मिलवाओ। इस पर वह अमित को जगाकर बाहर लाई तो माता-पिता के साथ आए युवक ने पति को बातों में उलझा लिया। पिता इस तरह उसके आड़े आ गए कि वह युवक व पति के बीच क्या हो रहा है, यह देख नहीं पाई। अचानक युवक ने जेब से पिस्तौल निकाली और तीन फायर कर दिए। 


पहली गोली अमित के कान के पास, दूसरी पेट में लगी। इसके बाद अमित सोफे पर गिर पड़ा। इस बीच कार में बैठा युवक दौड़कर भीतर आया और ममता को घसीटकर ले जाने लगा। माता-पिता भी उसे खींचने लगे। उसने जैसे-तैसे खुद को छुड़ाया और चिल्लाने लगी। इस पर हमलावर भाग गए।


बहू को पलकों पर बैठाया मगर...

अमित के पिता का निधन हो चुका है। वह दो साल पहले ही जगदम्बा विहार कॉलोनी स्थित नए मकान में शिफ्ट हुआ था और मां व पत्नी ममता के साथ रह रहा था। घटना के बाद अमित की मां का रो-रोकर बुरा हाल था। बार-बार यही क रही थी कि मेरा तो बेटा चला गया। वह ही हमारा आसरा था। हम तो उसी को देखकर जिंदा थे। कितने अरमान से शादी कराई थी। बहू को पलकों पर बैठाकर रखा। अब बेटे को धोखे से मार डाला। ममता के एक भाई भी है लेकिन वह चलने-फिरने में असमर्थ है।


पड़ोसियों ने दिखाई हिम्मत मगर रोक नहीं पाए

सामने रहने वाली सोना देवी और उनके बेटे विकास यादव ने हमलावरों को रोकने का प्रयास किया लेकिन शूटर ने पिस्तौल तान दी। हालांकि इसके बावजूद सोनादेवी ने लकड़ी उठाकर रोकने का प्रयास किया लेकिन हमलावर भाग छूटे। पड़ोसियों-परिजनों का कहना था कि जिंदादिल अमित सबकी मदद करता था। कहीं पशु-पक्षी को घायल देखता तो घर ले आता और सेवा करता। लोगों को झगड़ते देखता तो बीच-बचाव करता।

rajasthanpatrika.com

Bollywood