Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

फर्जी दस्तावेजों पर इंडिया आए जर्मन ट्यूरिस्ट की जेल से छूटकर जाने की कोशिश जयपुर में नाकाम हुई

Patrika news network Posted: 2017-06-14 18:00:43 IST Updated: 2017-06-14 18:00:43 IST
फर्जी दस्तावेजों पर इंडिया आए जर्मन ट्यूरिस्ट की जेल से छूटकर जाने की कोशिश जयपुर में नाकाम हुई
  • आरोपित 14 जून तक पुलिस रिमांड पर थे, पुलिस ने तीनों आरोपितों को कोर्ट में पेश किया। अदालत ने कहा नहीं छोड़ सकते...

जयपुर.

ट्यूरिस्ट वीजा पर भारत आए विदेशी पर्यटक नूरी सैयद अहमद शाह, दलाल शहजाद खान और रिटायर्ड मेल नर्स विनोद सक्सैना की बुधवार को सीएमएम कोर्ट में जज अजय गोदारा ने जमानत अर्जी खारिज कर दी।


विदेशी पर्यटक समेत तीनों की जमानत अर्जी खारिज

तीनो आरोपित 14 जून तक पुलिस रिमांड पर थे, पुलिस ने तीनों आरोपितों को कोर्ट में पेश किया गया।

इस मामले में बचाव पक्ष के अधिवक्ता ने तीनों आरोपितों की जमानत अर्जी मंजूर करने की प्रार्थना करते हुए कहा कि आरोपित विदेशी पर्यटक है और हिन्दी-अंग्रेजी भाषा भी नहीं जानता है। किसी भी दस्तावेजों पर उसके हस्ताक्षर नहीं है, एेसे में इनको जमानत का लाभ दिया जाना चाहिए।


Read: कोई मजबूरी थी? अपने 2 बच्चों को लेकर कुएं में कूदी मां, पानी निकालती रही पुलिस

इस मामले में सीआईडी विशेष शाखा की ओर से इस मामले में मुकद्मा दर्ज करवाया गया था। मुख्य आरोपित जर्मन ट्यूरिस्ट ने वीजा अवधि बढ़ाने के लिए एसएमएस अस्पताल की फर्जी सील से मेडिकल सर्टिफिकेट बनवाया था। इसके बाद उसने सीआईडी विशेष शाखा में आवेदन किया, जहां जांच में अधिकारियों को शक होने के बाद सर्टिफिकेट जाली निकला।


Read: 'क्लीन इंडिया' के तहत जयपुर में सड़कें होंगी चमाचम, रोड स्वीपर और फ्यूम क्लीनर से होगी सफाई

rajasthanpatrika.com

Bollywood